विज्ञापन
Story ProgressBack

2 घंटे का सफर 20 मिनट में... अटल सेतु पर यूं ही नहीं फिदा हो गईं रश्मिका मंदाना

छह लेन का ट्रांस-हार्बर पुल 21.8 किमी लंबा है और 16.5 किमी लंबा सी-लिंक है. इस पुल के बनने से मुंबई और नवी मुंबई आने जाने में घंटों के बजाये महज 15-20 मिनट का समय लग रहा है.

Read Time: 3 mins
2 घंटे का सफर 20 मिनट में... अटल सेतु पर यूं ही नहीं फिदा हो गईं रश्मिका मंदाना
नई दिल्ली:

मुंबई में अटल सेतु (Atal Setu) के निर्माण के बाद से लोगों को बेहद राहत मिली है. 6 लेन वाला ये ट्रांस हार्बर पुल(Trans Harbor Bridge) 21.8 किमी लंबा है.  इस सेतु के निर्माण से पहले मुंबई से नवी मुंबई जाने में दो घंटे का समय लगता था वहीं, अब लोग मात्र 15 से 20 मिनट में पहुंच सकते हैं. एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना (Rashmika Mandanna) भी इस सेतु पर फिदा हो गईं. उन्होंने कहा कि कभी किसी ने सोचा भी नहीं था कि इस तरह का विकास भी हो सकता है. उन्होंने कहा कि इस विकास को देखकर गर्व होता है. उन्होंने कहा कि अब हम मुंबई से नवी मुंबई तक आसानी से यात्रा कर सकते हैं.भारत बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है, तेज गति से आगे बढ़ रहा है. 

शानदार इंफ्रास्ट्रक्चर को देखकर गर्व महसूस होता है:  रश्मिका
मीडिया से बात करते हुए रश्मिका मंदाना ने कहा कि आप जानते हैं दो घंटे का सफर अब 20 मिनट में पूरा हो जाता है. कौन सोच सकता था कि ऐसा भी हो सकता है. लेकिन आज नवी मुंबई से मुंबई तक, गोवा से मुंबई तक और बेंगलुरु से मुंबई तक का सफर अब काफी आसान हो गया है. इस शानदार इंफ्रास्ट्रक्चर को देखकर गर्व महसूस होता है. भारत को विकास के मामले में अब कोई नहीं रोक सकता. अब कोई यह नहीं कह सकता है कि भारत में ऐसा नहीं हो सकता है. पिछले 10 वर्षों में भारत में काफी ज्यादा विकास हुआ है. देश में प्लानिंग भी शानदार तरीके से चल रही है.

रश्मिका ने कहा कि अब कोई यह नहीं कह सकता है कि भारत में ये हो नहीं सकता है. पिछले 10 साल में देश काफी तेजी से आगे बढ़ा है. उन्होंने कहा कि 20 किलोमीटर लंबा यह सेतु महज 7 साल में बनकर तैयार हो गया. मैं इस विकास को देखकर नि:शब्द हूं. उन्होने कहा कि भारत दुनिया की सबसे स्मार्टेंस्ट कंट्री है. रश्मिका मंदाना ने युवा भारतीयों से वोट डालने की भी अपील की. रश्मिका मंदाना ने अटल सेतु और विकास का हवाला देते हुए कहा कि विकास रुकना नहीं चाहिए. विकास के लिए वोट करें. 

2016 में प्रधानमंत्री मोदी ने रखी थी आधारशिला 
छह लेन का ट्रांस-हार्बर पुल 21.8 किमी लंबा है और 16.5 किमी लंबा सी-लिंक है. इस पुल के बनने से मुंबई और नवी मुंबई आने जाने में घंटों के बजाये महज 15-20 मिनट का समय लग रहा है. पुल की आधारशिला दिसंबर 2016 में प्रधानमंत्री मोदी ने रखी थी.

मुंबई से गोवा जाना हुआ आसान
अटल सेतु का लक्ष्य मुंबई मेट्रोपॉलिटन क्षेत्र में कनेक्टिविटी में सुधार करना है, जिससे सेवरी और न्हावा शेवा जैसे प्रमुख स्थानों के बीच ट्रैवल में बेहद कम वक्त लगेगा. देश का यह सबसे लंबा पुल 21.8 किलोमीटर लंबा है जिसमें समुद्र के ऊपर का 16.5 किलोमीटर हिस्सा शामिल है. इसके शुरू होने से मुंबई महानगर से नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की दूरी कम हो गयी है और पुणे, गोवा एवं दक्षिण भारतीय शहरों तक की यात्रा का समय भी घट जाएगा.

ये भी पढ़ें-:

अटल सेतु पर ड्राइविंग करके इंप्रेस हुए आनंद महिंद्रा, अद्भुत खूबसूरती देख बोले- जैसे पानी पर उड़ते हुए...

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
अग्निपथ योजना को और आकर्षक बनाने की कोशिश, केंद्र ने किया ये काम
2 घंटे का सफर 20 मिनट में... अटल सेतु पर यूं ही नहीं फिदा हो गईं रश्मिका मंदाना
कभी साइकिल-स्कूटर का बनाते थे पंचर, 8 बार चुनाव जीतकर पहुंचे संसद, अब बने मोदी 3.0 में केंद्रीय मंत्री
Next Article
कभी साइकिल-स्कूटर का बनाते थे पंचर, 8 बार चुनाव जीतकर पहुंचे संसद, अब बने मोदी 3.0 में केंद्रीय मंत्री
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;