विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 06, 2022

Cancer Symptoms: बॉडी के इन पार्ट्स में भी हो सकता है कैंसर, इन लक्षणों को न करें इग्नोर

Cancer Symptoms: बॉडी में सामान्य दर्द पर पेनकिलर खाकर आराम पाया जा सकता है लेकिन कुछ दर्द कैंसर की शुरुआती स्टेज पर हो सकते हैं.

Cancer Symptoms: बॉडी के इन पार्ट्स में भी हो सकता है कैंसर, इन लक्षणों को न करें इग्नोर
Cancer Symptoms: शरीर के इन हिस्सों में भी हो सकता है कैंसर.

हमारे बॉडी पार्ट्स में दर्द होना कोई बड़ी बात नहीं है. आमतौर पर ऐसा हो जाता है लेकिन कभी-कभी सामान्य सा दिखने वाला ये दर्द खतरनाक कैंसर की बीमारी के रूप में बदल सकता है. ये हम सभी जानते हैं कि कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसका इलाज समय पर न हो तो जान से भी हाथ धोना पड़ सकता है. ऐसे में बॉडी के किसी भी पार्ट में होने वाले दर्द को आप हल्के में न लें. हो सकता है कि वह बॉडी में कैंसर की पहली स्टेज हो. अगर आप सामान्य दर्द में जांच कराएं और कैंसर जैसी बीमारी पाए जाने पर समय इलाज शुरू होने से उस पर काबू पाया जा सकता है.

कैंसर लक्षण-उपचार और बचाव- Cancer Symptoms-Treatment And Prevention

कैंसर के दर्द के लक्षण

बॉडी में सामान्य दर्द पर पेनकिलर खाकर भी आराम पाया जा सकता है लेकिन कुछ दर्द कैंसर की शुरुआती स्टेज पर होते हैं. वो ट्यूमर बॉडी में बोन्स, नर्वस व अन्य हिस्सों पर भी प्रभाव डालता है, जिससे दर्द होता है. कैंसर से जुड़ा दर्द होने पर अलग-अलग लोगों में इसके अलग-अलग लक्षण होते हैं. कुछ मरीजों को ऐंठन महसूस होती है जो सामान्य दर्द जैसा ही होता है. तो कुछ लोगों को न्यूरोपैथिक पेन की प्रॉब्लम भी हो सकती है. वहीं, कुछ लोगों को बॉडी के इंटरनल पार्ट्स में ट्यूमर के कारण छाती पेट की आंतों और लीवर पर प्रेशर के कारण भयंकर दर्द होता है. ये दर्द कम ज्यादा और जलन वाला भी हो सकता है. कभी लगातार, कभी हल्का तो कभी रुक रुक कर भी दर्द हो सकता है. ऐसे लक्षण अगर दिखाई पड़ें तो तुरंत जांच कराएं डॉक्टर्स से सलाह लें. 

Protein Vs Carbs: प्रोटीन वजन घटाने के लिए कार्ब्स से बेहतर? जानें एक्सपर्ट क्या कहते हैं

363o3uao

नर्वस सिस्टम हो प्रभावित तो लें कीमोथेरेपी

कैंसर आज भी देश में भयंकर बीमारी के तौर पर देखा जाता है. हल्का सा दर्द भी कब बड़ी बीमारी बन जाए कुछ कहा नहीं जा सकता है. ऐसे में कैंसर की शुरुआती स्टेज में होने वाले दर्द को अच्छे इलाज के जरिए खत्म किया जा सकता है. कुछ लोगों में न्यूरोपैथिक पेन होता है तो कैंसर की वजह से नर्वस सिस्टम इफेक्टिव होता है. ऐसे में इलाज के तौर पर कीमोथेरेपी, रेडियोथेरेपी, सर्जरी व दवाओं से इसका इलाज संभव है.

ये न करें नजरअंदाज

अधिक थकान, खून का रिसना, कोई अंदरूनी चोट अचानक वजन घटना या बॉडी के किसी भी पार्ट में गांठ का बढ़ना साथ ही स्किन में कोई बदलाव. ऐसे लक्षण अगर दिखाई दें. तो हो सकता है कि बॉडी के किसी भी पार्ट में ट्यूमर के पनपने के संकेत हो. इसलिए इनको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. तुरंत डॉक्टर की सलाह लें और इलाज कराएं. 

Wedding Season: होने वाली दुल्हनों के लिए हेल्दी डाइट टिप्स, चेहरे की चमक के साथ सेहत का भी रखेंगे ख्याल

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कैंसर थेरेपी में संभावित ड्रग रेजिस्टेंस को दूर करने के लिए नई तकनीक तलाशना जरूरी : स्टडी
Cancer Symptoms: बॉडी के इन पार्ट्स में भी हो सकता है कैंसर, इन लक्षणों को न करें इग्नोर
Bowel Cancer Reason,Symptoms, Precautions and Cure
Next Article
Bowel Cancer क्या है और किसे हो सकता है? जानें इसके लक्षण, कारण और बचाव के तरीके
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;