उदयपुर हत्याकांड : आरोपियों के खिलाफ यूएपीए के तहत मामला दर्ज, एनआईए करेगी जांच

राजस्थान पुलिस  ने उदयपुर (Udaipur) में दर्जी कन्हैया लाल की नृशंस हत्या में शामिल दोनों आरोपियों के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) के तहत मामला दर्ज किया है .

उदयपुर हत्याकांड : आरोपियों के खिलाफ यूएपीए के तहत मामला दर्ज, एनआईए करेगी जांच

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना प्रथम दृष्टया आतंक फैलाने के उद्देश्य से की गई है.

जयपुर:

राजस्थान पुलिस  ने उदयपुर (Udaipur) में दर्जी कन्हैया लाल की नृशंस हत्या में शामिल दोनों आरोपियों के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) के तहत मामला दर्ज किया है . इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) करेगी. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि राजस्थान पुलिस का आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) जांच में एनआईए को पूरा सहयोग करेगा. गहलोत ने उच्च स्तरीय बैठक कर उदयपुर के हालात की समीक्षा की. उन्होंने अब तक हुई जांच की जानकारी ली.

मुख्यमंत्री ने बैठक के बाद ट्वीट में कहा, ‘‘उदयपुर की घटना पर आज उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया कि घटना प्रथम दृष्टया आतंक फैलाने के उद्देश्य से की गई है. दोनों आरोपियों के दूसरे देशों में भी संपर्क होने की जानकारी सामने आई है.'' उन्होंने कहा कि दोनों आरोपियों के दूसरे देशों में भी संपर्क होने की जानकारी सामने आई है.

उन्होंने कहा कि इस घटना में मुकदमा यूएपीए के तहत दर्ज किया गया है इसलिए अब आगे की जांच एनआईए द्वारा की जाएगी जिसमें राजस्थान एटीएस पूर्ण सहयोग करेगी. उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस एवं प्रशासन पूरे राज्य में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करें एवं उपद्रव करने के प्रयासों पर सख्ती से कार्रवाई करें.'' मुख्यमंत्री ने कहा कि उदयपुर की घटना में शामिल आरोपियों की त्वरित गिरफ्तारी करने वाले पांच पुलिसकर्मियों तेजपाल, नरेन्द्र, शौकत, विकास एवं गौतम को आउट ऑफ टर्म प्रमोशन देने का फैसला किया है.

उदयपुर के धान मंडी थाना क्षेत्र में मंगलवार को सोशल मीडिया पर एक कथित विवादित पोस्ट को लेकर रियाज और गौस मोहम्मद ने कन्हैया लाल की दुकान में घुस कर उसकी नृशंस हत्या कर दी थी. आरोपियों ने घटना का एक वीडियो शूट किया और इसे दो अन्य वीडियो के साथ सोशल मीडिया पर साझा किया.

एक वीडियो अपराध के बाद शूट किया गया था जिसमें उन्होंने कहा था, ‘‘ उन्होंने इस्लाम का अपमान करने लिये उसका ‘‘सिर काट दिया'' और दूसरा 17 जून को शूट किया गया था जिसमें रियाज दावा कर रहा है कि वह उसका सिर कलम कर देगा . हत्या के बाद शूट किए गए वीडियो में रियाज ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी धमकी दी थी. वहीं दूसरी ओर आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि उदयपुर की घटना को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार शाम छह बजे मुख्यमंत्री आवास पर सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

ये भी पढ़ें- 

ये भी देखें- कन्‍हैयालाल की शवयात्रा में उमड़ा लोगों का हुजूम, हत्‍यारों को फांसी देने की उठी मांग ​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)