World Mosquito Day 2021: विश्व मच्छर दिवस का इतिहास, महत्व, थीम और मलेरिया की रोकथाम के तरीके

World Mosquito Day: मच्छरों से होने वाली बीमारी के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 20 अगस्त को विश्व मच्छर दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह उस दिन को चिह्नित करता है जब सर रोनाल्ड रॉस ने मादा मच्छर और मलेरिया के बीच की कड़ी की खोज की थी.

World Mosquito Day 2021: विश्व मच्छर दिवस का इतिहास, महत्व, थीम और मलेरिया की रोकथाम के तरीके

World Mosquito Day 2021: हर साल 20 अगस्त को विश्व मच्छर दिवस के रूप में मनाया जाता है.

खास बातें

  • हर साल 20 अगस्त को विश्व मच्छर दिवस के रूप में मनाया जाता है.
  • मलेरिया एक ऐसी बीमारी है जो आपकी जान ले सकती है.
  • यहां विश्व मच्छर दिवस की थीम, इतिहास, महत्व और बचाव के तरीकों के बारे में

World Mosquito Day 2021: मच्छरों से होने वाली बीमारी के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 20 अगस्त को विश्व मच्छर दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह उस दिन को चिह्नित करता है जब सर रोनाल्ड रॉस ने मादा मच्छर और मलेरिया के बीच की कड़ी की खोज की थी. कई प्रकार की वेक्टर जनित बीमारी, खासकर मलेरिया मृत्यु का कारण बनता है. दुनिया के सबसे घातक जानवरों के एक सर्वेक्षण के अनुसार, मच्छर आश्चर्यजनक रूप से लिस्ट में सबसे ऊपर हैं. हर साल, विश्व मच्छर दिवस की थीम एक खास विषय के इर्द-गिर्द घूमती है जो लोगों को खुली बातचीत करने में मदद करते हैं और दूसरों को यह समझने में मदद करते हैं कि वे सुरक्षित रहने के लिए क्या कर सकते हैं. यहां विश्व मच्छर दिवस की थीम, इतिहास, महत्व और बचाव के तरीकों के बारे में बताया गया है.

विश्व मच्छर दिवस का इतिहास और महत्व | History And Significance Of World Mosquito Day 2021

1930 के दशक से लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन ब्रिटिश डॉक्टर सर रोनाल्ड के योगदान को याद करने के लिए एक वार्षिक समारोह का आयोजन कर रहा है.

यह दिन मनुष्यों, मलेरिया और मच्छरों के बीच संबंध की खोज का जश्न मनाने के लिए स्थापित किया गया था. इसका स्वास्थ्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ा है, यह सुनिश्चित करते हुए कि मनुष्य सुरक्षित हैं. 1897 में, सर रोनाल्ड ने पाया कि मादा मच्छर या मादा एनोफिलीज मच्छर, मलेरिया परजीवी को मनुष्यों में फैलाने के लिए जिम्मेदार हैं. यह एक ऐसी बीमारी है जो आपकी जान ले सकती है.

नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, मलेरिया से हर साल 435,000 से अधिक लोग मारे जाते हैं. इतना ही नहीं, माना जाता है कि मलेरिया हर साल दुनिया भर में लगभग 219 मिलियन लोगों को प्रभावित करता है. बहुत से लोग, खासकर वे जो ऐसे स्थानों पर रहते हैं जो जोखिम में नहीं हैं, समस्या की गंभीरता से अनजान हैं. भारत, एनोफिलीज और एडीज जैसे मच्छरों की कई प्रजातियों के लिए अनुकूल प्रजनन स्थल होने के कारण, यह पीले बुखार, डेंगू, मलेरिया और अन्य बीमारियों के लिए हॉटस्पॉट बनाता है.

विश्व मच्छर दिवस 2021 थीम | World Mosquito Day 2021 Theme

विश्व मच्छर दिवस 2021 की थीम जीरो मलेरिया टारगेट तक पहुंचना है. जबकि कई देशों ने मलेरिया को सफलतापूर्वक दूर रखा है या इसके जोखिम को कम किया है. इस साल की थीम का उद्देश्य यह जानने में मदद करना है कि वे मच्छरों की समस्या से निपटने के लिए क्या कर सकते हैं.

World Mosquito Day 2021: कैसे करें रोकथाम


इस बीमारी से बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने आप को मच्छरों के काटने/मच्छरों से बचाएं. मच्छरों की आबादी का जल्द पता लगाएं. पोखर, कंटेनर, और कुछ भी जो पानी को जमा रखता है उसे मच्छरों के प्रजनन को रोकने के लिए नियमित रूप से कवर या साफ किया जाना चाहिए. बारिश के पानी को इकट्ठा करने वाले खुले स्थानों में फेंकी गई वस्तुओं को हटाया जाना चाहिए. बंद नाले और अपर्याप्त जल निकासी वाली सपाट छतों की नियमित आधार पर जांच और सफाई की जानी चाहिए.

क्या है लॉ लाइंग प्लेसेंटा,क्‍या करें अगर बच्‍चे की नाल हो नीचे:

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com