How To Decrease Belly Fat: पेट का मोटापा पिघलाने के लिए असरदार हैं ये आयुर्वेदिक उपचार और आसान डाइट टिप्स

How To Get Your Waist In Shape: अगर आप सब कुछ करके थक गए हैं तो यहां पेट की चर्बी से छुटकारा पाने के कुछ आयुर्वेदिक उपाय हैं जो कुछ ही समय में आपके पेट को अंदर कर फिट और स्लिम बनाने में मदद कर सकते हैं.

How To Decrease Belly Fat: पेट का मोटापा पिघलाने के लिए असरदार हैं ये आयुर्वेदिक उपचार और आसान डाइट टिप्स

How To Decrease Belly Fat: पेट की चर्बी घटाने के तरीकों से इंटरनेट भरा पड़ा है.

खास बातें

  • पेट की चर्बी घटाने के तरीकों से इंटरनेट भरा पड़ा है.
  • हालांकि पेट की चर्बी घटाने के कारगर तरीके मौजूद हैं.
  • लेकिन आयुर्वेद से अच्छा और कुछ नहीं हो सकता है.

How To Decrease Belly Fat Quickly: पेट की चर्बी घटाने के तरीकों से इंटरनेट भरा पड़ा है. कई लोग साइडइफेक्ट्स की वजह से वजन कम करने के उपाय करने से कतराते हैं और आसान वजन घटाने के तरीकों को छोड़कर हार्ड एक्सरसाइज या डाइट की ओर रुख करते हैं. जो कतई सही नहीं है. हालांकि पेट की चर्बी घटाने के कारगर तरीके मौजूद हैं जिनपर कई लोगों का भरोसा भी है. अगर आप भी वजन घटाने के नेचुरल तरीके तलाश रहे हैं तो आयुर्वेद से अच्छा और कुछ नहीं हो सकता है. कुछ आयुर्वेद चीजें पेट की चर्बी को बर्न करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं और वजन घटाने और शरीर के समग्र कामकाज में भी मदद करती हैं. अगर आप सब कुछ करके थक गए हैं तो यहां पेट की चर्बी से छुटकारा पाने के कुछ आयुर्वेदिक उपाय हैं जो कुछ ही समय में आपके पेट को अंदर कर फिट और स्लिम बनाने में मदद कर सकते हैं.

बैली फैट घटाने के असरदार आयुर्वेदिक उपाय | Effective Ayurvedic Remedies To Reduce Belly Fat

1) फैट बर्न करने के लिए शहद और दालचीनी का इस्तेमाल माना जाता है. शहद को गुनगुने पानी के साथ लेने से पेट भरा होने का एहसास होता है. शहद और लहसुन कोलेस्ट्रॉल को भी कम करने में मदद करते हैं. शहद वजन घटाने में बेहद मददगार है.

2) अगर आप एक्स्ट्रा पेट की चर्बी को कम करना चाहते हैं तो हल्दी, अदरक और शहद को मिलाकर इस्तेमाल करें. यह पेट के फैट को बर्न करने में मदद करता है.

शतावरी के 10 चमत्कारिक लाभ, बुढ़ापे के लक्षण, डिप्रेशन, डायबिटीज को रखती है दूर, प्रजनन स्वास्थ्य के लिए भी कमाल

3) बाला (Sida Cordifolia) एक अद्भुत आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, जो एल्कलॉइड से भरपूर होती है. ये जैव रासायनिक पदार्थ शरीर से एक्स्ट्रा फैट को बाहर निकालने में मदद करते हैं.

4) तुलसी के पत्ते पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं. तुलसी के पत्तों की दही का सेवन शरीर से चर्बी कम करने में मदद करता है. यह शरीर के एनर्जी लेवल को बढ़ाने के लिए भी सुनिश्चित करता है.

5) नींबू पानी के जरिए फैट को कंट्रोल करना एक घरेलू कहावत है. यह भी बिल्कुल सही है. नींबू पानी में पेक्टिन और पॉलीफेनोल होते हैं जो भूख को दबाने का काम करते हैं और आपको पेट भरे होने का एहसास कराते हैं.

लौंग की चाय आपको इन 5 स्वास्थ्य समस्याओं से दिला सकती है निजात, एसिडिटी तो गायब ही हो जाएगी

6) सब्जा के बीज वजन को कंट्रोल करने में भी सहायक होते हैं क्योंकि ये फाइबर से भरपूर होते हैं. यह पाया गया है कि जब इसे पानी में भिगोया जाता है, तो यह 30-40 गुना फूल जाता है, जिससे अधिक खाने की भावना कम हो जाती है.

7) कलौंजी और शहद का नियमित रूप से सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती है.

8) अजवाइन को रेचक गुणों के लिए भी जाना जाता है, जो मल त्याग की सुविधा प्रदान करता है जिससे शरीर के मेटाबॉलिज्म में वृद्धि होती है.

9) मेथी दाना अगर आप सुबह खाली पेट इसका पानी पीते हैं तो ये वेट लॉस करने में कमाल कर सकता है. यह आपके पाचन को सुचारू बनाने में मदद करता है और साथ ही आपको गैस्ट्रिक समस्याओं से भी बचाता है.

सिर्फ बादाम ही नहीं ये 5 चीजें भी बढ़ाती हैं याददाश्त और दिमाग तेज करने में भी कारगर, बच्चों को जरूर खिलाएं

10) आमलकी (भारतीय आंवला), बिभीतकी (टर्मिनलिया बेलिरिका) और हरीतकी (टर्मिनलिया चेबुला) त्रिफला से बना मिश्रण ग्लूकोज और वजन घटाने में भी प्रभावी है.

बैली फैट बर्न करने के आसान डाइट टिप्स | Easy Diet Tips To Burn Belly Fat

  • आयुर्वेद कहता है कि वजन का सीधा संबंध कफ दोष से है. कफ को रोकने वाली डाइट इस चुनौती का सामना करने में मदद करेंगे. गर्म भोजन करना चाहिए, जो आसानी से पचने योग्य हो. जमे हुए और ठंडे फूड्स से बचना चाहिए.
  • नाश्ता भारी होना चाहिए, दोपहर के भोजन के समय मध्यम भोजन करना चाहिए और रात 8 बजे से पहले हल्का भोजन करना चाहिए.
  • जब भी आप खाना खा रहे हों तो यह सुनिश्चित करने की कोशिश करें कि आपका पेट कम से कम 25% खाली हो.
  • कार्ब्स पर निर्भरता कम करें. चीनी, नमक और मैदे से सख्ती से परहेज करें.
  • वजन घटाने के टारगेट तक पहुंचने के लिए गुनगुना पानी पीना काफी कारगर है. गर्म पानी शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है.
  • अपने भोजन को ठीक से चबाएं ताकि पेट के अंगों को कम मेहनत करनी पड़े.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

अन्य खबरें