Budget 2021: कौन से नए हाइवे देश को मिलेंगे, बजट में इन प्रोजेक्ट के लिए बरसा पैसा, जानें सब कुछ

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आम बजट (Union Budget 2021) पेश करते हुए कहा, 'परिवहन मंत्रालय को 1.18 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. देश में अगले साल तक 8500 KM रोड प्रोजेक्ट तैयार हो जाएंगे.'

Budget 2021: कौन से नए हाइवे देश को मिलेंगे, बजट में इन प्रोजेक्ट के लिए बरसा पैसा, जानें सब कुछ

Budget 2021: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने तीसरी बार बजट पेश किया.

खास बातें

  • वित्त मंत्री ने तीसरी बार पेश किया बजट
  • हाइवे और रोड प्रोजेक्ट के लिए बरसा पैसा
  • बंगाल में हाइवे प्रोजेक्ट के लिए 25 हजार करोड़
नई दिल्ली:

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) संसद में आम बजट (Union Budget 2021) पेश कर रही हैं. उन्होंने अलग-अलग क्षेत्रों के लिए कई अहम घोषणाएं की हैं. वित्त मंत्री ने बजट पेश करते हुए कहा, 'इंफ्रास्ट्रक्टर में सुधार और निवेश किया जाएगा. हेल्थ, इंफ्रास्ट्रक्टर का बजट बढ़ाया गया है. परिवहन मंत्रालय को 1.18 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. देश में अगले साल तक 8500 KM रोड प्रोजेक्ट तैयार हो जाएंगे. बंगाल में हाइवे प्रोजेक्ट के लिए 25 हजार करोड़ रुपये दिए जाएंगे. कोलकाता-सिलीगुड़ी के रिपेयर वर्क पर खर्च किया जाएगा. पब्लिक बस के लिए 18 हजार करोड़ रुपये दिए जाएंगे. 1,100 किलोमीटर का राजमार्ग केरल में बनेगा.'

निर्मला सीतारमण ने कहा, '675 किलोमीटर का राजमार्ग पश्चिम बंगाल में बनेगा. 19,000 करोड़ रुपये की हाईवे योजना असम में जारी है. असम में रोड प्रोजेक्ट के लिए 35,000 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. कन्याकुमारी कॉरिडोर के लिए 65,000 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. तमिलनाडु में हाइवे के लिए एक लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. पूंजीगत खर्च में 5.54 लाख करोड़ रुपये का प्रस्ताव है. स्वास्थ्य बजट 94,000 करोड़ रुपये से बढ़कर 2.38 लाख करोड़ रुपये हुआ. प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना शुरू होगी. रेलवे ने राष्ट्रीय रेल योजना बनाई है. ढुलाई के पूर्वी-पश्चिमी रेल कॉरिडोर बनेंगे. 2023 तक ब्रॉड गेज का संपूर्ण बिजलीकरण हो जाएगा. रेलवे को पूंजीगत खर्च के लिए 1.1 लाख करोड़ रुपये दिए जाएंगे.'

COVID वैक्सीन के लिए सरकार ने खोला खजाना, 35,000 करोड़ रुपये का ऐलान

उन्होंने आगे कहा, 'देश में 17 नए इमरजेंसी हेल्थ सेंटर खुलेंगे. किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य है. PM आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना की शुरुआत की जा रही है. मिशन पोषण 2.0 की शुरुआत की जा रही है. पुराने वाहनों के लिए स्क्रैप पॉलिसी लाई जाएगी. कोरोना वैक्सीन के लिए 35 हजार करोड़ रुपये दिए जाएंगे.'

"जब भोर अंधेरा होता है..", टैगोर की पंक्तियां पढ़कर वित्त मंत्री ने की बजट भाषण की शुरुआत, समझें मायने

वित्त मंत्री ने कहा, 'यह बजट ऐसी परिस्थितियों में तैयार किया गया है, जो पूर्व में कभी नहीं थी. 2020 में हमने कोविड-19 के साथ क्या-क्या सहन किया, उसका कोई उदाहरण नहीं है. आज भारत के पास दो वैक्सीन उपलब्ध हैं. हमने कोविड-19 के विरुद्ध स्वयं के नागरिकों को चिकित्सा की दृष्टि से सुरक्षित करना शुरू किया है. 100 या उससे अधिक देशों के लोगों को भी इसकी सुरक्षा मुहैया कराई है.'

बजट 2021 के बीच राहुल गांधी का सरकार को 'सुझाव', स्वास्थ्यसेवा और रक्षा खर्च में हो बढ़ोतरी


उन्होंने आगे कहा, 'महामारी के दौरान 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज दिया गया. 40 करोड़ लोगों के खातों में पैसा पहुंचा. भारत में कोरोना की मृत्यु दर काफी कम है. सबको शिक्षा देना सरकार का लक्ष्य है. जल जीवन मिशन (शहरी) लॉन्च किया जाएगा. वायु प्रदूषण से बचने के लिए 2,000 करोड़ रुपये दिए जाएंगे. स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत की विशेष योजनाएं हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: वित्त मंत्री ने जैसे ही पढ़ना शुरू किया बजट भाषण, हंगामा करने लगा विपक्ष