Coronavirus: मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान को कल अस्पताल से छुट्टी मिलने की आशा

कोरोना पॉजिटिव मिलने पर नौ दिन से अस्पताल में भर्ती सीएम शिवराज सिंह में अब वायरस के लक्षण नहीं, रिपोर्ट निगेटिव आने पर हो सकती है अस्‍पताल से छुट्टी

Coronavirus: मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान को कल अस्पताल से छुट्टी मिलने की आशा

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह में अब कोरोना के लक्षण नहीं हैं (फाइल फोटो).

भोपाल:

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के कोरोना वायरस (Coronavirus) को मात देने में कामयाब होने की आशा है. अब उनमें कोविड के कोई लक्षण नहीं हैं. उनका कोविड-19 टेस्ट किया जा रहा है. रिपोर्ट यदि निगेटिव आई तो उनको कल अस्‍पताल से डिस्चार्ज किया जा सकता है. सीएम शिवराज सिंह ने स्वयं ट्वीट करके यह जानकारी साझा की है. वे कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए जाने के बाद पिछले नौ दिनों से अस्पताल में भर्ती हैं. 

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके कहा है कि ''आज अस्पताल में मेरा नौंवा दिन है. मैं स्वस्थ हूं, कोरोना का कोई लक्षण नहीं है. सुबह सैम्पल RT-PCR टेस्ट के लिए लिया गया है. रिपोर्ट निगेटिव आई तो कल अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 25 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. रिपोर्ट मिलने के तुरंत बाद उन्होंने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी थी. CM ने ट्वीट किया था, 'मेरे प्रिय प्रदेशवासियों, मुझे #COVID19 के लक्षण आ रहे थे, टेस्ट के बाद मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मेरी सभी साथियों से अपील है कि जो भी मेरे संपर्क में आए हैं, वह अपना कोरोना टेस्ट करवा लें. मेरे निकट संपर्क वाले लोग क्वारन्टीन में चले जाएं.'


जनसंपर्क में सक्रिय रहने वाले मध्यप्रदेश के सीएम सहित चार मंत्री और नौ विधायक कोरोना संक्रमित

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि 'मैं कोरोना गाइडलाइन का पूरा पालन कर रहा हूं. डॉक्टर की सलाह के अनुसार स्वयं को क्वारंटाइन करूंगा और इलाज कराऊंगा. मेरी प्रदेश की जनता से अपील है कि सावधानी रखें, जरा सी असावधानी कोरोना को निमंत्रण देती है. मैंने कोरोना से सावधान रहने के हरसंभव प्रयास किए लेकिन समस्याओं को लेकर के लोग मिलते ही थे. मेरी उन सबको सलाह है कि जो मुझसे मिले, वह अपना टेस्ट करवा लें.'