"चिदंबरम को इस्‍तीफा देना चाहिए यदि...": गोवा चुनाव को लेकर कांग्रेस पर हमलावर तृणमूल 

अभिषेक बनर्जी ने कहा कि अगर चिदंबरम भाजपा को हराने में विफल रहते हैं, तो उन्हें सबसे पहले इस्तीफा देना चाहिए. उन्हें दुनिया को बताना चाहिए कि वह जिम्मेदारी स्वीकार करते हैं.

अभिषेक बनर्जी ने कहा कि गठबंधन के लिए चिदंबरम से संपर्क किया था. (फाइल फोटो)

पणजी:

तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) पार्टी के नेता अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) ने गुरुवार को कहा कि अगर कांग्रेस (Congress) अगले महीने होने वाले गोवा विधानसभा चुनाव (Goa Assembly Election) में भाजपा (BJP) को सत्ता से बेदखल नहीं कर सकी तो कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पी चिदंबरम (P Chidambaram) को जिम्मेदारी लेनी चाहिए. उन्होंने मीडिया से कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने 14 फरवरी को होने वाले गोवा चुनाव के लिए चुनाव पूर्व गठबंधन के औपचारिक प्रस्ताव के साथ चिदंबरम से संपर्क किया था. 

टीएमसी के महासचिव अभिषेक बनर्जी ने कहा, "जब हम यहां पहुंचे, तो कांग्रेस और आप जैसी पार्टियों ने सवाल उठाया कि टीएमसी बीजेपी विरोधी वोटों को बांटने की कोशिश कर रही है." उन्होंने कहा कि टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने समान विचारधारा वाले लोगों से गठबंधन का आह्वान किया था. 

गोवा के लिए ऑफर लेकर मैं खुद पी चिदंबरम के पास गया था: तृणमूल नेता पवन वर्मा

अभिषेक बनर्जी ने कहा, "एमजीपी (महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी) ने आगे आकर टीएमसी के साथ गठबंधन किया, लेकिन बाकी पार्टियां यह प्रचार करने में व्यस्त थीं कि टीएमसी वोट बांट रही है." टीएमसी नेता ने आरोप लगाया कि चिदंबरम "अपनी पार्टी के हितों के लिए लोगों को गुमराह कर रहे हैं".

'खरीद-फरोख्त की कला में BJP को महारत' : फडणवीस के ‘सूटकेस' वाले कमेंट पर TMC का पलटवार

बनर्जी ने कहा, "चिदंबरम ने कहा कि टीएमसी ने कभी (गठबंधन के लिए) पेशकश नहीं की. टीएमसी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने स्पष्ट किया कि वह 24 दिसंबर को दोपहर 1.30 बजे प्रस्ताव लेकर चिदंबरम के घर गए थे."

टीएमसी नेता ने कहा, "वे कहते हैं कि टीएमसी की ओर से कोई ठोस प्रस्ताव नहीं था. वर्मा ने कहा है कि वह चिदंबरम के घर गए थे और उनसे अनुरोध किया था कि हमें गोवा के लोगों के लिए अपने अहंकार को अलग रखते हुए एक साथ आना चाहिए."

बीजेपी ने नहीं दिया मनोहर पर्रिकर के बेटे ​को टिकट, गोवा के मंत्री ने बताई वजह...

बनर्जी ने आगे कहा, "अगर वह (चिदंबरम) भाजपा को हराने में विफल रहते हैं, तो उन्हें सबसे पहले इस्तीफा देना चाहिए. उन्हें दुनिया को बताना चाहिए कि वह जिम्मेदारी स्वीकार करते हैं."

साथ ही उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस लोगों को राज्य में शासन करने का मौका देने के लिए कह रही है, वह 2017 में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी, लेकिन अपने लोगों को एक साथ नहीं रख सकी और उसके 80 फीसद विधायक दलबदल कर गए. बता दें कि 2017 में बीजेपी ने गठबंधन के जरिये गोवा में सरकार बनाई थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


"तृणमूल की राजनीति को गोवा ने नकारा": देवेंद्र फडणवीस ने AAP पर भी साधा निशाना