Parliament Winter Session Updates: ऑल पार्टी मीटिंग के बाद सदन में गतिरोध टूटा, अब विपक्ष के सहयोग से निर्बाध चलेगा सदन

Parliament Session Updates : कांग्रेस की ओर से बुलाई गई विपक्ष की बैठक में 15 पार्टियों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की, इसमें कांग्रंस, डीएमके, शिवसेना, एनसीपी, सीपीएम, सीपीआई, आरजेडी, आईयूएमएल, एमडीएमके, एलजेडी, नेशनल कॉन्‍फ्रेंस,आरएसपी,टीआरएस, केरल कांग्रेस और वीसीके शामिल थीं.

संसद के दोनों सदनों में आज हंगामे के आसार

संसद के शीतकालीन सत्र (Parliament winter session) के पहले ही दिन सत्ता पक्ष और विपक्ष में जमकर टकराव देखने को मिला. लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयास आखिरकार काम कर गए. सदन में गतिरोध टूट गया है. अब विपक्ष के सहयोग से सदन निर्बाध चलेगा. स्पीकर ओम बिरला की बुलाई ऑल पार्टी मीटिंग में ये फैसला हुआ. दोपहर 3 बजे से सदन सुचारू रूप से चलेगा. विपक्ष भी सदन के कार्यवाही में सहभागिता निभाएगा. बैठक में शामिल अधीर रंजन चौधरी, टी आर बालू, सौगत रॉय, कल्याण बनर्जी, सुप्रिया सुले मौजूद रहे. इसके साथ ही  पीवी मिधुन रेड्डी, नमा नागेश्वर राव, अनुभव मोहंती, पिनाकी मिश्रा, जयदेव गल्ला भी उपस्थित थे. 

इससे पहले कृषि बिल बिना चर्चा के पास करवाने को लेकर फिर 12 सांसदों के निलंबन को लेकर सदन में गतिरोध दिख रहा था. दरअसल, अगस्त में मॉनसूत्र सत्र में हंगामा करने वाले सांसदों के खिलाफ इस सत्र में कार्रवाई हुई है. विपक्षी सांसदों का कहना है कि ये निलंबन पूरी तरह से नियमों के खिलाफ है. उनका कहना है कि सदस्य को सत्र के बाकी बचे समय के लिए निलंबित किया जाता है और मॉनसून सत्र 11 अगस्त को ही समाप्त हो गया था ऐसे में इस सत्र में निलंबन गलत है. यहां तक कि विपक्षी सांसदों की ओर से पूरे सत्र के बहिष्कार तक की बात कही जा रही थी.  संसद सत्र के दूसरे दिन भी विपक्ष के हंगामे के कारण लोकसभा की कार्रवाई पहले दोपहर 2 बजे और फिर 3 बजे तक स्‍थगित करनी पड़ी थी.

वहीं आज कांग्रेस की अगुवाई में विपक्ष के नेताओं की राज्यसभा में मल्लिकाअर्जुन खड़गे के दफ्तर में सुबह बैठक हुई. कांग्रेस की ओर से बुलाई गई विपक्ष की बैठक में 15 पार्टियों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की, इसमें कांग्रंस, डीएमके, शिवसेना, एनसीपी, सीपीएम, सीपीआई, आरजेडी, एमडीएमके, एलजेडी, आईयूएमएल, नेशनल कॉन्‍फ्रेंस, आरएसपी, टीआरएस, केरल कांग्रेस और वीसीके शामिल थीं.  

Here are Updates on Parliament Winter Session 2021 : 

