क्‍यों होता है पीरियड्स में दर्द, Menorrhagia के कारण बेइंतहा दर्द के साथ हर घंटे बदलने पड़ते हैं पैड, बढ़ जाता है खून का बहाव, कुछ भी करना लगता है बहुत मुश्‍किल, जानें सबकुछ

Menorrhagia Disease: मेनोरेजिया के साथ, आपका ब्लड फ्लो (Blood Flow) इतना भारी (heavy blood flow) होता है कि आपको कम से कम पूरे दिन के लिए हर एक घंटे अपना टैम्पॉन या पैड (menstrual pads or tampon) बदलना होता है. आपको क्रैम्स (Period Cramps) भी इतनी तेज होते हैं कि वे आपको अपनी सामान्य गतिविधियां करने से रोकते हैं.

क्‍यों होता है पीरियड्स में दर्द, Menorrhagia के कारण बेइंतहा दर्द के साथ हर घंटे बदलने पड़ते हैं पैड, बढ़ जाता है खून का बहाव, कुछ भी करना लगता है बहुत मुश्‍किल, जानें सबकुछ

Period problems: मेनोरेजिया के साथ, आपका ब्लड फ्लो भारी होता है.

खास बातें

  • मेनोरेजिया के साथ, आपका ब्लड फ्लो इतना भारी होता है
  • कम से कम पूरे दिन के लिए हर एक घंटे अपना टैम्पॉन या पैड बदलना होता है.
  • क्रैम्स इतने तेज होते हैं कि वे सामान्य गतिविधियां करने से रोक सकते हैं.

Why is my period so painful? पीरियड्स के दौरान कुछ महिलाओं में हैवी ब्लीडिंग (Heavy periods) होती है, कुछ मामलों में ये असामान्य ब्लीडिंग मेनोरेजिया (Menorrhagia) हो सकती है. मेनोरेजिया असामान्य रूप से हैवी या लंबे पीरियड्स (Abnormal Menstruation (Periods) के लिए एक मेडिकल टर्म है. कई महिलाओं को मासिक धर्म होने पर हैवी फ्लो और ऐंठन महसूस होती है. मेनोरेजिया के साथ, आपका ब्लड फ्लो (Blood Flow) इतना भारी (heavy blood flow) होता है कि आपको कम से कम पूरे दिन के लिए हर एक घंटे अपना टैम्पॉन या पैड बदलना होता है. आपको क्रैम्स (Period Cramps) भी इतनी तेज होते हैं कि वे आपको अपनी सामान्य गतिविधियां करने से रोकते हैं.

क्या है मेनोरेजिया के लक्षण- What Is Menorrhagia?

मेनोरेजिया में महिलाओं को इतनी ज्यादा ब्लीडिंग होती है कि उन्हें हर घंटे पैड या टैम्पॉन बदलने की जरूरत पड़ती है, इसके साथ ही कई महिलाओं में खून के थक्के आते हैं. हैवी ब्लीडिंग के साथ कम से कम सात दिनों तक पीरियड्स चलते हैं. इस दौरान अत्याधिक थकान रहती है और सांस लेने में भी दिक्कत महसूस हो सकती है. 

Emotional Eating: क्या है 'इमोशनल ईटिंग? और क्या है इसके नुकसान

rsh01df8

Menstrual cycle:  मेनोरेजिया में महिलाओं को इतनी ज्यादा ब्लीडिंग होती है.

मेनोरेजिया के कारण और रिस्क फैक्टर- Menorrhagia Risk Factor:


1. यूट्रस का बढ़ना : दरअसल यूट्रस की परत में जब पॉलीप्स बढ़ने लगता है तो इससे ज्यादा मात्रा में ब्लीडिंग होने लगती है. इसके अलावा यूट्रस में फाइब्रॉएड ट्यूमर होने के कारण भी महिलाओं को हैवी ब्लीडिंग हो सकती है. 

How To Increase Height: माता-पिता का कद है छोटा, बच्चों की Height को लेकर हैं परेशान, तो इन टिप्स को करें फॉलो तेजी से बढ़ेगी हाइट

2. कुछ आईयूडी : कई महिलाएं जन्म नियंत्रण के लिए एक छोटे अंतर्गर्भाशयी उपकरण (आईयूडी) का उपयोग करती हैं. यदि आपके आईयूडी में हार्मोन नहीं हैं, तो यह आपके पीरियड्स को भारी बना सकता है.

3. गर्भावस्था से संबंधित समस्याएं : दुर्लभ मामलों में, शुक्राणु और अंडे के मिलने के बाद, कोशिकाओं की बढ़ती हुई गेंद अंदर के बजाय गर्भाशय के बाहर खुद को प्रत्यारोपित करती है. इसे एक्टोपिक प्रेग्नेंसी कहते हैं. इससे गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि भारी रक्तस्राव, गर्भ का गिरना आदि.

4. कैंसर का खतरा : हैवी ब्लीडिंग की समस्या की कभी भी अनदेखी नहीं की जानी चाहिए, ये गर्भाशय कैंसर का लक्षण भी हो सकता है. हालांकि ऐसा रेयर केसेस में होता है. 

Bad Habits: ये 4 आदतें जो Weight Loss जर्नी में बन सकती हैं रुकावट, आज से इन्हें करें टाटा बाय-बाय

इन लक्षणों का सामने कर रही हैं तो आपको तुरंत अपनी गायनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करना चाहिए. आपकी समस्या और स्थिति को देखते हुए इसका उपचार किया जाता है. अलग-अलग मामलों में डॉक्टर अलग दवाओं का इस्तेमाल करते हैं.

How to Reverse Diabetes Naturally | कैसे करें डायबिटीज को रिवर्स, जानें एक्सपर्ट से

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.