केंद्र सरकार फोन टैपिंग की आरोपी आईपीएस अधिकारी का बचाव कर रही: सांसद राउत

मुंबई में संवाददाताओं से बातचीत में राउत ने कहा कि चाहे महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले हों या खुद वह या अन्य नेता रहे हों, सभी पर ‘असामाजिक तत्व’ होने का आरोप लगाकर उनके फोन टैप किये गये.

केंद्र सरकार फोन टैपिंग की आरोपी आईपीएस अधिकारी का बचाव कर रही: सांसद राउत

उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोगों पर मादक पदार्थ तस्कर और गैंगस्टर होने का लेबल लगा दिया गया.

मुंबई:

शिवसेना नेता और राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने बुधवार को दावा किया कि केंद्र सरकार आईपीएस अधिकारी रश्मि शुक्ला का बचाव कर रही है, जिनके खिलाफ कुछ नेताओं से जुड़े कथित फोन टैपिंग मामले में जांच चल रही है. मुंबई में संवाददाताओं से बातचीत में राउत ने कहा कि चाहे महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले हों या खुद वह या अन्य नेता रहे हों, सभी पर ‘असामाजिक तत्व' होने का आरोप लगाकर उनके फोन टैप किये गये.

उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोगों पर मादक पदार्थ तस्कर और गैंगस्टर होने का लेबल लगा दिया गया. राउत ने कहा कि यह सब कुछ तब हुआ जब नवंबर, 2019 में महा विकास आघाडी (एमवीए) सरकार का गठन किया जा रहा था.

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार के गठन के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए हम पर नजर रखी जा रही थी, हमारी निजता को रौंद दिया गया था.''

राउत ने राज्य खुफिया विभाग (एसआईडी) की पूर्व प्रमुख शुक्ला का नाम लिये बगैर कहा, ‘‘एक पुलिस अधिकारी, जिससे निष्पक्ष तरीके से काम करने की उम्मीद की जाती है, वह एक पार्टी और उसके नेताओं के प्रति वफादारी दर्शाने के लिए काम कर रही थीं. अब केंद्र सरकार हमेशा की तरह उस महिला अधिकारी का बचाव कर रही है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है.''

वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी के खिलाफ जांच शुरू की गई है. आरोप है कि एसआईडी प्रमुख रहते हुए उन्होंने राउत और पूर्व भाजपा नेता एकनाथ खडसे (अब राकांपा में) का फोन टैप कराया.

पुणे पुलिस ने कथित फोन टैपिंग मामले में शुक्ला के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी. शुक्ला वर्ष 2016 से जुलाई 2018 तक पुणे पुलिस की आयुक्त रहीं, जो फिलहाल केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल में तैनात हैं. शुक्ला ने कहा है कि उन्हें गलत तरह से फंसाया जा रहा है. उन्होंने खुद को राजनीतिक शत्रुता का शिकार बताया है.

यह भी पढ़ें:
'दिल्ली नगर निगम चुनाव जीतने के लिए दंगे कराए जा रहे हैं': संजय राउत का आरोप
राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के लिए मुंबई में गैर-बीजेपी मुख्यमंत्रियों की बैठक की संभावना: संजय राउत
"यहां तक कि भगवान राम भी..." खरगौन हिंसा पर शिवसेना सांसद संजय राउत BJP पर भड़के

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के बीच घमासान जारी, किरीट सोमैया की गिरफ्तारी की मांग



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)