'कश्मीर में अब पाकिस्तानी झंडे इतिहास की बात' : तिरंगा यात्रा में NDTV से बोले LG मनोज सिन्हा

'तिरंगा यात्रा' घाटी में आयोजित होने वाला पहला ऐसा कार्यक्रम है, वो भी 14 अगस्त के दिन. पहले इस मौके पर सुरक्षा व्यवस्था को दरकिनार करते हुए पाकिस्तानी झंडे फहराने की कोशिश की जाती थी.

श्रीनगर:

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को कहा कि यहां अब पाकिस्तानी झंडे इतिहास की बात बन गए, और अब केवल भारतीय राष्ट्रीय ध्वज ही फहराया जाता है. एलजी सिन्हा ने यह बात श्रीनगर में डल झील के किनारे एक 'तिरंगा यात्रा' के दौरान एनडीटीवी से कही.

उन्होंने कहा, 'पाकिस्तानी झंडे लहराना इतिहास की बात हो चुकी है. यहां अब केवल भारतीय झंडा ही फहराएगा. पहले, लोगों को तिरंगा फहराने के लिए प्रेरित करने की कम कोशिश होती थी. अब कोशिश हो रही है और लोग भारत का झंडा फहराना चाहते हैं.'

देश विभाजन पर VIDEO जारी कर BJP ने जवाहर लाल नेहरू पर साधा निशाना, कांग्रेस ने किया पलटवार

'तिरंगा यात्रा' घाटी में आयोजित होने वाला पहला ऐसा कार्यक्रम है, वो भी 14 अगस्त के दिन. पहले इस मौके पर सुरक्षा व्यवस्था को दरकिनार करते हुए पाकिस्तानी झंडे फहराने की कोशिश की जाती थी.

उन्होंने कहा, "समाज के सभी वर्गों की व्यापक प्रतिक्रिया और भागीदारी है, हर जगह 'तिरंगा' लहरा रहा है.'

MP : सरकारी कर्मियों को तिरंगा खरीदने और फोटो अपलोड करने का आदेश, BJP दफ्तर में बिक रहा 20 में झंडा, 10 रु. का डंडा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


'तिरंगा यात्रा' में सेना, सीमा पुलिस बल, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों ने हिस्सा लिया.