'5 साल से उसका चेहरा नहीं देखा...' : US में सुसाइड करने वाली मनदीप के भाई का छलका दर्द

संदीप ने कहा, " मेजोरिटी की सरकार है. सरकार चाहे तो दो घंटे का भी काम नहीं है ये. आसानी से शव को भारत लाया जा सकता है. हम इंतजार कर रहे हैं कि सरकार हमारी समस्या का कोई हल निकाल दे."

नई दिल्ली:

घरेलू हिंसा से परेशान होकर अमेरिका में आत्महत्या करने वाली भारतीय मूल की महिला मनदीप कौर के परिजन उसके शव को भारत लाने के लिए जद्दोजेहद कर रहे हैं. लेकिन अब तक इस ओर उन्हें कोई सफलता हाथ नहीं लगी है. इसी क्रम में शुक्रवार को एनडीटीवी से मनदीप के भाई संदीप सिंह ने बात की और मोदी सरकार से मांग की, कि उनकी बहन की शव को भारत लाने में वो उनकी मदद करे. साथ ये आरोप भी लगाया कि सरकार पूरे मामले को हल्के में ले रही है. 

संदीप ने कहा, " मेजोरिटी की सरकार है. सरकार चाहे तो दो घंटे का भी काम नहीं है ये. आसानी से शव को भारत लाया जा सकता है. हम इंतजार कर रहे हैं कि सरकार हमारी समस्या का कोई हल निकाल दे. पर ऐसा नहीं हुआ. लेकिन वो कुछ तो करे. मेरी बहन के शव का क्या होगा? एक हफ्ते से अधिक वक्त हो गया है. डेड बॉडी की क्या स्थिति हो रही होगी?" 

उन्होंने कहा, " क्या हम आखिरी बार उसका चेहरा भी देख पाएंगे. पांच साल से हमने उसका चेहरा नहीं देखा है, कम से कम हमें शव इस हाल में तो मिले कि हम शक्ल देख सकें. मैं तो खैर भाई हूं, कम से कम मेरे मां-पापा तो अपनी बच्ची की शक्ल आखिरी बार देख लें."

मनदीप के बच्चों की कस्टडी के संबंध में पूछने पर उन्होंने कहा, " बच्चों की कस्टडी की हम डिमांड कर रहे हैं. साथ ही शव लाने की भी. हमारी कोई और मांग नहीं है. ये हमारा हक है. मेरा हत्यारा बहनोई बचने के लिए हर हथकंडे अपना रहा है. वो चाहता है कि शव का जल्दी अंतिम संस्कार हो और मामला रफादफा हो. क्या सरकार उसे बचा रही है. हमने उसके खिलाफ हर सबूत दिया है. फिर भी हमें निराशा हाथ लगी है. क्या बेटियां ऐसे ही मरती रहेंगी? "

उन्होंने कहा, " हमारा कोई संपर्क बच्चों से नहीं हो पा रहा है. वे काफी डरे हुए हैं और हमारे साथ ही रहना चाहते हैं. लेकिन अगर इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई तो आगे भी ऐसी ही घटनाएं होती रहेंगी."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ें -
-- "मैं प्रवर्तन निदेशालय को आने और रुकने के लिए आमंत्रित करता हूं" : NDTV से तेजस्‍वी यादव
-- "नौकरी देने का वादा तो CM बनने पर था अभी तो हम डिप्टी हैं" गिरिराज ने तेजस्वी पर कसा तंज