महाराष्ट्र: 88 साल की कोविड संक्रमित बुज़ुर्ग महिला को ऑटो में बिठाकर दिया गया ऑक्सीजन

महाराष्ट्र में कोरोना मामलों की विस्फोटक परिस्थितियों के चलते स्वास्थ्य व्यवस्थाएं बुरी तरह से चरमरा गई हैं. ज्यादातर जिलों में सभी कोविड अस्पताल पूरी तरह से भरे हुए हैं.

महाराष्ट्र: 88 साल की कोविड संक्रमित बुज़ुर्ग महिला को ऑटो में बिठाकर दिया गया ऑक्सीजन

फोटो वायरल होने के बाद बुजुर्ग महिला को प्राइवेट अस्पताल में बेड दिया गया

सतारा:

महाराष्ट्र में कोरोना मामलों की विस्फोटक परिस्थितियों के चलते स्वास्थ्य व्यवस्थाएं बुरी तरह से चरमरा गई हैं. ज्यादातर जिलों में सभी कोविड अस्पताल पूरी तरह से भरे हुए हैं, आलम ये है कि मरीजों को किसी तरह बचाने की कोशिश की जा रही है. इसी कड़ी में सतारा जिले में एक 88 साल की कोविड संक्रमित बुजुर्ग महिला को ऑटो में बिठाकर ऑक्सीजन दिया गया. सातारा के सरकारी ग्रामीण अस्पताल में बेड ना होने के कारण अस्पताल के बाहर ही रिक्शा में बिठाकर ऑक्सीजन दिया गया. 

यह भी पढ़ें: छात्र ने की कोरोना से शिकायत, बोला- केवल तुम चुनाव से डरते हो और...जमकर Viral हो रहा है Video

घटना सोमवार की है, बुजुर्ग महिला की फोटो वायरल होने के बाद उन्हें एक प्राइवेट अस्पताल में बेड दिया गया है. बता दें कि सतारा में एक दिन में कोरोना संक्रमण के 991 नए मामले सामने आए हैं और 10 मरीजों की मौत दर्ज की गई है. ताजा आंकड़ों के अनुसार अकेले सतारा जिले में कोरोना संक्रमण के 7,837 मरीज एक्टिव अवस्था में हैं. यानी कि इनका इलाज या तो अस्पताल में चल रहा है या फिर डॉक्टरों के निर्देश पर होम आइसोलेशन में हैं. 


यह भी पढ़ें: सरकारी अस्पताल में माली ले रहा है कोविड-19 सैंपल, सवाल पूछे जाने पर अधिकारी बोले- क्या कर सकते हैं?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बताते चलें कि महाराष्ट्र कोरोना वायरस से सबसे प्रभावित राज्य है. कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने में महाराष्ट्र भेजी गई केंद्रीय टीम ने पाया है कि सतारा, सांगली और औरंगाबाद जिले में रोकथाम उपाय तय पैरामीटर से कम हैं. केंद्र द्वारा राज्य सरकार को भेजी गयी एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. टीम ने पाया कि इन जिलों में संतोषजनक कदम नहीं उठाए जा रहे और निगरानी उपायों में कमी भी देखने को मिली.