UP: तालिबानी अंदाज में सजा, चोरी करने पर नाबालिग को पेड़ से बांधकर बेरहमी से की पिटाई...

पुलिस ने इलाके के लोगों की तहरीर पर पीड़ित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था लेकिन जैसे ही इसकी वीडियो सामने आया, पिटाई करने वाले युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही शुरू की गई है.

UP: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad) के मझोला थाना क्षेत्र में एक नाबालिग को चोरी के आरोप में कुछ लोगों ने पेड़ से बांधा और जमकर पिटाई की.तालिबानी अंदाज में बेरहमी से की गई इस पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. पुलिस ने इलाके के लोगों की तहरीर पर पीड़ित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था लेकिन जैसे ही इसकी वीडियो सामने आया, पिटाई करने वाले युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही शुरू की गई है.

लड़के की पिटाई का सोशल मीडिया पर  वायरल यह वीडियो, मुरादाबाद के थाना मझोला इलाके के ट्रांसपोर्ट नगर पुलिस चौकी के पीछे का है, जहां एक नाबालिग पर अवधेश नाम के व्यक्ति की दुकान के आगे खड़े ट्रक से कुछ सामान चोरी करने का आरोप है. जानकारी के अनुसार, दुकान मालिक और उसके साथियों ने नाबालिग को पकड़कर पेड़ से बांध दिया और उसकी जमकर पिटाई की. यही नहीं, पिटाई का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया गया. दुकानदार अवधेश के मुताबिक, पहले भी उसकी दुकान में काफी बार चोरी हुई है और आज उसने नाबालिग को ट्रक से सामान चोरी करते हुए पकड़ा. उसने डायल 112 पर कॉल कर पुलिस को बुलाकर सौंप दिया.


सवाल यह नहीं है कि चोरी के शक में पकड़े गए नाबालिग को छोड़ दिया जाए, उसे उसके किए की सजा मिलनी चाहिए लेकिन यह कौन सा तरीका है कि कानून को अपने हाथ में लेकर एक नाबालिक की इतनी बेदर्दी से पिटाई की जाए और फिर उसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया जाए. वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में मुरादाबाद पुलिस अधीक्षक (नगर) अमित आनंद ने कहा, पिटाई का वीडियो सामने आने के बाद ऐसा करने वालों के खिलाफ भी पुलिस नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा- जनता के दिलों में रहता हूं, कोई मुझे नहीं निकाल सकता
* 'एक व्यक्ति की चोर समझकर बांधा, पीट-पीटकर हत्या कर दी
* सीएम योगी का ट्वीट- नौकरी नीलाम करेंगे तो घर नीलाम कर देंगे- यूजर्स बोले- पहले दे तो दीजिए
* अखिलेश और मायावती की नासमझी की वजह से नरेंद्र मोदी दो बार प्रधानमंत्री बने : ओवैसी