पाक को कश्‍मीर 'सौंपने' संबंधी प्रश्न पर विवाद, MPPSC ने पेपर सेटर और मॉडरेटर को ब्‍लैकलिस्‍ट किया

एमपीपीएससी द्वारा आयोजित राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा में कश्मीर को लेकर पूछे गए एक आपत्तिजनक सवाल पर विवाद खड़ा हो गया था. 

पाक को कश्‍मीर 'सौंपने' संबंधी प्रश्न पर विवाद, MPPSC ने पेपर सेटर और मॉडरेटर को ब्‍लैकलिस्‍ट किया

प्रतीकात्‍मक फोटो

इंदौर/भोपाल:

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) ने राज्‍य सेवा प्रारंभिक परीक्षा के General Aptitude Test में कश्‍मीर के बारे में एक विवादास्‍पद सवाल पूछे जाने के बाद एक पेपर सेटर और मॉडरेटर (Paper setter and a moderator)को मंगलवार को ब्‍लैकलिस्‍ट कर दिया है. MPPSC  ने रविवार को हुई परीक्षा से इस विवादित प्रश्‍न को वापस भी ले लिया गया. गौरतलब है कि एमपीपीएससी द्वारा आयोजित राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा में कश्मीर को लेकर पूछे गए एक आपत्तिजनक सवाल पर विवाद खड़ा हो गया था. 

अधिकारियों के अनुसार,  रविवार को आयोजित राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य अभिरुचि परीक्षण के प्रश्नपत्र में कथन के रूप में सवाल किया गया कि क्या भारत को कश्मीर को पाकिस्तान को दे देने का निर्णय कर लेना चाहिए? इस सवाल पर पर्चे में पहला तर्क दिया गया, ‘‘हां, इससे भारत का बहुत-सा धन बचेगा.'' दूसरा तर्क दिया गया, ‘‘नहीं, ऐसे निर्णय से इसी तरह की और भी मांगें बढ़ जाएंगी.''प्रश्नपत्र में इस सवाल के जवाब के लिए परीक्षार्थियों को चार विकल्प दिए गए थे जिनमें से पहले विकल्प में पहले तर्क को सही बताया गया था, दूसरे विकल्प में दूसरे तर्क को सही बताया गया था, तीसरे विकल्प में पहले और दूसरे, दोनों तर्कों को सही बताया गया था और चौथे विकल्प के अनुसार, पहला और दूसरा, दोनों ही तर्क सही नहीं थे.

मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा ने भोपाल ने संवाददाताओं से कहा, "MPPSC ने मध्‍य प्रदेश और महाराष्‍ट्र से संबंधित दो अधिकारियों को पेपर सेट करने की प्रक्रिया से बाहर कर दिया है. प्रश्‍न आपत्तिजनक था और इस बारे में एमपीपीएससी और उच्‍च शिक्षा विभाग को उन पर कार्रवाई के लिएए लेटर लिखाा गया है. "मिश्रा जो कि राज्‍य सरकार के प्रवक्‍ता भी हैं, ने कहा कि दूसरे राज्‍यों को भी यह जानकारी दी गई है कि इन दोनों अफसरों को प्रतिबंधित किया गया है लिहाजा इनकी सेवाओं का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए.  

इंदौर में संवाददाताओं से बात करते हुए एमपीपीएससी के ओएसडी रविंद्र पंचभाई ने कहा, "कश्‍मीर को लेकर पूछे गए सवाल के कंटेंट से हम सहमत नहीं हैं. इसलिए हमने परीक्षा से इस प्रश्‍न को हटा लिया है. " उन्‍होंने कहा, "पेपर को तैयार करने की प्रक्रिया में शामिल पेपर सेटर और मॉडरेटर को ब्‍लैकलिस्‍ट कर दियाा गया है, इसके मायने हैं कि उन्‍हें एमपीपीएससी की परीक्षा प्रक्रिया से स्‍थायी रूप से बाहर कर दिया गया है. हमने उनके खिलाफ अनुशासनात्‍मक कार्रवाई के लिए भी विभागों को लिखा है." हालांकि उन्‍होंने परीक्षा की गोपनीयता का हवाला देते हुए इन दोनों अधिकारियों के नामों का खुलासा करने से इनकार कर दिया. कश्मीर को लेकर आपत्तिजनक प्रश्न का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर आ गया था जिसके बाद आक्रोशित लोग एमपीपीएससी की परीक्षा में ऐसा सवाल किए जाने को लेकर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं. मध्‍य प्रदेश कांग्रेस के मीडिया कमेटी के चेयरमैन केके मिश्रा ने इस मामले में एमपीपीएससी के प्रमुख के इस्‍तीफे की मांग की. 

* कौन हैं एकनाथ शिंदे, उद्धव सरकार के संकट के लिए ज़िम्मेदार
* योग दिवस पर भी जेडीयू और बीजेपी के बीच दिखा तनाव, कार्यक्रम से दूर रहे नीतीश के मंत्री
* संयुक्त किसान मोर्चा ने अग्निपथ को ‘राष्ट्र विरोधी' बताया, 24 जून को देशव्यापी प्रदर्शन करेगा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वाराणसी के 84 घाटों पर योग करते दिखे लोग, गंगा के बीच नाव में भी किया गया योगाभ्यास



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)