Coronavirus : साउथ अफ्रीका में मिला वायरस का नया स्ट्रेन पहले से 50% ज्यादा संक्रामक

साउथ अफ्रीका में कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन की पहचान हुई है, जो पिछले स्ट्रेन से 50 फीसदी ज्यादा संक्रामक है. यहां पर पिछले हफ्ते में अस्पतालों में आने वाले मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है.

Coronavirus : साउथ अफ्रीका में मिला वायरस का नया स्ट्रेन पहले से 50% ज्यादा संक्रामक

कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन ने पूरी दुनिया को एक बड़ा झटका दिया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जोहान्सबर्ग:

Mutant Coronavirus Strain : साउथ अफ्रीका में मिला कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन पहले के स्ट्रेन से 50 फीसदी ज्यादा संक्रामक है. विशेषज्ञों ने सोमवार को इसकी पुष्टि की है. हालांकि इस बात का कोई सबूत नहीं मिला है कि क्या इस स्ट्रेन से ज्यादा मौतें हो सकती हैं. दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्रालय की साइंटिफिक कमिटी के सह-अध्यक्ष और एपिडेमोलॉजिस्ट प्रोफेसर सलीम अब्दुल करीम ने बताया कि यह वायरस पहले से 50 फीसदी ज्यादा संक्रामक है. वहां मिले वायरस के नए स्ट्रेन के क्लस्टर के विश्लेषण के बाद यह नतीजा सामने आया है.

साउथ अफ्रीका में अभी तक 1.3 मिलियन लोग संक्रमित हो चुके हैं. पूरे महाद्वीप पर साउथ अफ्रीका में ही सबसे ज्यादा केस दर्ज हुए हैं, वहीं सबसे ज्यादा मौतें- 37,105 -भी हुई हैं. वायरस की दूसरी लहर ने वहां हेल्थ सिस्टम पर बड़ा दबाव डाला है. 

स्वास्थ्य मंत्री ज्वेली मिखीज़े ने सोमवार को कहा नए मामलों में 23 फीसदी की गिरावट आई है लेकिन पिछले हफ्ते में अस्पतालों में दर्ज होने वाले मरीजों की संख्या में 18.3 फीसदी बढ़ोतरी हुई है. एक्सपर्ट पैनल के ही दूसरे सदस्य डॉक्टर वसीला जस्सात ने कहा कि भले ही मरीजों की संख्या बढ़ी है लेकिन मृत्यु दर में पहले से कोई बदलाव नहीं देखा रहा है.

यह भी पढ़ें : चीन में हैरान करने वाला मामला आया सामने, आइसक्रीम में निकला कोरोना का वायरस : रिपोर्ट

बता दें कि 510Y.V2 नाम से जाना जाने वाले वायरस के इस स्ट्रेन के साउथ अफ्रीका में पहचान किए जाने के बाद से दिसंबर में वहां पर इसके प्रसार को रोकने के लिए नए प्रतिबंध लगाए गए थे. नए वेरिएंट को लेकर फैले डर के चलते यहां पर कुछ एयरलाइंस ने अपनी फ्लाइट्स की संख्या भी घटाई है.


राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा ने हाल ही में अगले छह महीनों के लिए कोविड वैक्सीन के 20 मिलियन डोज़ का ऑर्डर दिया है. हालांकि, एपिडेमोलॉजिस्ट डॉ. करीम ने कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि यह वैक्सीन नए स्ट्रेन के खिलाफ कितनी कारगर होगी. अभी इसपर अध्ययन चल रहे हैं.

क्या वैक्सीन की ज़्यादा क़ीमत चुका रहा भारत?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)