देश में ब्लैक फंगस के अब तक कुल 28,252 मामले सामने आए, महाराष्ट्र में सबसे अधिक केस

म्यूकर माइकोसिस के 86 प्रतिशत मामलों में कोविड-19 के संक्रमण का इतिहास रहा है और 62.3 प्रतिशत केसों में मधुमेह का इतिहास रहा है

देश में ब्लैक फंगस के अब तक कुल 28,252 मामले सामने आए, महाराष्ट्र में सबसे अधिक केस

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (फाइल फोटो).

खास बातें

  • ब्लैक फंगस के महाराष्ट्र में 6,339, गुजरात में 5,486 मामले
  • उच्च स्तरीय मंत्रियों के समूह की 28 वीं बैठक हुई
  • देश में कोरोना के 1,00,636 नए मामले सामने आए
नई दिल्ली:

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश के 28 राज्यों में म्यूकर माइकोसिस (ब्लैक फंगस)  के कुल 28,252 मामले सामने आए हैं. इनमें से 86 प्रतिशत, यानी 24,370 मामलों में कोविड-19 के संक्रमण का इतिहास रहा है और 62.3 प्रतिशत, यानी 17,601 केसों में मधुमेह का इतिहास रहा है. महाराष्ट्र में म्यूकर माइकोसिस (Mucormycosis) के सबसे अधिक 6,339 मामले सामने आए हैं. इसके बाद गुजरात  में 5,486 मामले सामने आए हैं.

आज वीडियो-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से COVID-19 पर उच्च स्तरीय मंत्रियों के समूह (GoM) की 28 वीं बैठक हुई. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने इस बैठक की अध्यक्षता की. बैठक में विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर, केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप पुरी, गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे शामिल हुए.

डॉ हर्षवर्धन ने देश में कोविड-19 के हालात और इसे नियंत्रित करने के प्रयासों का जिक्र करते हुए कहा कि  “रिकवरी रेट बढ़ रहा है और आज यह 93.94 प्रतिशत है. पिछले 24 घंटों में आज पिछले 61 दिनों में एक दिन में सबसे कम नए मामले सामने आए हैं. आज केवल एक लाख से कुछ अधिक मामले (1,00,636) आए हैं. इन 24 घंटों में 1,74,399 मरीज ठीक हुए हैं. देश में कोविड से मृत्यु दर 1.20 रही है. आज लगातार 25वां दिन है जब रोज स्वस्थ होने वालों की संख्या नए मामलों से अधिक है.

डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि “आज सुबह तक हमने विभिन्न श्रेणियों में देशवासियों को वैक्सीन की 23,27,86,482 डोज दी हैं. 18-44 आयु वर्ग की बात करें तो 2,86,18,514 लोगों को पहली डोज दी गई है. आज की स्थिति में राज्यों के पास 1.4 करोड़ से अधिक डोज अभी भी उपलब्ध हैं. अन्य श्रेणियों के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि 60 से अधिक आयु वर्ग में 6,06,75,796 लोगों और 45-59 आयु वर्ग में 7,10,44,966 लोगों को पहली डोज दी गई है.


ब्लैक फंगस का इंजेक्शन लगाते ही 27 मरीजों की हालत बिगड़ी, बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में मचा हड़कंप

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि “सात जून की सुबह तक हमने 36.6 करोड़ (36,63,34,111) टेस्ट किए हैं और कल छुट्टी होने के बावजूद 15 लाख से अधिक टेस्ट किए गए हैं. टेस्टिंग के लिए लैबों की संख्या भी 2,624 हो गई है. दैनिक पॉजिटिविटी रेट भी घट रहा है और यह 6.34 फीसदी पर है. देश के 15 राज्य ऐसे हैं जहां दैनिक पॉजिटिविटी रेट 10 प्रतिशत से अधिक है.