दिल्ली पुलिस की मुस्तैदी से गैंगस्टर नीरज बवानिया के पिता की हत्या की साजिश नाकाम

बाहरी दिल्ली क्षेत्र में अपना वर्चस्व स्थापित करने और जबरन वसूली रैकेट पर कमान संभालने के लिए नीरज बवानिया और जितेंद्र गोगी के गिरोह एक दूसरे को निशाना बनाते रहे हैं.

दिल्ली पुलिस की मुस्तैदी से गैंगस्टर नीरज बवानिया के पिता की हत्या की साजिश नाकाम

तिहाड़ में बंद गैंगस्टर नीरज बवानिया के पिता की हत्या की साजिश नाकाम (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली:

बाहरी उत्तरी जिला पुलिस ने दो नाबालिगों को पकड़ा है, जो दिल्ली के टॉप मोस्ट गैंगस्टर नीरज बवानिया के पिता की हत्या करने जा रहे थे. नीराज फिलहाल तिहाड़ जेल में है. पुलिस ने नाबालिगों के कब्जे से दो अत्याधुनिक पिस्टल सहित कारतूस बरामद किए हैं. दोनों नाबालिग जितेंद्र गोगी गैंग के शार्प शूटर हैं. गोगी की रोहिणी कोर्ट में गैंगवार में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पुलिस के मुताबिक- आजकल गैंगस्टर बड़ी वारदातों के लिए नाबालिगों का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे काम भी हो जाए और हमलावर नाबालिग होने का फायदा उठाकर कानून के शिकंजे से बच जाएं.

बाहरी दिल्ली क्षेत्र में अपना वर्चस्व स्थापित करने और जबरन वसूली रैकेट पर कमान संभालने के लिए नीरज बवानिया और जितेंद्र गोगी के गिरोह एक दूसरे को निशाना बनाते रहे हैं. हाल ही में 7 मई को गोगी गैंग के खूंखार गैंगस्टर कपिल के पिता 55 साल के ब्रह्म प्रकाश की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसमें  नीरज बवानिया-टील्लू ताजपुर- परवेश मान गैंग के सदस्यों ने गोलियां चलाईं थी.  यह घटना एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई, जिसमें  आरोपी पवन और अमित की स्पष्ट पहचान हो गई.

पुलिस के हत्थे चढ़ा गैंगस्टर राकेश ताजपुरिया, रोहिणी कोर्ट शूटआउट के दौरान शूटरों को दिए थे हथियार

 इसी के चलते में स्पेशल स्टाफ बाहरी उत्तरी जिला की एक टीम कुख्यात आपराधिक गिरोहों और उनके शार्प शूटरों को पकड़ने में लगी हुई थी. यह भी मालूम चला कि कपिल उर्फ ​​कल्लू और जितेंद्र गोगी के सक्रिय सदस्य कुख्यात गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया-परवेश मान-नीरज बवानिया गिरोह द्वारा  दिन दहाड़े खेडा खुर्द फिरनी रोड पर कपिल उर्फ ​​कल्लू के पिता की हत्या का  बदला लेने की योजना  बना रहे हैं.

आगे यह पता चला कि कपिल कल्लू और गोगी गिरोह के सदस्यों ने अपने सदस्यों को दो नाबालिकों की मदद से गैंगस्टर नीरज बवाना के पिता को खत्म करने का आदेश दिया है. पुलिस ने 23 मई 2 नाबालिगों की पहचान करने और पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की, इस दौरान  उनके पास से दो अत्याधुनिक सेमी-ऑटोमैटिक पिस्टल और 20  कारतूस बरामद किए गए. आगे पता चला कि कपिल और गोगी गैंग के सक्रिय सदस्य बजीतपुर, दिल्ली निवासी गैंगस्टर हितेश उर्फ हैप्पी के आदेश पर विवेक और डोनी द्वारा दोनो नबालिको को हथियार और कारतूस की सप्लाई की गई थी.

ये वीडियो भी देखें- टेक्‍सास के स्‍कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 18 छात्रों सहित 21 लोगों की मौत 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com