कोरोना महामारी: नए वेरिएंट के दौर में एलर्जी, पोस्‍ट वैक्‍सीनेशन और कोविड में दिख रहे मिलते-जुलते लक्षण..

कोरोना वायरस ने रूप बदला है तो कुछ नए लक्षण भी जुड़े हैं. अचानक आंखें गुलाबी हो और सुनने में दिक़्क़त हो तो ज़रा अलर्ट हो जाएं और डॉक्टर से संपर्क करें.

कोरोना महामारी: नए वेरिएंट के दौर में एलर्जी, पोस्‍ट वैक्‍सीनेशन और कोविड में दिख रहे मिलते-जुलते लक्षण..

कोरोना वायरस ने रूप बदला है तो कुछ नए लक्षण भी जुड़े हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • वायरस ने रूप बदला है तो कुछ नए लक्षण भी जुड़े
  • आंखें गुलाबी होना और सुनने में तकलीफ भी हैं अब लक्षण
  • खांसी, बुखार और बॉडी पेन जैसे लक्षण में हैं समानता
मुंंबई:

कोरोना वायरस ने रूप बदला है तो कुछ नए लक्षण भी जुड़े हैं. अचानक आंखें गुलाबी हो और सुनने में दिक़्क़त हो तो ज़रा अलर्ट हो जाएं और डॉक्टर से संपर्क करें. एलर्जी, पोस्ट वैक्सिनेशन इफ़ेक्ट्स और कोविड के लक्षणों में भी लोग उलझ रहे हैं क्‍योंकि ये मिलते जुलते हैं. एक्‍सपर्ट्स के अनुसार, आंखें गुलाबी या लाल होना और कम सुनाई देना, डबल म्‍यूटेंट वेरिएंट के दौर में ये दो नए लक्षण मिल रहे हैं. अगर ऐसे लक्षण दिखें तो डॉक्टर की सलाह लें या जांच करवाएं. फ़ोर्टिस हॉस्पिटल के डायरेक्‍टर (इमरजेंसी मेडिसिन) डॉ. संदीप गोरे बताते हैं, 'अभी जो डबल म्यूटंट स्ट्रेन आया है इसमें हम  दो नए लक्षण देख रहे हैं कि मरीज़ की आंखें गुलाबी दिख रही हैं और मरीज़ को सुनने में दिक़्क़त हो रही है. डबल म्युटंट स्ट्रेन के दौर में ये दो नए लक्षण हैं.'

उत्तर प्रदेश में बढ़ाया गया नाइट कर्फ्यू का वक्त, यूपी बोर्ड की परीक्षा स्थगित

मौजूदा दौर में एलर्जी, पोस्ट वैक्सिनेशन इफ़ेक्ट या फिर कोविड..इन तीनों के मिलते-जुलते लक्षण लोगों को उलझन में डाल रहे हैं. Wockhardt हॉस्पिटल के कंसल्‍टेंट फिजीशियन डॉ. जितेंद्र जैन बताते हैं, 'हम अपनी ओपीडी में रोज़ाना 5-10 मरीज़ देख रहे हैं जिनको ये कन्फ़्यूज़न है कि उनको बुख़ार या फिर जो नए सिम्प्टम्ज़ हैं, ये वैक्सीन के कारण है या वायरस के कारण.' उन्‍होंने साफ किया कि एलर्जी संक्रमण और COVID दोनों के लक्षण में खांसी, गंध की कमी, ठंड, बहती आंखें, चकत्‍ते और सिरदर्द की परेशानी हो सकती है.  सांस की तकलीफ, सीने में जकड़न (congestion) भी हो सकता है.

भारत में विदेशी वैक्सीन के लिए CDSCO को देना होगा आवेदन, शर्तें पूरी करने के बाद DGCI देगा मंजूरी

इधर कोविड का टीका लगने के बाद के साइड इफ़ेक्ट्स में भी कुछ लक्षण, कोरोना संक्रमण के समान हो सकते हैं जैसे-बुखार, चकत्‍ते, थकान, सिरदर्द आदि. फ़ोर्टिस हीरानंदानी हॉस्पिटल के इमरजेंसी डिपार्टमेंट के डॉ शकील अहमद के अनुसार, 'ये ध्यान देना ज़रूरी है कि वैक्सीन के साइड इफ़ेक्ट में आपको हाई फ़ीवर नहीं होगा. बॉडी पेन भी माइल्ड होगा जो एक-दो दिन में सेटल हो जाता है. दूसरी ओर, कोविड में सीवियर बॉडी पेन होगा, ज़्यादा कमजोरी होगी और लगातार बुख़ार आता है, सिरदर्द होता है.'


बेड दे दो या मार दो' : महाराष्ट्र में कोरोना से जूझ रहे मरीज के बेटे ने लगाई गुहार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भाटिया हॉस्पिटल के श्वास रोग विशेषज्ञ (Pulmonologist) डॉ जीनम शाह कहते हैं, 'सर्दी होना, नाक बहना, छींकें आना, अस्थमा की दिक़्क़त बढ़ना, खुजली होना, ये ऐलर्जी के लक्षण हैं. वहीं वैक्सीन के बाद 48 घंटे तक फ़ीवर रह सकता है उसके बाद नहीं. ऐलर्जी में ये वीकनेस जैसे सिम्प्टम नहीं होंगे, वहीं कोविड में बुख़ार खांसी जैसे लक्षण दिखते हैं.' वायरस के इस बदले तेवर में आप हर लक्षण पर ध्यान दें और समय रहते डॉक्टर से संपर्क करें.