विज्ञापन
Story ProgressBack

भाभी-ननद, भाई-बहन, ससुर-बहू से पूर्व पति-पत्नी तक... अपनों के खिलाफ चुनावी जंग में उतरे रिश्तेदार

18 वीं लोकसभा चुनाव के लिए 7 चरण में वोट डाले गए. अब सबकी नजर मतगणना पर है. एग्जिट पोल में एनडीए की जीत का दावा किया गया है.

Read Time: 3 mins
भाभी-ननद, भाई-बहन, ससुर-बहू से पूर्व पति-पत्नी तक... अपनों के खिलाफ चुनावी जंग में उतरे रिश्तेदार
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2024 (Lok sabha election 2024) के नतीजे का इंतजार पूरा देश कर रहा है. यह चुनाव बेहद रोचक हुआ है. कई सीटों पर रिश्तेदार ही आपस में टकरा रहे हैं. कहीं मुकाबला ननद और भाभी के बीच है तो कहीं भाई और बहन आमने-सामने हैं. तलाक के बाद पति पत्नी भी चुनावी दंगल में दो-दो हाथ कर रहे हैं. आइए देखते हैं रिश्तेदारों के बीच हो रहे इस रोचक जंग में कौन किसके ऊपर पड़ सकता है भारी. 

बारामती में ननद-भाभी में जोरदार टक्कर
देश में एक लोकसभा सीट ऐसी है जहां एक ही परिवार के दो लोगों ने एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. यह मुकाबला हुआ महाराष्ट्र की बारामती सीट पर जहां टक्कर ननद और भाभी के बीच है. इस सीट पर शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले और अजीत पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार के बीच मुकाबला है. यहां कौन बाजी मारेगी, इस सवाल को लेकर एग्जिट पोल भी बंटे हुए हैं. शरद पवार की पार्टी में टूट के बाद यह पहला चुनाव है ऐसे में सबकी नजर इस सीट पर है. 

पूर्व पति-पत्नी एक-दूसरे के खिलाफ
पश्चिम बंगाल की बिष्णुपुर सीट पर पूर्व पति-पत्नी के बीच राजनीतिक मुकाबला है. यहां से बीजेपी सांसद सौमित्र खान मैदान में है. टीएमसी ने उनकी पूर्व पत्नी सुजाता मंडल को उम्मीदवार बनाया है. पिछले चुनाव में सौमित्र ने श्यामल संत्रा को हराया था. हालांकि दोनों ही अब एक दूसरे से अलग हो चुके हैं. मुकाबला बेहद रोचक माना जा रहा है. 

आंध्र प्रदेश में भाई-बहन के बीच टक्कर
आंध्र प्रदेश की कडप्पा लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने वाईएस शर्मिला को मैदान में उतारा है. चुनाव में शर्मिला के सामने उनके चचेरे भाई वाईएस अविनाश रेड्डी हैं. अविनाश को वाईएसआर कांग्रेस ने चुनावी मैदान में उतारा है. शर्मिला पूर्व सीएम वाईएस राजशेखर रेड्डी की बेटी हैं और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी प्रमुख जगह जगन मोहन रेड्डी की बहन है. 

चौटाला परिवार आमने-सामने
हरियाणा की हिसार सीट पर भी रोचक मुकाबला हो रहा है. बीजेपी ने रणजीत चौटाला को टिकट दिया है.  लोकदल ने सुनैना चौटाला को मैदान में उतारा है. रणजीत रिश्ते में सुनैना के चाचा ससुर हैं.  यहां मुख्य मुकाबला चौटाला परिवार के बीच ही है. 

ये भी पढ़ें- : 

46 दिन, 7 चरण : 642 मिलियन वोटर्स ने किसके सिर सजाया ताज, कल खुलेगा राज

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
अब भी पूछेंगे युवा क्यों छोड़ते हैं देश... : NEET-PG एग्जाम पोस्टपोन होने पर छलका छात्रा का दर्द, बयां की आपबीती
भाभी-ननद, भाई-बहन, ससुर-बहू से पूर्व पति-पत्नी तक... अपनों के खिलाफ चुनावी जंग में उतरे रिश्तेदार
CSIR-UGC-NET की परीक्षा भी हुई स्थगित, NTA ने संसाधनों की कमी का दिया हवाला
Next Article
CSIR-UGC-NET की परीक्षा भी हुई स्थगित, NTA ने संसाधनों की कमी का दिया हवाला
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;