दिल्ली : कोविड वॉर्ड में तैनात डॉक्टर ने की आत्महत्या

दिल्ली (Delhi Doctor Suicide) के प्राइवेट अस्पताल के कोविड वॉर्ड में तैनात एक रेजिडेंट डॉक्टर ने आत्महत्या कर ली है. डॉक्टर का नाम विवेक राय था.

दिल्ली : कोविड वॉर्ड में तैनात डॉक्टर ने की आत्महत्या

डॉक्टर विवेक राय मालवीय नगर में रहते थे.

खास बातें

  • दिल्ली के डॉक्टर ने की आत्महत्या
  • डॉक्टर का नाम विवेक राय
  • कोविड वॉर्ड में तैनात थे विवेक राय
नई दिल्ली:

दिल्ली (Delhi Doctor Suicide) के प्राइवेट अस्पताल के कोविड वॉर्ड में तैनात एक रेजिडेंट डॉक्टर ने आत्महत्या कर ली है. डॉक्टर का नाम विवेक राय था. 35 वर्षीय विवेक मालवीय नगर में अपनी पत्नी के साथ रहते थे. वह साकेत स्थित मैक्स अस्पताल में काम करते थे. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) के पूर्व प्रमुख डॉक्टर रवि वानखेड़कर ने ट्वीट कर दावा किया कि कोरोनावायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर के चलते विवेक तनाव में थे. इसी वजह से उन्होंने खुदकुशी जैसा घातक कदम उठाया. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

मालवीय नगर पुलिस ने बताया कि एक महिला ने उन्हें कॉल करके सूचना दी कि उनकी दोस्त के पति दरवाजा नहीं खोल रहे हैं. जानकारी मिलने के बाद ASI जगदीश कुमार मौके पर पहुंचे और पाया कि विवेक राय का शव साड़ी के सहारे सीलिंग फैन से लटका हुआ था. क्राइम टीम ने मौके पर पहुंच जांच-पड़ताल की.

आईएएस अधिकारी लव अग्रवाल के भाई की गोली लगने से संदिग्ध मौत, शव मिला

कमरे की तलाशी में पुलिस को एक सुसाइड नोट बरामद हुआ, जिसमें विवेक ने आत्महत्या के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया था. शव को पोस्टमार्टम के लिए AIIMS मॉर्चरी में भिजवाया गया.

दिल्ली पुलिस के DCP ने इस बारे में कहा कि प्राथमिक जांच के बाद यह पाया गया है कि सुसाइड नोट में हत्या की वजह का जिक्र नहीं किया गया है. विवेक राय ने नोट में सभी लोगों की बेहतरी की कामना की है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

IMA के पूर्व चीफ डॉक्टर रवि वानखेड़कर ने इस बारे में ट्वीट किया, 'गोरखपुर के रहने वाले विवेक राय एक बेहद काबिल डॉक्टर थे. उन्होंने महामारी के दौर में सैकड़ों लोगों की जान बचाई.'

उन्होंने कहा कि डॉक्टर राय पिछले एक महीने से अस्पताल में कोविड मरीजों को देख रहे थे. वो हर रोज 7 से 8 गंभीर हालत के मरीजों का इलाज कर रहे थे. कोरोना की वजह से लोगों की मौत से वो डिप्रेशन का शिकार हो गए. इसी स्थिति से आजिज आकर उन्होंने अपना जीवन खत्म करने का फैसला किया.

पूर्व IMA प्रमुख ने ट्वीट किया, 'यह घटना कोविड संकट का प्रबंधन करते समय जबरदस्त भावनात्मक तनाव को ध्यान में लाती है. एक युवा डॉक्टर की मौत 'सिस्टम' द्वारा हत्या से कम नहीं है, जिसने बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी के साथ निराशा पैदा की है. खराब विज्ञान, खराब राजनीति और खराब शासन.'

(अगर आपको सहायता की ज़रूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं, जिसे मदद की दरकार है, तो कृपया अपने नज़दीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं) हेल्‍पलाइन : 1) वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ - <a href="tel:+9118602662345">1860-2662-345</a> अथवा help@vandrevalafoundation.com 2) TISS iCall - <a href="tel:+9102225521111">022-25521111</a> (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध - सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: गोंडा : पेड़ से लटका मिला मां-बेटी का शव, छेड़खानी से तंग आकर आत्महत्या का शक