रूसी राष्ट्रपति पुतिन के तख्तापलट की कोशिश जारी: यूक्रेनी सैन्य अधिकारी

मेजर जनरल कायरलो बुडानोव ने कहा कि रूस यूक्रेन में युद्ध हार गया, तो पुतिन को हटा दिया जाएगा और उनका देश ढह जाएगा. "यह अंततः रूसी संघ के नेतृत्व के परिवर्तन की ओर ले जाएगा. उनके मुताबिक यह प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है और वे उस तरह से आगे बढ़ रहे हैं,"

रूसी राष्ट्रपति पुतिन के तख्तापलट की कोशिश जारी: यूक्रेनी सैन्य अधिकारी

यूक्रेनी सैन्य अधिकारी का बड़ा दावा

नई दिल्ली:

पूर्वी यूरोप में चल रहे युद्ध के बीच, यूक्रेन के एक शीर्ष सैन्य अधिकारी ने सनसनीखेज दावा किया है. अधिकारी ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को हटाने के लिए तख्तापलट की कोशिश हो रही है और इसे रोका नहीं जा सकता. स्काई न्यूज के साथ एक विशेष साक्षात्कार में, मेजर जनरल कायरलो बुडानोव ने भविष्यवाणी की कि युद्ध अगस्त के मध्य तक एक महत्वपूर्ण मोड़ पर पहुंच जाएगा और इस साल के अंत तक इसकी समाप्ति हो जाएगी.

मेजर जनरल कायरलो बुडानोव ने कहा कि रूस यूक्रेन में युद्ध हार गया, तो पुतिन को हटा दिया जाएगा और उनका देश ढह जाएगा. "यह अंततः रूसी संघ के नेतृत्व के परिवर्तन की ओर ले जाएगा. उनके मुताबिक यह प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है और वे उस तरह से आगे बढ़ रहे हैं," यह पूछे जाने पर कि क्या तख्तापलट चल रहा है, तब सैन्य अधिकारी ने जवाब दिया, "हां. वे इस तरह से आगे बढ़ रहे हैं और इसे रोकना नामुमकिन है.”

बुडानोव ने दावा किया कि क्रेमलिन नेता को कैंसर और अन्य बीमारियां हैं. साथ ही पुतिन "बहुत खराब मनोवैज्ञानिक और शारीरिक स्थिति से जूझ रहे हैं". पुतिन के स्वास्थ्य के बारे में अटकलें बढ़ रही हैं, कई रिपोर्टों से पता चलता है कि वह गंभीर रूप से बीमार हो सकते हैं. कई वीडियो में क्रेमलिन नेता को बेलारूसी नेता अलेक्जेंडर लुकाशेंको का स्वागत करते हुए कांपते हुए दिखाया गया है, जिससे अटकलें लगाई जा रही हैं कि उन्हें पार्किंसंस रोग है.

ये भी पढ़ें: Omicron ने नॉर्थ कोरिया का 'सुरक्षा कवच' भेदा, महज 3 दिन में कोविड के 8 लाख से ज्यादा मामले

हालांकि क्रेमलिन ने रूसी नेता के कथित खराब स्वास्थ्य की खबरों पर कभी कोई टिप्पणी नहीं की. इस बीच यूक्रेन के सैन्य अधिकारी ने स्काई न्यूज को बताया कि युद्ध में रूस को भारी नुकसान हो रहा है. उन्होंने कहा कि भले ही यूरोप रूस को एक बड़े खतरे के रूप में देखता है, लेकिन यूक्रेन जानता है कि "अत्यधिक प्रचारित रूसी शक्ति सिर्फ एक झूठ है". " रूसी सेना को खार्किव के आसपास की सीमा पर लगभग वापस धकेल दिया गया है, उन्होंने कहा कि रूस को "भारी नुकसान" का सामना करना पड़ा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: दीमा हसाओ में भारी बारिश के बाद असम में बाढ़ जैसे हालात