विज्ञापन
Story ProgressBack

डॉक्टर से जाने बालों के झड़ने पर कब महिलाओं को होना चाहिए परेशान? इलाज कराने की आ गई है नौबत वरना हो जाएंगे गंजे

मेडिकल प्रोफेशनल्स के मुताबिक, महिलाओं में बालों की दिक्कत को लेकर कई बार घबराने की कोई जरूरत नहीं होती. वहीं, कई बार समय रहते इलाज करवा लेने से बाल वापस भी आ जाते हैं.

Read Time: 3 mins
डॉक्टर से जाने बालों के झड़ने पर कब महिलाओं को होना चाहिए परेशान? इलाज कराने की आ गई है नौबत वरना हो जाएंगे गंजे
झड़ते बालों की समस्या कब हो जाती है गंभीर जानें.

Hair loss: बालों के टूटने, गिरने और झड़ने की दिक्कत को लेकर कुछ महिलाएं बेवजह तनाव में आ जाती हैं. दूसरी ओर, कई महिलाएं इसे नजरअंदाज करती, टालती या इधर-उधर से सलाह लेकर समस्या को और ज्यादा बढ़ा देती हैं. हेयर फॉल की प्रॉब्लम में दोनों ही सूरत में महिलाओं के लिए सही नहीं है. मेडिकल प्रोफेशनल्स के मुताबिक, महिलाओं में बालों की दिक्कत को लेकर कई बार घबराने की कोई जरूरत नहीं होती. वहीं, कई बार समय रहते इलाज करवा लेने से बाल वापस भी आ जाते हैं.

महिलाओं के सामने इस बात का कंफ्यूजन बना रहता है कि हेयर लॉस या हेयर फॉल की दिक्कत में कब परेशान नहीं होना चाहिए और इसमें कब डॉक्टर्स के पास जाने की जरूरत होती है. महिलाओं को कब जागरूक होकर एहतियातन जरूरी कदम उठाना चाहिए? बालों की समस्या में महिलाओं के लिए आखिर कब अलार्मिंग सिचुएशन होता है? आइए, डॉक्टर  आरिका बंसल (Dr. Arika Bansal, Eugenix Hair Sciences) से इसके बारे में और अधिक डिटेल में जानने की कोशिश करते हैं.

हेयर लॉस को लेकर महिलाओं के लिए क्या है अलार्मिंग सिचुएशन (What is the alarming situation for women regarding hair loss)

Latest and Breaking News on NDTV

एक्सपर्ट के मुताबिक, रोजाना 70 से 100 बाल तक गिरना या टूटना सामान्य बात है. इसमें महिलाओं को बिल्कुल नहीं घबराना चाहिए. जब रोजाना इससे ज्यादा बाल झड़ने लग जाए तब महिलाओं को जागरूक होना चाहिए. इसके बाद महिलाओं को तीन-तीन महीने के अंतर पर अपने सिर की कई एंगल से तस्वीरें लेकर उसकी तुलना करना चाहिए.

कम उम्र ही सफेद हो गए हैं बाल, तो बाल काले करने के लिए इस पॉपुलर घरेलू नुस्खे को अपनाएं, लंबे समय तक रहेंगे बाल काले

बालों की चोटी का वॉल्यूम कम होने, सामने मांग की जगह पर स्किन दिखने और बगल से बालों की डेंसिटी घटने जैसे लक्षण होने पर महिलाओं को फौरन डॉक्टर्स से सलाह लेनी चाहिए. क्योंकि महिलाओं के लिए दोनों ही अलार्मिंग सिचुएशन हैं कि उन्हें ट्रीटमेंट के लिए अलर्ट हो जाना चाहिए.

एक्सपर्ट -  (Dr. Arika Bansal, Eugenix Hair Sciences)

यह लेख यूजीनिक्स हेयर साइंस की डॉक्टर आरिका बंसल से बातचीत पर आधारित है.

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
आंवला, बादाम और प्याज, नोट कर लो ये 3 नाम, सफेद बालों के लिए हैं वरदान, यूं इस्तेमाल किया तो नहीं पड़ेगी मेहंदी, डाई या कलर करने की जरूरत
डॉक्टर से जाने बालों के झड़ने पर कब महिलाओं को होना चाहिए परेशान? इलाज कराने की आ गई है नौबत वरना हो जाएंगे गंजे
डाइट में प्रोटीन बढ़ाना है, तो गर्मियों में इन 8 सुपरफूड्स का करें रोज सेवन, मसल्स बनाने के साथ तंदुरुस्त रहेगा शरीर
Next Article
डाइट में प्रोटीन बढ़ाना है, तो गर्मियों में इन 8 सुपरफूड्स का करें रोज सेवन, मसल्स बनाने के साथ तंदुरुस्त रहेगा शरीर
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;