Nov 30, 2021 17:59 (IST)
लोकसभा में कोविड के नए वैरिएंट Omicron पर कल होगी चर्चा
कोविड प्रबंधन और नए वैरिएंट Omicron (ओमिक्रॉन) पर कल लोकसभा में नियम 193 के तहत शॉर्ट ड्यूरेशन चर्चा होगी
Nov 30, 2021 15:01 (IST)
अब विपक्ष के सहयोग से निर्बाध चलेगा सदन
लोकसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयास काम कर गए.  सदन में गतिरोध टूट गया है. अब विपक्ष के सहयोग से सदन निर्बाध चलेगा. स्पीकर ओम बिरला की बुलाई ऑल पार्टी मीटिंग में ये फैसला हुआ. दोपहर 3 बजे से सदन सुचारू रूप से चलेगा. विपक्ष भी सदन के कार्यवाही में सहभागिता निभाएगा. बैठक में शामिल अधीर रंजन चौधरी, टी आर बालू, सौगत रॉय, कल्याण बनर्जी, सुप्रिया सुले मौजूद रहे. इसके साथ ही  पीवी मिधुन रेड्डी, नमा नागेश्वर राव, अनुभव मोहंती, पिनाकी मिश्रा, जयदेव गल्ला भी उपस्थित थे. 
Nov 30, 2021 14:17 (IST)
लोकसभा की कार्यवाही तीन बजे तक स्‍थगित
विपक्ष के हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही तीन बजे तक स्‍थगित करनी पड़ी. इस बीच, सदन का गतिरोध सुलझाने के लिए स्पीकर ओम बिरला ने पहले करते हुए सभी सभी विपक्षी दलों के नेताओं को चर्चा के लिए आमंत्रित किया. 
Nov 30, 2021 13:21 (IST)
देश में अब तक Omicron का एक भी केस नहीं : स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री
राज्यसभा में स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा, देश में अब तक ओमिक्रोन का एक भी केस नहीं मिला है. आगे इसका कोई मामला नहीं आये उसका भी पूरा प्रयास किया जा रहा है. उन्‍होंने जोर देकर कहा कि कोविड कंट्रोल में है, लेकिन यह पूरी तरह गया नहीं है. 124 करोड़ डोज अब तक लग चुके हैं. 
Nov 30, 2021 12:39 (IST)
निलंबित सांसद खेद जताने तक को तैयार नहीं : केंद्रीय मंत्री नकवी
सांसदों के निलंबन मुद्दे पर राज्‍यसभा के उपनेता और केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने NDTV से कहा, 'जिन विपक्षी सांसदों ने राज्यसभा में हुड़दंग किया था, हंगामा किया था उन्होंने संसद के किस नियम के तहत यह सब किया? संसद की गरिमा को विपक्ष के सांसदों ने शर्मसार किया है और वह खेद जताने को भी तैयार नहीं है. यह दुख की बात है उन्हें खेद जताना चाहिए था. ' नकवी ने कहा, 'राज्य सभा के चेयरमैन ने राज सभा की गतिविधियों की कई महीने तक समीक्षा करने के बाद निलंबन का फैसला किया है.' 
Nov 30, 2021 12:01 (IST)
निलंबित TMC सांसद डोला सेन बोलीं, 'माफी नहीं मांगूंगी..'
संसदीय कार्य मंत्री प्रल्‍हाद जोशी के माफी मांगने संबंधी ट्वीट पर रिएक्‍शन देते हुए तृणमूल की निलंबित सांसद डोला सेन ने NDTV से कहा, 'मैं माफी नहीं मांगूंगी. जिन्होंने गलत फैसला किया है माफी उन्हें माननी चाहिए. '
Nov 30, 2021 11:54 (IST)
सपा सांसद रामगोपाल यादव बोले, 'निलंबन के फैसले को वापस लेने पर हो विचार'
समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव ने NDTV से कहा, 'राज्यसभा से 12 विपक्षी सांसदों के निलंबन के फैसले को वापस लेने पर जरूर विचार होना चाहिए.  मैं सभापति के बयान पर टिप्पणी नहीं करना चाहता. '
Nov 30, 2021 11:53 (IST)
राज्‍यसभा के चेयरमैन बोले, 'निलंबन वापस नहीं लिया जाएगा'
राज्‍यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू ने सुबह उच्‍च सदन में कहा, 'निलंबित सांसदों ने अफसोस नहीं जताया है. मैं विपक्ष के नेता (मल्लिकार्जन खडगे) की अपील पर विचार नहीं कर रहा हूं. निलंबन वापस नहीं लिया जाएगा. '
Nov 30, 2021 11:14 (IST)
हंगामा, लोकसभा की कार्यवाही दो बजे तक स्‍थगित
मंगलवार को संसद की कार्यवाही शुरू होते ही लोकसभा में विपक्ष के सांसदों ने वॉक आउट किया.  शोरशराबे के बीच उनको अपनी बात कहने का मौका नही मिला. हंगामे के चलते लोकसभा की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक स्‍थगित करनी पड़ी.  
Nov 30, 2021 11:08 (IST)
कांग्रेस की बैठक में 15 पार्टियों के प्रतिनिधि हुए शामिल
कांग्रेस की ओर से बुलाई गई विपक्ष की बैठक में 15 पार्टियों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की, इसमें कांग्रंस, डीएमके, शिवसेना, एनसीपी, सीपीएम, सीपीआई, आरजेडी, आईयूएमएल, एमडीएमके, एलजेडी, नेशनल कॉन्‍फ्रेंस,आरएसपी,टीआरएस, केरल कांग्रेस और वीसीके शामिल थीं. 
Nov 30, 2021 10:38 (IST)
बैठक में भाग लेने के लिए राहुल भी पहुंचे
कांग्रेस की ओर से बुलाई गई बैठक में सीपीआई और सीपीएम नेता भी भाग ले रहे हैं. कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी भी बैठक में शामिल होने के लिए पहुंच गए हैं. 
Nov 30, 2021 10:11 (IST)
रणनीति तैयार करने के लिए कांग्रेस ने बुलाई विपक्ष की बैठक
रणनीति तैयार करने के लिए कांग्रेस ने विपक्ष की बैठक बुलाई है. बैठक में भाग लेने के लिए अब तक मल्लिकार्जुन खडगे, अधीररंजन चौधरी (दोनों कांग्रेस), एन के प्रेमचंद्रन, टीआर बालू डीएमके)और फौजिया खान(एनसीपी) पहुंचे हैं. 
Nov 30, 2021 09:35 (IST)
सांसद माफी मांगें तो निलंबन वापसी पर विचार : संसदीय कार्यमंत्री

संसद के शीतकालीन सत्र के शुरुआत की 'हंगामेदार' हुई है. राज्य सभा से 12 सांसद पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया गए हैं. मॉनसून सत्र में हंगामा करने के लिए सांसदों के खिलाफ यह कार्रवाई हुई है. इसे लेकर विपक्षी सांसदों का कहना है कि निलंबन पूरी तरह नियमों के खिलाफ है. वे इस पूरे सत्र के बहिष्कार की बात कर रहे हैं, जिसके बाद अब संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा है कि अगर अपने बर्ताव के लिए सांसद माफी मांगें तो निलंबन वापसी पर विचार हो सकता है.