Weight Loss Tricks: जब भी हो मीठा खाने की लालसा तो कैलोरी बढ़ाने की बजाय इन 5 फूड्स से करें अपनी स्वीट क्रेविंग को शांत

Weight Loss Tips: वजन कम करने की कोशिश करते हुए अपनी लालसा को कंट्रोल करना जरूरी है. अगर आपको आसानी से वजन कम करना है और अपनी वेट लॉस जर्नी को बिना बाधा के आगे बढ़ाना है तो यहां कुछ फूड्स हैं जिन्हें खा सकते हैं.

Weight Loss Tricks: जब भी हो मीठा खाने की लालसा तो कैलोरी बढ़ाने की बजाय इन 5 फूड्स से करें अपनी स्वीट क्रेविंग को शांत

Weight Loss: शुगर क्रेविंग एक डाइटर का सबसे बड़ा दुश्मन है.

खास बातें

  • शुगर क्रेविंग एक डाइटर का सबसे बड़ा दुश्मन है.
  • शुगर क्रेविंग शरीर में इंसुलिन के उत्पादन को बढ़ाती है.
  • अंडे प्रोटीन और हेल्दी फैट से भरे होते हैं, ये एक अच्छा विकल्प हैं.

Sugar Alternative For Weight Loss: वजन कम करने के लिए आपको अथक प्रयास की जरूरत है, लेकिन आपकी सारी मेहनत पर तब पानी फिर जाती है जब आप अपनी कुछ मीठा खाने की लालसा को शांत करने के लिए ऐसे चीजों का चुनाव कर लेते हैं जिनमें कैलोरी की मात्रा ज्यादातर होती है. शुगर क्रेविंग एक डाइटर का सबसे बड़ा दुश्मन है. कुछ मीठा खाने की अनियंत्रित इच्छा, विशेष रूप से देर रात के खाने के बाद, इतनी तीव्र होती है कि इसे टालना मुश्किल होता है. यह एक प्रमुख कारण है कि ज्यादातर लोगों को अपनी डाइट से चिपके रहने और कई किलो वजन कम करने में कठिनाई होती है. लालसा वास्तव में आपके मस्तिष्क से प्रेरित होती है और आप अपनी पसंदीदा मिठाई के एक बाइट के बाद भी खुद को रोक नहीं सकते हैं, लेकिन वजन कम करने की कोशिश करते हुए अपनी लालसा को नियंत्रित करना काफी ज्यादा जरूरी है. अगर आपको आसानी से वजन कम करना है और अपनी वेट लॉस जर्नी को बिना बाधा के आगे बढ़ाना है तो यहां कुछ फूड्स हैं जिन्हें आप अपनी शुगर क्रेविंग को शांत करने के लिए खा सकते हैं और इनसे आपका वजन भी नहीं बढ़ेगा.

शुगर क्रेविंग को कंट्रोल करने के लिए हेल्दी ऑप्शन | Healthy Options For Control Sugar Cravings

शुगर क्रेविंग शरीर में इंसुलिन के उत्पादन को बढ़ाती है. इसके साथ ही माना जाता है कि यह इंसुलिन स्पाइक्स डोपामाइन की रिहाई को ट्रिगर करता है, जो एक फील-गुड हार्मोन है. हैरानी की बात है कि शुगर वाले फूड्स केवल डोपामाइन लेवल को बढ़ाने का एकमात्र तरीका नहीं है. यह पाया गया है कि अमीनो एसिड टायरोसिन भी मस्तिष्क को डोपामाइन और एक अन्य न्यूरोट्रांसमीटर जारी करने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है.

इसका मतलब है कि आप अमीनो एसिड टायरोसिन से भरपूर भोजन करके शुगर की अपनी लालसा को नियंत्रित कर सकते हैं. यह आपको ट्रैक पर रखेगा और तेजी से किलो वजन कम करने में मदद करेगा. तो, अपनी रसोई में इन 5 अमीनो एसिड टायरोसिन युक्त फूड्स को पैक करें और जब आप अपनी लालसा को हरा नहीं सकते हैं तो इन्हें खाएं.

1. अंडे

अंडे प्रोटीन और हेल्दी फैट से भरे होते हैं और वजन घटाने के लिए सबसे अच्छे भोजन में से एक हैं. एक पूरा अंडा, चाहे वह पका हुआ हो या उबला हुआ, तृप्ति को बढ़ावा देता है और लालसा को रोकता है. अंडे में कैलोरी भी कम होती है, इसलिए आपको अपने कैलोरी काउंट के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं होगी. इसके अलावा, अंडे की जर्दी क्लोरीन के साथ पैक की जाती है, एक पोषक तत्व जो फैट बर्न वाले गुणों के लिए जाना जाता है. तो, देर रात के नाश्ते के लिए अंडे के लिए अपनी पेंट्री पैक करें.

 

2. डेयरी

दूध और पनीर दोनों प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन, खनिज और फैटी एसिड का एक उत्कृष्ट स्रोत हैं. यह आपको तुरंत ऊर्जा प्रदान कर सकता है, मस्तिष्क के कार्य में सुधार कर सकता है और आपकी लालसा को कम करेगा. डेयरी उत्पाद मधुमेह के खतरे को भी कम कर सकते हैं. एक अध्ययन के अनुसार, जो लोग बहुत अधिक वसा वाले डेयरी उत्पाद खाते हैं, उनमें डायबिटीज की घटना सबसे कम होती है.

3. तिल और मूंगफली

नट और बीज स्वस्थ वसा, फाइबर और प्रोटीन से भरे होते हैं, जो आपको पूर्ण और संतुष्ट महसूस कराने के लिए एक बेहतरीन कॉम्बो है. मूंगफली और तिल, विशेष रूप से, अमीनो एसिड टायरोसिन में उच्च होते हैं और उन्हें अपने डाइट में शामिल करना सबसे अच्छा है. तिल के बीज में जिंक, विटामिन बी 6 और मैग्नीशियम भी होते हैं, जबकि मूंगफली में बायोटिन, कॉपर, नियासिन, फोलेट, मैंगनीज शामिल हैं.

4. सोयाबीन

सोयाबीन संपूर्ण प्रोटीन का स्रोत है. यह एक टायरोसिन के साथ-साथ फेनिलएलनिन का एक उत्कृष्ट स्रोत है. टोफू और सोया दूध जैसे सोयाबीन से बना भोजन न केवल आपकी लालसा को कम कर सकता है बल्कि मांसपेशियों के ठीक होने की प्रक्रिया को भी तेज करेगा. छोटी फलियां शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम कर सकती हैं और हृदय को बीमारियों से बचा सकती हैं.

5. सेब

सेब में काफी मात्रा में अमीनो एसिड टायरोसिन होता है और यह डोपामाइन के स्तर को बढ़ाने के लिए जाना जाता है, जो अवसाद को दूर भगा सकता है. ये फल विटामिन सी, विटामिन के और पोटेशियम जैसे प्रमुख पोषक तत्वों की भी आपूर्ति करते हैं जो मेटाबॉलिज्म को तेज कर सकते हैं और वजन घटाने की प्रक्रिया का समर्थन कर सकते हैं.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Weight Loss करने के दौरान स्किन ग्लो खोने का है डर तो, इन कारगर ट्रिक्स को आजमाएं

 वजन घटाने के लिए ज्यादा नहीं बस इन 4 चीजों को रोजाना खाएं, पेट की चर्बी और बॉडी फैट भी होगा कम!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Fruit For Stress Relief: 8 फल जो मानसिक तनाव को दूर रखने में फायदेमंद हैं