डायबिटीज मरीजों को क्यों खानी चाहिए बेसन की रोटी? फायदे जान खुद को खाने से रोक नहीं पाएंगे आप

Chickpea Flour Benefits: ग्राम फ्लोर या बेसन को पोषक तत्वों का भंडार कहा जाता है. बेसन चने से तैयार किया जाता है. चने को सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है. चना प्रोटीन का सबसे अच्छा सोर्स है.

डायबिटीज मरीजों को क्यों खानी चाहिए बेसन की रोटी? फायदे जान खुद को खाने से रोक नहीं पाएंगे आप

Besan For Diabetes: डायबिटीज ही नहीं कोलेस्ट्रॉल को भी कम करने में मददगार है बेसन की रोटी.

खास बातें

  • चना प्रोटीन का सबसे अच्छा सोर्स है.
  • बेसन पोषक तत्वों का भंडार है.
  • बेसन में अघुलनशील और घुलनशील फाइबर पाया जाता है.

Chickpea Flour Health Benefits: ग्राम फ्लोर या बेसन को पोषक तत्वों का भंडार कहा जाता है. बेसन चने से तैयार किया जाता है. चने को सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है. चना प्रोटीन का सबसे अच्छा सोर्स है. असल में डायबिटीज रोगियों (Besan For Diabetes) को बहुत सी चीजें खाने की मनाही होती है. उन्हें मैदा और रेगुलर आटे का भी इस्तेमाल कम करने की सलाह दी जाती है. अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आप चने के आटे (Chickpea Flour Benefits) यानि की बेसन  से तैयार रोटियों का सेवन कर सकते हैं. इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर को कई समस्याओं से बचाने में मदद कर सकते हैं. इतना ही नहीं इसके सेवन से वजन को भी कंट्रोल किया जा सकता है. क्योंकि इसमें रेगुलर आटे की तुलना में कैलोरी कम होती है. 

बेसन में पाए जाने वाले पोषक तत्व-

बेसन में पाए जाने वाले गुणों की बात करें तो इसमें फाइबर, आयरन, पोटैशियम, मैंग्नीज, कॉपर, जिंक, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, फोलेट, विटामिन बी6 और थाइमिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. जो शरीर को कई लाभ पहुंचाने में मदद कर सकते हैं. 

बेसन की रोटी खाने के फायदे-Besan Ki Roti Khane Ke Fayde:

1. डायबिटीज-

बेसन अपने कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद हो सकता है. अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आप अपनी डाइट में बेसन की रोटी या पराठे शामिल कर सकते हैं. 

ps607uv

2. कोलेस्ट्रॉल-

बेसन में अघुलनशील और घुलनशील फाइबर पाया जाता है, जो पाचन को बेहतर रखने में मदद कर सकता है. इतना ही नहीं इसमें गुड्स फैट्स होता है, जो कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है.

3. मोटापा-

वजन घटाने के लिए आप बेसन को डाइट में शामिल कर सकते हैं. रेगुलर आटे की तुलना में बेसन में कम कैलोरी पाई जाती है, जो वजन को कम करने में मदद कर सकती है. 

4. हार्ट-

बेसन चने के आटे को कहते हैं जो पोषक तत्वों का भंडार है. अगर आप हार्ट के मरीज हैं तो आपके लिए चने के आटे का सेवन फायदेमंद हो सकता है. 

Polycystic Ovary Syndrome (PCOS): डाइट कंट्रोल करेगी पीसीओएस! जानें Expert से...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.