विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Feb 07, 2023

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला : सुप्रीम कोर्ट का बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल जेम्‍स को जमानत देने से इनकार

प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति पी एस नरसिम्हा और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला की पीठ ने कहा कि जेम्स की यह दलील कि उसे इस आधार पर जमानत पर रिहा किया जाए कि उसने मामलों में अधिकतम सजा का आधा हिस्सा काट लिया है, स्वीकार नहीं की जा सकती. 

Read Time: 20 mins
अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला : सुप्रीम कोर्ट का बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल जेम्‍स को जमानत देने से इनकार
अगस्ता वेस्टलैंड मामले में जेम्स ने सीआरपीसी की धारा 436ए के तहत जमानत का अनुरोध किया था. (प्रतीकात्‍मक)
नई दिल्‍ली:

उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल जेम्स को जमानत देने से इनकार कर दिया. मामले की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) दोनों कर रहे हैं. कथित तौर पर 3,600 करोड़ रुपये का यह घोटाला अगस्ता वेस्टलैंड से 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टर की खरीद से संबंधित है. प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति पी एस नरसिम्हा और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला की पीठ ने कहा कि जेम्स की यह दलील कि उसे इस आधार पर जमानत पर रिहा किया जाए कि उसने मामलों में अधिकतम सजा का आधा हिस्सा काट लिया है, स्वीकार नहीं की जा सकती. 

Advertisement

हालांकि पीठ ने कहा कि वह निचली अदालत के समक्ष नियमित जमानत के लिए रुख कर सकता है. जेम्स ने दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 436ए के तहत जमानत का अनुरोध किया, जिसमें कहा गया है कि अगर किसी व्यक्ति ने अपराध के लिए निर्धारित अधिकतम सजा का आधा हिस्सा काट लिया है तो उसे जमानत पर रिहा किया जा सकता है. 

अधिवक्ता अल्जो के जोसेफ ने दलील दी कि 2018 में दुबई से प्रत्यर्पण के बाद, जेम्स ने चार साल से अधिक समय जेल में बिताया है, जबकि जिन अपराधों के लिए उसे प्रत्यर्पित किया गया था, उनके लिए निर्धारित अधिकतम सजा सात साल है. 

Advertisement

सीबीआई और ईडी की ओर से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संजय जैन ने कहा कि मामलों की जांच अभी भी जारी है और ‘लेटर रोगेटरी' (न्यायिक पत्र) संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और हांगकांग को भेजे गए हैं. 

Advertisement

पीठ ने तब जैन से सवाल किया कि जेम्स को कितने समय तक हिरासत में रखा जा सकता है, जबकि जांच अभी भी जारी है, वहीं मामले में आरोपपत्र और पूरक आरोपपत्र दाखिल किए जा चुके हैं. 

Advertisement

जेम्स ने 11 मार्च, 2022 के दिल्ली उच्च न्यायालय के उस आदेश को चुनौती दी जिसमें सीबीआई और ईडी दोनों मामलों में उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी. दोनों मामलों में अपनी रिहाई का अनुरोध करते हुए जेम्स ने कहा था कि जांच के लिए उसकी जरूरत नहीं है और उसने जांच में सहयोग करने की इच्छा जताई थी. 

Advertisement

सीबीआई ने अपने आरोपपत्र में 55.62 करोड़ यूरो (करीब 3,600 करोड़ रुपये) के 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टर की आपूर्ति के लिए 8 फरवरी, 2010 को हुए सौदे के कारण सरकारी खजाने को 39.82 करोड़ यूरो (करीब 2,666 करोड़ रुपये) का अनुमानित नुकसान होने का आरोप लगाया. ईडी ने जून 2016 में दाखिल अपने आरोपपत्र में आरोप लगाया था कि जेम्स को अगस्ता वेस्टलैंड से तीन करोड़ यूरो (करीब 225 करोड़ रुपए) मिले थे. 

ये भी पढ़ें :

* सुप्रीम कोर्ट का नियुक्ति रद्द करने से इंकार, एल विक्टोरिया गौरी बनी मद्रास हाईकोर्ट की जज
* पत्रकार राणा अय्यूब को 'सुप्रीम कोर्ट' से बड़ा झटका, कोर्ट समन को चुनौती देने वाली याचिका खारिज
* मेयर चुनाव मसले को सुप्रीम कोर्ट लेकर पहुंची AAP, बुधवार को होगी मामले की सुनवाई

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
महाप्रभु जगन्नाथ के रत्न भंडार की गुम हुई चाबी का रहस्य सामने आए - NDTV से बोले अमित शाह
अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला : सुप्रीम कोर्ट का बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल जेम्‍स को जमानत देने से इनकार
"ये सवाल कौन बनेगा करोड़पति जैसा..." : INDIA गठबंधन से PM कौन? पर बोले मल्लिकार्जुन खरगे
Next Article
"ये सवाल कौन बनेगा करोड़पति जैसा..." : INDIA गठबंधन से PM कौन? पर बोले मल्लिकार्जुन खरगे
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;