पोषण विशेषज्ञ ने बताए Alive Seeds के जबरदस्त फायदे, जानें कैसे करें डाइट में शामिल

Benefits Of Alive Seeds: सेलेब न्यूट्रिशनिस्ट ऋजुता दिवेकर के अनुसार, अलीव के बीज कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रहे लोगों की मदद कर सकते हैं.

पोषण विशेषज्ञ ने बताए Alive Seeds के जबरदस्त फायदे, जानें कैसे करें डाइट में शामिल

अलीव के बीज पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और इसलिए कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं

Alive Seeds Benefits: अलीव के बीज जिन्हें हलीम के बीज या असारियो के नाम से भी जाना जाता है. ये बीज कई प्रकार के पोषक तत्वों से भरे होते हैं और इसलिए इसके कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं और इसलिए यह आपकी डाइट के लिए एक फायेमंद एडिशनल है. अलिव के बीजों को व्यापक रूप से गार्डन क्रेस सीड्स कहा जाता है और वे एसिडिटी और सूजन जैसी सामान्य समस्याओं से निपटने में मदद करने के अलावा समग्र स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देते हैं. प्रोटीन और आयरन से भरपूर होने के अलावा ये बीज फाइबर से भी भरपूर होते हैं. जीवित बीजों के कई उपयोगों को ध्यान में रखते हुए पोषण विशेषज्ञ ऋजुता दिवेकर एक "सीक्रेट ब्यूटी पिल" के रूप में संदर्भित करते हुए एक पोस्ट में उनके लाभों के बारे में बताती हैं.

Skincare Tips For Men: फेमस डर्मेटोलॉजिस्ट जयश्री शरद से जानें पुरुष कैसे करें अपनी स्किन की देखभाल

अपनी पोस्ट में ऋजुता दिवेकर ने कहा कि अलीव बीजों का लड्डू के रूप में सबसे अच्छा सेवन किया जा सकता है, "नारियल, गुड़ और घी के साथ". लड्डू की थाली की तस्वीर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, "नंगे हाथों से लुढ़के, दिल में प्यार और होठों पर मुस्कान."

उन्होंने आगे लिस्टेड किया कि कौन अलीव बीजों का सेवन कर सकता है. ऋजुता दिवेकर ने कहा कि बीज "हर युवा लड़के और लड़की के लिए जरूरी हैं ताकि उनमें आयरन की कमी न हो और स्ट्रॉन्ग हीमोग्लोबिन लेवल के साथ युवावस्था में आसानी से संक्रमण से लड़ सकें."

किशोरों के लिए ये बीज जरूरी हैं, ऋजुता दिवेकर ने कहा, यह समझाते हुए कि फोलेट ब्रेकआउट को रोकने में मदद करेगा. उन्होंने अलिव को "प्री और पोस्ट मेनोपॉज" के रूप में भी वर्णित किया, जो प्रत्येक कपल्स के लिए एक परिवार शुरू करने की योजना बनाने की सिफारिश करता है.

पोषण विशेषज्ञ कहते हैं कि अलीव "प्री और पोस्ट मेनोपॉज के बाद का अनुभव करने वाले किसी भी व्यक्ति की डाइट का एक अनिवार्य हिस्सा है क्योंकि सल्फोराफेन त्वचा पर पिग्मेंटेशन को रोकने और साफ़ करने में मदद करता है." उन्होंने यह भी कहा कि अलीव बीज एसिडिटी, सूजन और अन्य ट्रेवल हेडएच को रोकने में मदद कर सकते हैं.

Side Effects Of Warm Water: ज्यादा गर्म पानी पीने के नुकसान, रहें सावाधान नहीं तो होंगी ये परेशानियां...

आप यहां पोस्ट देख सकते हैं:

इससे पहले ऋजुता दिवेकर ने "सर्दियों के लिए दिव्य व्यंजनों" का एक ग्रुप भी लिस्टेड किया था. उसके टॉप 5 इंग्रेडिएंट्स गन्ना, बेर, इमली, आंवला और तिल गुल हैं.

सर्दियों में जुकाम होने से पहले ही करें बचाव, यहां हैं 5 तरीके जो कॉमन कोल्ड से बचाएंगे

पोषण विशेषज्ञ हमेशा हेल्दी घर के बने भोजन और लोकल प्रोडक्ट्स पर ध्यान केंद्रित करती हैं जो मन और शरीर के लिए फायदेमंद होगा.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

दिखने में अच्छी नहीं लगती बाजुओं पर लटकती चर्बी, अपनी आर्म्स को टोन करने के लिए ट्राई करें ये एक्सरसाइज

आपके बच्चे में भूख की कमी, कमजोर हड्डियां और डार्क यूरिन के साथ ये 6 लक्षण दिखें, तो हो सकता है थैलेसीमिया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

शरीर में Imbalance Hormone बनते हैं कई बीमारियों का कारण, हार्मोन्स को बैलेंस करने के लिए अपनाएं ये 6 तरीके