"उनकी गर्मजोशी और दयालुता को कभी नहीं भूलूंगा" : महारानी एलिजाबेथ II के निधन पर PM मोदी ने जताया दुख

पीएम मोदी ने बताया कि किस तरह एक मुलाकात के दौरान महारानी ने उन्हें महात्मा गांधी की ओर से उनकी शादी के मौके पर बतौर तोहफे में मिला रुमाल दिखाया था.  

नई दिल्ली:

महारानी एलिजाबेथ II का गुरुवार को 96 साल की उम्र में निधन हो गया. राज घराने ने इस बात की पुष्टि की. इधर, देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है. साथ भावुक करने वाली कहानी भी साझा की. उन्होंने बताया कि किस तरह एक मुलाकात के दौरान महारानी ने उन्हें महात्मा गांधी की ओर से उनकी शादी के मौके पर बतौर तोहफे में मिला रुमाल दिखाया था.  

उन्होंने ट्वीट कर कहा, " महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को हमारे समय की एक दिग्गज के रूप में याद किया जाएगा. उन्होंने अपने राष्ट्र और लोगों को प्रेरक नेतृत्व प्रदान किया. उन्होंने सार्वजनिक जीवन में गरिमा और शालीनता का परिचय दिया. उनके निधन से आहत हूं. इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और ब्रिटेन के लोगों के साथ हैं."

पीएम मोदी ने कहा, " 2015 और 2018 में यूके की अपनी यात्राओं के दौरान मेरी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के साथ यादगार मुलाकातें हुईं. मैं उनकी गर्मजोशी और दयालुता को कभी नहीं भूलूंगा. एक बैठक के दौरान उन्होंने मुझे वह रूमाल दिखाया जो महात्मा गांधी ने उन्हें उनकी शादी में उपहार में दिया था. मैं उस याद को हमेशा संजो कर रखूंगा."

वहीं, प्रधानमंत्री लिज ट्रस ने बृहस्पतिवार को कहा कि ब्रिटेन महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन से ‘टूट गया' है और दिवंगत सम्राज्ञी ‘वह चट्टान थीं, जिस पर आधुनिक ब्रिटेन का निर्माण हुआ था.' एलिजाबेथ द्वितीय ने ट्रस को अपने निधन से महज 48 घंटे पहले प्रधानमंत्री नियुक्त किया था. ट्रस ने कहा, “महारानी के निधन की खबर से हम सब टूट गए हैं. यह देश और दुनिया के लिए एक बहुत बड़ा झटका है.” ट्रस ने महारानी को वह चट्टान बताया, जिस पर आधुनिक ब्रिटेन का निर्माण हुआ था. उन्होंने कहा, “ब्रिटेन आज महारानी की वजह से एक महान देश बन पाया है। महारानी उनके साथ-साथ कई ब्रिटिश नागरिकों के लिए प्रेरणास्रोत थीं.” 10 डाउनिंग स्ट्रीट की ओर से जारी बयान के मुताबिक, ट्रस ने कहा, “कर्तव्य के प्रति उनका समर्पण हम सभी के लिए एक उदाहरण है.”

इधर, महारानी एलिजाबेथ II को श्रद्धांजलि देते हुए आयरलैंड के पीएम माइकल मार्टिन  ने कहा कि 'उन्‍होंने' निकटतम पड़ोसी आयरलैंड के साथ संबंधों को सामान्‍य बनाने में मदद की. आयरलैंउ सरकार की ओर से मैं ब्रिटेन के लोगों को उनकी महारानी एलिजाबेथ के खोने पर गहरी सहानुभूति व्‍यक्‍त करना चाहता हूं. वहीं, प्रधानमंत्री लिज ट्रस ने कहा कि महारानी के निधन से ब्रिटेन ‘शोक में डूब गया' है; महारानी वह ‘चट्टान' थीं, जिस पर आधुनिक ब्रिटेन का निर्माण हुआ था.

बता दें कि ब्रिटेन ने जून में भव्य आयोजनों के साथ राष्ट्र की सेवा के 70 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में महारानी की प्लेटिनम जयंती मनाई थी. साल 2015 में, महारानी एलिजाबेथ अपनी परदादी महारानी विक्टोरिया को पीछे छोड़ते हुए सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाली ब्रिटिश महारानी बनीं. इस साल, वह दुनिया की दूसरी सबसे लंबे समय तक राज करने वाली महारानी बनीं. 

यह भी पढ़ें -
-- "खेला होबे...", गरजीं ममता बनर्जी : "2024 में बंगाल से ही शुरू होगा BJP की हार का सिलसिला..."
-- सिर झुकने नहीं दिया, सब कहते हैं हरियाणा का छोरा है... : आदमपुर में अरविंद केजरीवाल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, यदि कोई आतंकी संगठन से है तो सजा दिलाईए, मदरसे क्यों तोड़ रहे?