कश्‍मीरी नेता सैयद अली शाह गिलानी के निधन पर पाकिस्तान मना रहा एक दिन का शोक, आधा झुका रहेगा झंडा

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि गिलानी के निधन के बारे में जानकार उन्हें ‘बहुत दुख’ हुआ. खान ने कहा, ‘पाकिस्तान का ध्वज आधा झुका रहेगा और हम एक दिन का आधिकारिक शोक मनाएंगे.’

कश्‍मीरी नेता सैयद अली शाह गिलानी के निधन पर पाकिस्तान मना रहा एक दिन का शोक, आधा झुका रहेगा झंडा

सैयद अली शाह गिलानी को श्रीनगर के हैदरपुरा में उनकी पसंद की जगह पर सुपुर्द-ए-खाक किया गया

इस्‍लामाबाद :

पाकिस्तान (Pakistan) ने कश्मीरी अलगाववादी नेता (Kashmiri separatist leader) सैयद अली शाह गिलानी (Syed Ali Shah Geelani)के निधन पर बृहस्पतिवार को एक दिन का शोक मनाया. गिलानी (91) का लंबी बीमारी के बाद श्रीनगर में उनके आवास पर बुधवार रात को निधन हो गया था. जम्मू कश्मीर में तीन से अधिक दशकों तक अलगाववादी मुहिम का नेतृत्व करने वाले पाकिस्तान समर्थक नेता को उनके आवास के समीप एक मस्जिद में सुपुर्द-ए-खाक किया गया. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि गिलानी के निधन के बारे में जानकार उन्हें ‘बहुत दुख' हुआ. खान ने कहा, ‘पाकिस्तान का ध्वज आधा झुका रहेगा और हम एक दिन का आधिकारिक शोक मनाएंगे.'

गिलानी ने आखिर हुर्रियत कॉन्फ्रेंस को अलविदा क्यों कहा था? यह है पर्दे के पीछे की कहानी

राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने भी उनके निधन पर गहरा दुख जताया. उन्होंने पिछले साल गिलानी को पाकिस्तान के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘निशान-ए-पाकिस्तान' से सम्मानित किया था. विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, सूचना मंत्री फवाद चौधरी और सूचना राज्यमंत्री फारुख हबीब ने भी गिलानी के निधन पर शोक जताया. विदेश कार्यालय के प्रवक्ता आसिम इफ्तिखार अहमद ने ट्वीट किया कि मुल्क ‘न्याय तथा आजादी के लिए गिलानी के ताउम्र किए गए संघर्ष को सलाम करता है.'

आयकर विभाग ने हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी का दिल्ली का फ्लैट कुर्क किया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि हुर्रियत कांफ्रेंस के कट्टरपंथी धड़े से ताल्लुक रखने वाले गिलानी ने पिछले वर्ष राजनीति और हुर्रियत से इस्तीफा दे दिया था. उनके दो बेटे और छह बेटियां हैं. उन्होंने 1968 में अपनी पहली पत्नी के निधन के बाद दोबारा विवाह किया था. अलगाववादी नेता गिलानी पिछले दो दशक से अधिक समय से गुर्दे संबंधी बीमारी से पीड़ित थे. इसके अलावा वह बढ़ती आयु संबंधी कई अन्य बीमारियों से जूझ रहे थे. PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर गिलानी की मौत पर दुख जताया. उन्होंने कहा, "गिलानी साहब के निधन की खबर से दुखी हूं. हम ज्यादातर चीजों पर सहमत नहीं हो सके, लेकिन मैं उनकी दृढ़ता और उनके विश्वासों के साथ खड़े होने के लिए उनका सम्मान करती हूं. ऊपर वाला उन्हें जन्नत और उनके परिवार और शुभचिंतकों के प्रति संवेदना प्रदान करें."



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)