आईसीसी-विंडीज बोर्ड ने मिलकर कर दिया "गेम", कहीं टीम इंडिया के साथ टी20 विश्व कप में न हो जाए यह बड़ा खेला

World Cup 2024: क्रिकेट में दुर्भाग्य छोटे से छोटे संकरे रास्ते से प्रवेश कर सकता है. ऐसे में टीम इंडिया और करोड़ों भारतीयों को भी दुआ करनी होगी टी20 विश्व कप में

आईसीसी-विंडीज बोर्ड ने मिलकर कर दिया

T20 World Cup 2024: टीम इंडिया के लिए करोड़ों फैंस को एक दुआ भी करनी होगी

नई दिल्ली:

समीकरण ऐसे बन रहे हैं कि टीम इंडिया जून में होने वाले टी20 विश्व कप (T20 World Cup 2024) के  दूसरे सेमीफानल में पहुंच सकती है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) और विंडीज क्रिकेट बोर्ड ने मिलकर दूसरे सेमीफाइनल की प्लेइंग कंडीशन (मैच के नियम) में ऐसा बदलाव कर दिया है, जो टीम इंडिया को खासा नुकसान पहुंचा सकता है.  सह-मेजबान देश और पैतृक संस्था ने मिलकर तय किया है कि बारिश होने की सूरत में विजेता विजयी टीम की प्राप्ति के लिए दूसरा सेमीफाइनल मैच 250 मिनट (चार घंटे और 10 मिनट) तक खेला जाएगा. कुल मिलाकर अगर बारिश आती है, तो उस दिन मैच पूरा करने के लिए आठ घंटे से ज्यादा का समय होगा. 

यह भी पढ़ें:

कोच के सामने हैं ये 5 बडे़ चैलेंज, जो खरा उतरेगा, वही बनेगा


जानें कितना वेतन मिलता था शास्त्री और द्रविड़ को

जानें कितना बड़ा कुनबा होगा कोच के साथ

मगर बात यह है कि बारिश होने की सूरत में दूसरे सेमीफाइनल के लिए रिजर्व-डे का प्रावधान नहीं है. और दूसरा सेमीफाइनल खेलने वाली टीमें इंद्र भगवान से यही प्रार्थना करेंगी कि इस दिन विशेष बारिश न हो क्योंकि ग्रुप स्टेज में शीर्ष पर रहने वाली टीम बारिश से मैच धुलने की सूरत में फाइनल में पहुंच जाएगी. 

ऐसी स्थिति फाइनल और दूसरे नॉकआउट के बीच एक दिन का अंतर रखने के कारण की गई है. कार्यक्रम के अनुसार पहला सेमीपाइनल त्रिनिडाड में 26 जून को खेला जाएगा, तो ठीक अगला 27 जून को रिजर्व-डे रखा गया है, लेकिन दूसरे सेमीफाइनल के साथ रिजर्व-डे का प्रावधान नहीं है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला 27 जून को गयाना में खेला जाएगा, तो फाइनल मुकाबला 29 जून को किंग्सटन ओवल (ब्रिजटाउन) में खेला जाएगा. नए नियमों के हिसाब से फाइनल में पहुंचने वाली टीमों के लिए 28 जून का दिन ट्रैवलिंग का दिन होगा. और अगर कुछ उलट-पुलट हुआ, तो टीम इंडिया बदले हुए नियमों का शिकार हो सकती है. साल 2007 की विजेता भारतीय टीम को चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान, कनाडा, यूएसए और आयरलैंड के साथ ग्रुप ए में रखा गया है. और अगर भारत क्वालीपाई करता है, तो वह दूसरे सेमीफाइनल का हिस्सा बनेगा.