Black Pepper With Ghee: घी के साथ काली मिर्च खाने से होते हैं आपको ये 7 जबरदस्त फायदे, सुबह खाली पेट खाएं तो बेहतर

Black Pepper With Ghee Benefits: काली मिर्च की हॉट कंजेशन को कम कर सकती है. सिर्फ खांसी का इलाज ही नहीं काली मिर्च और घी के स्वास्थ्य लाभों की लिस्ट काफी लंबी है. हल्दी, घी और काली मिर्च से आपको क्या लाभ होंगे यह जानने के लिए पढ़ते रहें.

Black Pepper With Ghee: घी के साथ काली मिर्च खाने से होते हैं आपको ये 7 जबरदस्त फायदे, सुबह खाली पेट खाएं तो बेहतर

Black Pepper With Ghee: घी और काली मिर्च से आपको क्या लाभ होंगे जानने के लिए पढ़ते रहें.

खास बातें

  • Black Pepper With Ghee: काली मिर्च की हॉट कंजेशन को कम कर सकती है.
  • काली मिर्च और घी के स्वास्थ्य लाभों की लिस्ट काफी लंबी है.
  • हल्दी, घी और काली मिर्च से आपको क्या लाभ होंगे यह जानने के लिए पढ़ते रहें

Benefits Of Black Pepper With Ghee: सर्दी का मौसम है और कोरोना महामारी भी चल रही है. इन दोनों स्थितियों में खांसी एक आम समस्या है. वैसे तो खांसी के इलाज के लिए कई दवाएं हैं, लेकिन आप घी और काली मिर्च की मदद भी ले सकते हैं. ड्राई कफ से राहत पाने के लिए एक चम्मच देसी घी में आधा चम्मच काली मिर्च मिलाकर खाएं. काली मिर्च की हॉट कंजेशन को कम कर सकती है. सिर्फ खांसी का इलाज ही नहीं काली मिर्च और घी के स्वास्थ्य लाभों की लिस्ट काफी लंबी है. बेहतर लाइफस्टाइल, नियमित व्यायाम और हेल्दी डाइट के साथ घी और काली मिर्च एक साथ आपके पाचन, इम्यूनिटी और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकते हैं. साथ ही अगर काली और घी के मिश्रण में हल्दी को मिलाया जाए तो यह स्वास्थ्य के लिए और भी कमाल कर सकता है. हल्दी, घी और काली मिर्च से आपको क्या लाभ होंगे यह जानने के लिए पढ़ते रहें.

घी के साथ क्यों करना चाहिए काली मिर्च का सेवन? | Why Should Black Pepper Be Consumed With Ghee?

1. इम्यूनिटी को मजबूत करने में सहायक

काली मिर्च और घी का सेवन इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने का काम करता है. सर्दी का मौसम है और कोरोना महामारी भी चल रही है. ऐसे समय में वायरस से लड़ने के लिए मजबूत इम्यून शक्ति का होना जरूरी है. इसके लिए आपको इस मिश्रण का नियमित सेवन करना चाहिए.

2. सूजन को कम करता है

शरीर में पुरानी सूजन से हृदय रोग, स्ट्रोक, कैंसर, डायबिटीज और ऑटोइम्यून रोग, जोड़ों का दर्द, गर्दन का दर्द और घुटने का दर्द हो सकता है. हल्दी, घी और काली मिर्च का मिश्रण सूजन और इन रोगों की घटनाओं को कम कर सकता है.

3. याददाश्त और मस्तिष्क के कार्य को बढ़ाता है

आपके मस्तिष्क के स्वास्थ्य में सुधार के लिए तीनों तत्व एक साथ अद्भुत हो सकते हैं. घी और काली मिर्च (जो रक्त प्रवाह में हल्दी में करक्यूमिन को अवशोषित करने में मदद करता है) में सही वसा के साथ हल्दी जैसे एंटी इंफ्लमेटरी मसाले का सेवन आपके मस्तिष्क के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है और अल्जाइमर, मनोभ्रंश और पार्किंसंस रोग के जोखिम को कम कर सकता है.

4. आंखों की रोशनी बढ़ाने में सहायक

घी के नियमित सेवन से आंखों की रोशनी बढ़ाई जा सकती है. इसके लिए देसी घी की कुछ बूंदों में काली मिर्च का पाउडर मिलाकर रोजाना सेवन करें. पैरों के तलवों में घी लगाने से भी आंखों की रोशनी कम हो सकती है. घी विटामिन ए का एक बेहतर स्रोत है जो किसी के समग्र स्वास्थ्य में सुधार करता है.

5. पित्ती के इलाज में सहायक

यह एक चर्म रोग है जिसमें रैशेज हो जाते हैं. इससे त्वचा पर लाल चकत्ते पड़ जाते हैं, जिसमें लगातार खुजली होती रहती है. इससे राहत पाने के लिए काली मिर्च के पाउडर को एक चम्मच देसी घी में मिलाकर रोज सुबह खाली पेट सेवन कर सकते हैं.

6. जोड़ों का दर्द तेज होता है

सर्दियों में जोड़ों के दर्द की समस्या बढ़ जाती है. इससे राहत पाने के लिए घी और काली मिर्च का सेवन करना चाहिए. इसके लिए काली मिर्च को भूनकर घी के साथ खाएं. यह मिश्रण शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने में भी मददगार होता है.

Worst Foods For Cholesterol: कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने की कोशिश कर रहे हैं, तो इन फूड्स को खाना छोड़ दें

6. पाचन को मजबूत करता है

काली मिर्च और घी दोनों ही औषधीय गुणों का भंडार हैं. घी में हेल्दी फैटी एसिड होते हैं जबकि काली मिर्च में डिटॉक्सिफाइंग गुण होते हैं. यही कारण है कि इन दोनों चीजों को एक साथ खाने से शरीर में जमा गंदगी बाहर निकल जाती है और पाचन तंत्र मजबूत हो सकता है.

7. दिल को हेल्दी रखने में मददगार

घी और काली मिर्च का मिश्रण दिल को हेल्दी और मजबूत बना सकता है. इन दोनों चीजों का एक साथ सेवन करने से शरीर में एंजियोजेनेसिस को बढ़ावा मिलता है. यह एक ऐसी प्रक्रिया है जो शरीर को रक्त वाहिकाओं को उत्पन्न करने की अनुमति देती है. यह ब्लड सर्कुलेशन में सुधार कर हृदय को हेल्दी रखने में मदद करता है.

Fact Check: क्या ऑक्सीजन लेवल बढ़ाती है Aspidosperma Q? डॉक्टर से जानें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.