महाराष्ट्र पर मार्च पड़ा भारी, 30 दिन में सामने आए 6.5 लाख से ज्यादा मामले, सख्त गाइडलाइन जारी करने के संकेत

महाराष्ट्र में केवल मार्च महीने में कोरोना संक्रमण (Coronavirus Cases in Maharashtra) के 6.5 लाख से भी ज्यादा मामले सामने आए और 2465 लोगों की मौत हुई.

महाराष्ट्र पर मार्च पड़ा भारी, 30 दिन में सामने आए 6.5 लाख से ज्यादा मामले, सख्त गाइडलाइन जारी करने के संकेत

महाराष्ट्र कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • महाराष्ट्र में तेजी से फैल रहा कोरोनावायरस
  • नंदुरबार जिले में 15 अप्रैल तक लॉकडाउन
  • बढ़ते मामलों पर जल्द जारी होगी सख्त गाइडलाइन!
मुंबई:

महाराष्ट्र में केवल मार्च महीने में कोरोना संक्रमण (Coronavirus Cases in Maharashtra) के 6.5 लाख से भी ज्यादा मामले सामने आए और 2465 लोगों की मौत हुई. COVID-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए अलग-अलग जगहों पर सख्त कदम उठाए जा रहे हैं. नंदुरबार जिले में 15 अप्रैल तक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है, तो वहीं राज्य में और सख्त SOP जारी किए जाने के संकेत प्रशासन से जुड़े अधिकारियों ने दिए हैं. बुधवार को पुणे में कोरोना के 8553 मामले सामने आए और 31 लोगों की मौत हुई, जो पुणे में एक दिन में अब तक के सबसे ज्यादा मामले हैं.

कोरोना के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को देखते हुए पुणे महानगर पालिका ने कोरोना की वजह से घर में जिन लोगों की मौत हो रही है, उनके शव ले जाने के लिए नई गाइडलाइन जारी की है. घर में कोविड से मौत होने के बाद अब घरवालों को 4 PPE किट दिए जाएंगे और उन्हें ही शव को वैन तक ले जाना होगा. पुणे महानगर पालिका के चीफ इंजीनियर श्रीनिवास कंडुल ने इसकी जानकारी दी.

महाराष्‍ट्र : बेड नहीं मिला तो मरीज ने ऑक्‍सीजन मास्‍क लगाकर दिया धरना, बाद में अस्‍पताल में हुई मौत

हर रोज 400 से ज्यादा मामले आने की वजह से नंदुरबार जिले में अब 15 अप्रैल तक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है, तो वहीं लगातार बढ़ रहे मामलों का असर अस्पतालों पर भी पड़ रहा है. नासिक में बेड न मिलने पर 38 साल के कोविड संक्रमित बाबासाहेब ने नासिक महानगर पालिका के सामने ही ऑक्सीजन मास्क में धरना दिया और देर रात अस्पताल में उनकी मौत हो गई.

महाराष्ट्र के एक और जिले में कोविड पर सख्ती, नंदुरबार में 15 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन लगा

मुंबई में पिछले 30 दिनों में कोरोना संक्रमण के 88 हजार मामले सामने आए हैं. मुंबई की महापौर किशोरी पेडनेकर ने बताया कि आने वाले दिनों में और भी सख्ती से नियमों को शहर में लागू किया जाएगा और एक बार फिर मामले बढ़ने पर लॉकडाउन की आशंका की बात उन्होंने की.

Delhi में कोरोना के बढ़ते मामलों पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुलाई विशेष बैठक 


सरकार जहां कोरोना से निपटने के लिए और सख्ती अपनाने की बात कर रही है तो वहीं होटल और रेस्टोरेंट मालिक मांग कर रहे हैं कि सरकार उनके लिए कोई कदम उठाए, क्योंकि 8 बजे होटल बंद करने का असर उनके पहले से मंदे चल रहे व्यापार पर पड़ा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: महाराष्ट्र में कोरोना हुआ बेकाबू, इन जिलों में सबसे ज्यादा केस