मुंबई: नौ दिनों में बढ़े 138% कोरोना के मामले, अस्पतालों में मरीजों की संख्या हुई दोगुनी

मुंबई (Mumbai) में 9 दिनों में कोविड के ऐक्टिव मरीज़ों ( Covid Patients) की संख्या इन्हीं 9 दिनों में 2970 से बढ़कर 7000 पर पहुंच गई है. यानी 135% इज़ाफ़ा हुआ है. महाराष्ट्र (Maharshtra) में रोज़ाना के मामलों के साथ-साथ ऐक्टिव मामलों ने नौ दिनों में करीब 150% बढ़त दर्ज की है.

मुंबई: नौ दिनों में बढ़े 138% कोरोना के मामले, अस्पतालों में मरीजों की संख्या हुई दोगुनी

मुंबई में कोरोना संक्रमितों की संख्या बड़ी तेजी से बढ़ रही है. (प्रतीकात्मक फोटो)

माया नगरी मुंबई (Mumbai) में बीते नौ दिनों में कोरोना (Corona) ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ ली है. यहां रोजाना रिपोर्ट होने वाले मामले 138% बढ़ गए हैं. अस्पतालों (Hospitals ) में भर्ती होने वाले मरीज दोगुने गो गये हैं. वहीं ऐक्टिव कोविड मरीज 135% बढ़ गये हैं. महाराष्ट्र (Maharashtra ) के 70% ऐक्टिव कोरोना के केस मुंबई शहर में हैं.साठ साल की उम्र के कोमोर्बिड मरीजों की कोरोना ने एक बार फिर मुसीबत बढ़ा दी है. पहले कोरोना संक्रमित हो चुके और वैक्सीन ले चुके हैं मरीजों को फिर से कोविड के लक्षणों के साथ अस्पताल में भर्ती होना पड़ रहा है.

ये भी पढ़ें: अनिल देशमुख और नवाब मलिक की याचिका खारिज, राज्यसभा चुनाव में नहीं कर पाएंगे मतदान

आरटीपीसीआर के नतीजे अभी आने बाक़ी हैं. बाक़ी तकलीफ़ों का इलाज मुंबई के निजी अस्पताल में चल रहा है. लायंस क्लब हॉस्पिटल, मुंबई के डॉ सुहास देसाई ने बताया कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कोमोर्बिड कोविड मरीज़ों को अस्पतालों में भर्ती होना पड़ रहा है.एक फार्मेसिस्ट कमलेश जोशी ने बताया कि कोरोना के बढ़ते मामले के चलते सेल्फ टेस्टिंग किट की बिक्री फिर शुरू हो गई है. वहीं खरीदारों की पहचान करने के बाद ही कोरोना टेस्टिंग किट उनको बेची जा रही है.

मुंबई में चार महीने बाद कोविड लगभग रोज़ाना नई उछाल दर्ज कर रहा है. हर दिन रिपोर्ट होने वाले कोविड मामलों में बीते 9 दिनों में 138% बढ़त दिख रही है. अस्पतालों में भर्ती होने वाले कोविड मरीज़ों की संख्या जहां 9 दिन पहले 29 थी अब दोगुनी से भी ज़्यादा 83 हो चुकी है. 

ये भी पढ़ें: EXPLAINER:जानिए क्या होती है हॉर्स ट्रेडिंग? भारतीय राजनीति में इसकी इतनी चर्चा क्यों है

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोविड के ऐक्टिव मरीज़ों की संख्या इन्हीं 9 दिनों में 2970 से बढ़कर 7000 पर पहुंच गई है. यानी 135% इज़ाफ़ा हुआ है. महाराष्ट्र में रोज़ाना के मामलों के साथ-साथ ऐक्टिव मामलों ने नौ दिनों में करीब 150% बढ़त दर्ज की है.कोरोना से निपटने के लिए एक बार फिर से निजी अस्पतालों में अलग कोविड वॉर्ड तैयार किए गए हैं. महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना मरीजों के आंकड़ों पर सरकार लगातार नजर रख रही है. अगर कोरोना के मरीज इसी दर से बढ़ते रहे तो जल्द ही कुछ नई पाबंदियां लग सकती हैं.