बच्चे को अच्छे संस्कार कैसे दें? सदगुरु से सीखें पेरेंट्स कैसे घोल सकते हैं बच्चों के जीवन में खुशियां, करें बस ये 5 काम

How Should Parents Treat Their Kids: सदगुरु वासुदेव जग्गी अक्सर जीवन से जुड़ी समस्याओं पर अपने सुझाव देते हैं, बच्चों की परवरिश को लेकर भी उन्होंने कई टिप्स दिए हैं.

बच्चे को अच्छे संस्कार कैसे दें? सदगुरु से सीखें पेरेंट्स कैसे घोल सकते हैं बच्चों के जीवन में खुशियां, करें बस ये 5 काम

बच्चों के साथ कैसा हो पेरेंट्स का व्यवहार, सद्गुरु के बताया बच्चों का कैसे रखें ख्याल | How Should Parents Treat Their Kids 

Parenting Tips: आज के व्यस्त जीवन में माता-पिता दोनों के वर्किंग होने की वजह से बच्चों के साथ उनका तालमेल बैठा पाना बेहद मुश्किल हो गया है. जिससे नकारात्मक असर बच्चों के व्यवहार में साफ झलकता है. बच्चों को अच्छी परवरिश देना बेहद जरूरी है, परवरिश में कमी होने के कारण पैरेंट्स और बच्चों के बीच स्ट्रॉन्ग बॉन्डिंग नहीं होती. जो उनके और पेरेंट्स दोनों के लिए कहीं कहीं परेशानी खड़ी कर सकती है. बच्चों के साथ पेरेंट्स को किस तरह व्यवहार करना चाहिए, इस विषय में विस्तार से बता रहे हैं आध्यात्मिक गुरु सद्गुरु वासुदेव जग्गी. उनके बताए 5 टिप्स आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं.

बच्चों के साथ कैसा हो पेरेंट्स का व्यवहार, सद्गुरु ने बताया बच्चों का कैसे रखें ख्याल | How Should Parents Treat Their Kids 

1. घर का माहौल हो खुशनुमा

सदगुरु कहते हैं किसी भी बच्चे की बेहतरीन परवरिश के लिए घर का माहौल अहम भूमिका निभाता है, आपके घर का माहौल खुशनुमा और प्यार भरा है, तो बच्चा मजबूत, निडर और साहसी बनेगा. घर का माहौल खराब होने से बच्चों के मन में डर और चिंता घर बना सकती है.

काजू-बादाम से ज्यादा ताकतवर है ये फल, एकलौता ऐसा फल, जिसमें हैं सारे पोषक तत्व, हैरान कर देंगे चिलगोजा के फायदे, जान लें कैसे और कितना खाएं

2. अपने आप को बनाएं आकर्षित

बच्चों का मन बेहद कोमल होता है, उन्हें जो चीज अट्रैक्ट करती है बच्चे उन्हीं के पास जाना पसंद करते हैं. इसलिए सद्गुरु वासुदेव जग्गी के अनुसार खुद को आकर्षित बना कर रखें, जिससे बच्चा आपकी तरफ अट्रैक्ट हो.

3. बच्चों को करें सपोर्ट

गुरु वासुदेव जग्गी के अनुसार प्रत्येक मां-बाप को अपने बच्चों को सपोर्ट करना चाहिए. आप बच्चों की तुलना में अधिक अनुभवी होते हैं. आप उनके अच्छे मार्गदर्शक बन सकते हैं, इसलिए समय-समय पर बच्चों से बात करें और उन्हें अच्छे बुरे में अंतर बता कर सही मार्गदर्शन दें.

4. बच्चों को दें सच्चा प्यार

सदगुरु का मानना है कि बच्चों को निर्मल और सच्चा प्यार करना चाहिए, सच्चा प्यार करने का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि आप अपने बच्चों की हर ख्वाहिश पूरी करें. सच्चे प्यार का मतलब है आप अपने बच्चों के लिए वो करें जो उनके लिए जरूरी हो और उनको जो उन्हें सही रास्ते पर आगे बढ़ने में मदद करे.

न करें हर 'वायरल मसाज' पर भरोसा, कोमा, मिर्गी और लकवे का शिकार बना सकती है सोशल मीडिया पर छाई ये Relaxing Neck Massage

5. बच्चों के सामने रहे खुश

सदगुरु कहते हैं माता-पिता के व्यवहार का बच्चों के ऊपर बहुत गहरा असर पड़ता है, इसलिए अगर आप बच्चों के सामने खुश, समझदार और एक मस्तमौला पर्सनैलिटी के रूप में रहेंगे, तो वे आपसे आकर्षित होंगे, उन्हें आपके अलावा किसी और की जरूरत नहीं होगी. यहां तक कि वे हर चीज आपसे पूछ कर ही करेंगे.

Parenting: Raise Yourself Before You Raise Your Kids - Sadhguru



Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)