शरीर में रहती है Swelling! तो सकती हैं ये 5 Disease, जानें सूजन के 5 खतरनाक कारण और जोखिम

Causes Of Swelling: वहीं गठिया या अल्जाइमर जैसी बीमारियों में भी शरीर में सूजन हो सकती है. इसे क्रॉनिक इन्फ्लेमेशन कहा जाता है. ऐसे में यहां हम आपको शरीर में सूजन बढ़ाने वाली 5 बीमारियों के बारे में बता रहे हैं.

शरीर में रहती है Swelling! तो सकती हैं ये 5 Disease, जानें सूजन के 5 खतरनाक कारण और जोखिम

Causes Of Inflammation In Body: शरीर में सूजन हो सकती है इन गंभीर समस्याओं का कारण.

खास बातें

  • शरीर में सूजन कई बीमारियों का संकेत हो सकती है.
  • सामान्य सूजन मानकर इसे नजरअंदाज न करें.
  • यहां ऐसी बीमारियां हैं जिनकी वजह से शरीर में सूजन आ जाती है.

What Diseases Cause Swelling: जब हमारा शरीर किसी आक्रामक एजेंट (जैसे वायरस, बैक्टीरिया या जहरीले रसायन) का सामना करता है या किसी चोट का शिकार होता है, तो यह प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune System) को एक्टिव कर देता है. इम्यून सिस्टम इंफ्लेमेटरी सेल्स को बाहर भेजती है. ये सेल्स बैक्टीरिया और अन्य आक्रामक एजेंटों पर हमला करते हैं या क्षतिग्रस्त सेल्स को ठीक करने के लिए इंफ्लेमेटरी प्रोसेस शुरू करते हैं. इसके कारण दर्द, सूजन, चोट या लालिमा हो सकती है. वहीं गठिया (Arthritis) या अल्जाइमर (Alzheimer) जैसी बीमारियों में भी शरीर में सूजन हो सकती है. इसे क्रॉनिक इन्फ्लेमेशन (Chronic Inflammation) कहा जाता है. ऐसे में यहां हम आपको शरीर में सूजन बढ़ाने वाली 5 बीमारियों के बारे में बता रहे हैं.

गर्दन का कालापन और झुर्रियों को कुछ ही दिनों में दूर करेंगे ये उपाय, शाइनी बन जाएगी स्किन

inflammation complications: सूजन या तो अल्पकालिक या लंबे समय तक चलने वाली हो सकती है. एक्यूट इन्फ्लेमेशन (Acute Inflammation) कुछ घंटों या दिनों तक रहती है. जबकि पुरानी या क्लीनिक इन्फ्लेमेशन महीनों या वर्षों तक रह सकती है. क्रॉनिक इन्फ्लेमेशन का कारण (Cause Of Chronic Inflammation) कैंसर, दिल की बीमारी, मधुमेह, दमा, गठिया, अल्जाइमर रोग हो सकते हैं.

वे बीमारियां जिनकी वजह से सूजन होती है | Diseases That Cause Inflammation

1. अल्जाइमर रोग

न्यूरॉन्स यानी मस्तिष्क की कोशिकाएं जब क्षतिग्रस्त हो जाती हैं तो व्यक्ति में याददाश्त कमजोर होना, बातचीत करने में समस्या पैदा होना, मस्तिष्क का कार्य ना कर पाना जैसी परेशानी होती है. आमतौर पर यह समस्या ज्यादा उम्र के लोगों में देखी जाती है, लेकिन जिस प्रकार की लाइफस्टाइल हम जी रहे हैं उसके कारण किसी को भी यह समस्या हो सकती है. इस बीमारी में सूजन भी हो सकती है.

मानसून में गठिया के मरीजों का बढ़ जाता है दर्द, जानें कंट्रोल करने के 4 अद्भुत तरीके

2. गठिया

गठिया एक ऑटोइम्यून बीमारी है. इस बीमारी से कई समस्याएं होती हैं. इसमें जोड़ों में सूजन और दर्द की समस्या सबसे आम है. चलने-फिरने में परेशानी और जोड़ों में दर्द और गंभीर सूजन गठिया के प्रमुख लक्षण माने जाते हैं. गठिया में हाथ और पैरों में सूजन बहुत गंभीर रूप से होती है.

h56em968

Photo Credit: iStock

3. थायराइड

आयोडीन की कमी के कारण थायराइड की बीमारी में सूजन होती है. इसके अलावा दवाओं का बहुत ज्यादा सेवन, स्ट्रेस लेना, खानपान सही न होना भी इसका कारण हो सकता है. इस बीमारी में सूजन को कम करने के लिए घर पर मौजूद कई उपाय अपना सकते हैं. इसमें अदरक, अलसी के बीज, आयोडीन सप्लीमेंट्स, बादाम का सेवन फायदेमंद होता है.

आपकी 5 गतलियों की वजह से बढ़ जाती है हाथ, जांघ और पेट की चर्बी, फिर चाहकर भी नहीं घटा पाते हैं

4. दिल की बीमारी

पैरों, टखनों और तलवों में सूजन आने का कारण दिल की बीमारी से जुड़ा होता है. दरअसल, कई बार हार्ट में ब्लड का सर्कुलेशन ठीक तरह से ना होने की वजह से पैरों, टखनों और तलवों में सूजन आ जाती है. जब दिल कमजोर हो जाता है या फिर दिल काम करना कम कर देता है तब भी शरीर पर सूजन बढ़ने लगती है. इसलिए जब भी शरीर पर सूजन दिखे तो इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

5. डायबिटीज

मधुमेह यानी डायबिटीज का एक आम लक्षण पैरों में सूजन भी है. ब्लड शुगर का लेवल ज्यादा होने पर शरीर के विभिन्न हिस्सों में ब्लड सप्लाई बाधित हो जाती है. ये पैरों में सूजन का कारण बनता है. जब ज्यादातर समय किसी के भी पैरों में सूजन रहने लगे, तो उसको समझ जाना चाहिए कि उसे डायबिटीज की समस्या हो सकती है. उसे तुरंत ब्लड शुगर की जांच करवानी चाहिए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.