जम्‍मू-कश्‍मीर के परिसीमन पर पाकिस्‍तान के 'हास्‍यास्पद' प्रस्‍ताव को भारत ने किया खारिज

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने कहा, "हम भारतीय केंद्र शासित क्षेत्र जम्‍मू और कश्‍मीर में परिसीमन प्रक्रिया को लेकर पाकिस्‍तान की नेशनल असेंबली की ओर से पारित 'हास्‍यास्‍पद' प्रस्‍ताव को स्‍पष्‍ट रूप से अस्‍वीकार करते हैं.'

जम्‍मू-कश्‍मीर के परिसीमन पर पाकिस्‍तान के 'हास्‍यास्पद' प्रस्‍ताव को भारत ने किया खारिज

प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्‍ली :

विदेश मंत्रालय ने जम्‍मू-कश्‍मीर में परिसीमन को लेकर पाकिस्‍तान की ओर से पारित प्रस्‍ताव पर भारत के विदेश मंत्रालय ने तीखी प्रतिक्रिया जताई है. विदेश मंत्रालय ने कहा, 'पाकिस्‍तान को भारत के आंतरिक मामलों में हस्‍तक्षेप करने या दखल देने का कोई अधिकार नहीं है. ' पाकिस्‍तान की नेशनल असेंबली के पारित प्रस्‍ताव को हास्‍यास्‍पद बताते हुए मंत्रालय ने कहा, "जम्‍मू और कश्‍मीर और लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेशों का पूरा क्षेत्र हमेशा भारत का अभिन्‍न अंग रहा है और रहेगा."

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने कहा, "हम भारतीय केंद्र शासित क्षेत्र जम्‍मू और कश्‍मीर में परिसीमन प्रक्रिया को लेकर पाकिस्‍तान की नेशनल असेंबली की ओर से पारित 'हास्‍यास्‍पद' प्रस्‍ताव को स्‍पष्‍ट रूप से अस्‍वीकार करते हैं. पाकिस्‍तान को भारत के आंतरिक मामलों में हस्‍तक्षेप करने देने का कोई अधिकार नहीं है, जिसमें पाकिस्‍तान के अवैध और जबरन कब्‍जे के तहत आने वाले भारतीय क्षेत्र भी शामिल हैं. "बागची ने कहा, "केंद्रशासित प्रदेश जम्‍मू और कश्‍मीर में परिसीमन अभ्‍यास, व्‍यापक हितधारक सहमति और भागीदारी के सिद्धांतों पर आधारित एक लोकतांत्रित प्रक्रिया है. "

- ये भी पढ़ें -

* अभिषेक बनर्जी से ED की पूछताछ में सहयोग दें : SC का पश्चिम बंगाल सरकार को निर्देश
* MP: गुना में तीन पुलिसवालों की हत्या का आरोपी तीसरा शिकारी भी हुआ ढेर, जानें पूरा मामला
* गृहमंत्री अमित शाह की IAS के साथ फोटो शेयर करने पर बुरे फंसे फिल्ममेकर, पुलिस ने दर्ज किया केस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कांग्रेस नेता पी चिदंबरम के ठिकानों पर छापेमारी