महाराष्ट्र के एक और जिले में कोविड पर सख्ती, नंदुरबार में 15 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन लगा

महाराष्ट्र के नंदुरबार में पिछले कुछ दिनों में रोज-रोज 400 से ज्यादा कोविड के मामले सामने आ रहे थे, जिसके बाद जिला प्रशासन ने 15 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है.

महाराष्ट्र के एक और जिले में कोविड पर सख्ती, नंदुरबार में 15 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन लगा

महाराष्ट्र के नंदुरबार में कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया गया फैसला. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई:

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए यहां अब एक और जिले में लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रशासन ने बड़ा फैसला लिया है और महाराष्ट्र के नंदुरबार में आज से संपूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है. जिले में आज से 15 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा. इस अवधि में जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी. 

नंदुरबार के जिला प्रशासन ने 31 मार्च की आधी रात से लेकर 15 अप्रैल तक लॉकडाउन लगा दिया है. लॉकडाउन के दौरान सभी गैर-जरूरी सेवाएं और बाकी चीजें जैसे कि स्थानीय बाजार, सिनेमा हॉल, मॉल और धार्मिक स्थल बंद रहेंगे.

बता दें कि संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला तब लिया गया है, जब पिछले कुछ दिनों में जिले में रोज-रोज 400 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. यहां नांदेड़ और अमरावती जैसे जिलों में लॉकडाउन लगाया गया था. वहीं, पूरे महाराष्ट्र में रविवार से नाइट कर्फ्यू की घोषणा की जा चुकी है.

यह भी पढ़ें : पुणे नगर निगम का नया नियम : अब कोविड से घर पर मौत हुई तो परिजनों को खुद संभालना होगा शव

बता दें कि महाराष्ट्र में भयानक तेजी से कोरोना के मामले बढ़े हैं. कोरोना की दूसरी लहर में महाराष्ट्र के जिलों से ही सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. वो भी इनमें सबसे ऊपर पुणे का नंबर है. महाराष्ट्र से जितने भी केस सामने आ रहे हैं, उनमें से 21 फीसदी पुणे से आ रहे हैं. 

महाराष्ट्र में बुधवार को संक्रमण के 39,544 नये मामले सामने आये थे जो महामारी की शुरूआत के बाद से एक दिन का दूसरा सबसे अधिक मामला है. इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 28,12,980 हो गयी है. इससे तीन दिन पहले (28 मार्च) प्रदेश में कोविड-19 के 40,414 नये मामले सामने आये थे जो अब तक का एक दिन का सर्वाधिक मामला है. 


वहीं, मुंबई में 5,399 नये मामले सामने आए थे, जिसके बाद यहा संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 4,14,773 हो गई. यहां 15 संक्रमितों की मौत से मरने वालों की कुल संख्या 11,690 पर पहुंच चुकी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मुंबई के स्लम में टीकाकरण क्यों नहीं आसान?