काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट के सामने बैठकर नमाज पढ़ने लगी महिला, पुलिस ने थाने ले जाने के बाद छोड़ा

बताया जा रहा है महिला वाराणसी के जैतपुर थाना क्षेत्र की है. ऐसा भी बताया जा रहा है कि महिला मानसिक रूप से अस्वस्थ है, हालांकि पुलिस ने इसकी औपचारिक पुष्टि नहीं की.

काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट के सामने बैठकर नमाज पढ़ने लगी महिला, पुलिस ने थाने ले जाने के बाद छोड़ा

काशी विश्वनाथ मंदिर के गेट नंबर चार का रास्ता मंदिर और मस्जिद दोनों की ओर जाता है...

नई दिल्ली:

काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple) के चार नंबर गेट जहां से ज्ञानवापी मस्जिद और काशी विश्वनाथ दोनों के लिए जाया जाता है उसी गेट से नमाज के लिए नमाजियों की लाइन लगी थी तभी एक महिला उस गेट के ठीक सामने बैठ कर नमाज पढ़ने लगी क्योंकि उसे लगा कि लंबी लाइन होने की वजह से शायद वह अंदर नहीं जा सकती है , कुछ देर बाद पुलिस ने उस महिला को वहां से हटाया और अपने साथ चौक थाने ले जाकर छोड़ दिया.

बताया जा रहा है महिला वाराणसी के जैतपुर थाना क्षेत्र की है. ऐसा भी बताया जा रहा है कि महिला मानसिक रूप से अस्वस्थ है, हालांकि पुलिस ने इसकी औपचारिक पुष्टि नहीं की. दरअसल, आज ज्ञानवापी मस्जिद में जुमे की नमाज अदा की जानी थी, जिससे बड़ी संख्या में नमाजी इकट्ठे हुए थे.मस्जिद में भारी भीड़ होने के चलते बहुत से नमाजियों को लौटाया भी गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद का विवाद इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है. अदालत के आदेश पर अब इस परिसर में सर्वे व वीडियोग्राफी की जा रही है. इस सर्वे को लेकर एक पक्ष को काफी आपत्ति है और वह अपनी आपत्ति लगातार जता भी रहा है. दोनों ही पक्षों को अपने-अपने दावे और अपने-अपने तर्क हैं. पूरे देश की निगाहें अब इस सर्वे पर टिकी हुई है. अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ होने के बाद से ज्ञानवापी मस्जिद का मामला भी लगातार उठ रहा है. आम मान्यता ये है कि इस ज्ञानवापी मस्जिद का निर्माण मंदिर को तोड़कर किया गया था और इसी आधार पर हिन्दू पक्ष इसपर अपना दावा जता रहा है, लेकिन ये मामला उतना सीधा भी नहीं जितना ये दिखाई देता है. (यहां पढ़ें इस विवाद से जुड़ा पूरा मसला)