सीरीज शुरू होने से पहले ही इंग्लैंड विकेटकीपर बेन फॉक्स के सामने पैदा हुयी यह चुनौती

India vs England: बेन फॉक्स ने श्रीलंका में 2018 में टेस्ट पदार्पण करते हुए शतक जड़ा था जबकि विकेट के पीछे चार शिकार भी किए थे. सरे के इस क्रिकेटर ने कहा कि वह उपमहाद्वीप में खेलने की चुनौती से वाकिफ हैं.  स्वप्निल पदार्पण के बावजूदबेन फॉक्स अब तक सिर्फ पांच टेस्ट खेल पाए हैं.

सीरीज शुरू होने से पहले ही इंग्लैंड विकेटकीपर बेन फॉक्स के सामने पैदा हुयी यह चुनौती

इंग्लैंड के विकेटकीपर बेन फॉक्स

चेन्नई:

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज शुरू होने में करीब चार-पांच दिन बाकी बचे हैं, लेकिन इंग्लैंड के विकेटकीपर बेन फॉक्स (Ben fokes) को अभी से ही चुनौती महसूस होने लगी है. इंग्लैंड और भारत की टीम टेस्ट सीरीज के लिए मंगलवार से अभ्यास करना शुरू करेंगी. और अभ्यास के बाद बेन फॉक्स का चैलेंज सुलझ पाएगा या नहीं, यह फिर सीरीज शुरू होने पर ही पता चलेगा.  बेन फॉक्स ने कहा कि उपमहाद्वीप में स्पिन की अनुकूल पिचों पर स्पिनरों के खिलाफ विकेट पर आगे खड़े होकर विकेटकीपिंग करते हुए एकाग्रता बनाए रखना उन्हें चुनौतीपूर्ण लग रहा है, लेकिन वह भारत के खिलाफ चार टेस्ट की श्रृंखला के दौरान ऐसा करने को लेकर उत्साहित हैं. बता दें कि इंग्लैंड की रोटेशन नीति के तहत पहली पसंद के विकेटकीपर जोस बटलर पहले टेस्ट के बाद स्वदेश लौटेंगे और ऐसे में बेन फॉक्स को दूसरे टेस्ट में विकेटकीपिंग का मौका मिल सकता है, जबकि अंतिम दो टेस्ट के लिए जॉनी बैर्यस्टो टीम से जुड़ेंगे.

एंजियोप्लास्टी के बाद सौरव गांगुली की हालत स्थिर, प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट किया गया

बेन फॉक्स ने रविवार को ऑनलाइन मीडिया कांफ्रेंस में कहा, ‘श्रीलंका या एशिया में मुख्य रूप से मुश्किल लंबे समय तक विकेट पर आगे खड़े होना और एकाग्रता बनाए रखना है, आपको पता है कि गेंद तेजी से स्पिन लेगी इसलिए आपको गेंद पर प्रतिक्रिया देने के लिए तैयार रहना होता है.'उपमहाद्वीप की पिचों पर कम उछाल के कारण विकेटकीपर को विकेटों के करीब खड़ा होना होता है. इसके कारण उन्हें प्रतिक्रिया देने के लिए कम समय मिलता है.

रहाणे ने टीम की जर्सी देकर जीता था दिल अब खुद लियोन ने कही दिल जीतने वाली बात 

फोक्स ने कहा, ‘पीछे खड़ा होने भी काफी चुनौतीपूर्ण होता है. प्रतिक्रिया के समय में कमी लाना असली चुनौती है और एशिया में पीछे खड़े होने में मुझे मुश्किल होती है.'बेन फॉक्स ने दो साल के बाद टेस्ट टीम में जगह बनाई है और यह 27 वर्षीय खिलाड़ी भारत जैसी शीर्ष टीम के खिलाफ खेलने को लेकर रोमांचित है. उन्होंने कहा, ‘भावनाएं हावी हो रही हैं, थोड़ा नर्वस हूं, भारत में खेलने की संभावना को लेकर काफी रोमांचित. यह खेलने के लिए शानदार जगह है और उनका बल्लेबाजी क्रम सितारों से सजा है. यह देश क्रिकेट को लेकर इतना जुनूनी है और यहां खेलने का मौका मिलना बेहतरीन है.'

इस वजह से मोहम्मद हफीज को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ नहीं मिली पाकिस्तान टी20 टीम में जगह


बेन फॉक्स ने श्रीलंका में 2018 में टेस्ट पदार्पण करते हुए शतक जड़ा था जबकि विकेट के पीछे चार शिकार भी किए थे. सरे के इस क्रिकेटर ने कहा कि वह उपमहाद्वीप में खेलने की चुनौती से वाकिफ हैं.  स्वप्निल पदार्पण के बावजूदबेन फॉक्स अब तक सिर्फ पांच टेस्ट खेल पाए हैं. वेस्टइंडीज के 2019 के दौरे पर वह बल्ले से जूझते रहे. इसके बाद वह बटलर और बेयरस्टॉ जैसे विश्वस्तरीय विकेटकीपरों की मौजूदगी वाली राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के लिए जूझते रहे हैं. बेन फॉक्स को पता है कि असाधारण प्रदर्शन ही उन्हें अंतिम एकादश में स्थायी जगह दिला सकता है. उन्होंने कहा, ‘आपको स्वीकार करना होगा कि आपको तब तक लंबे समय तक मौका नहीं मिलेगा जब तक कि आप प्रत्येक मैच में अच्छा प्रदर्शन नहीं करो. आपको इसका सामना करना होगा और मौका मिलने पर अच्छा प्रदर्शन करना होगा.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.