पांच चुनावी राज्यों का हाल : एक माह में 3 गुना बढ़ गए कोरोना के मामले, 6 गुना बढ़ गई मौतें

Five States Assembly Election Corona Cases : देश के 10 सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में वो तीन प्रदेश शामिल हैं, जहां हाल ही में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए हैं. ये राज्य केरल(Kerala), तमिलनाडु (Tamilnadu) और बंगाल (Bengal) हैं.

पांच चुनावी राज्यों का हाल : एक माह में 3 गुना बढ़ गए कोरोना के मामले, 6 गुना बढ़ गई मौतें

Assembly Elections Corona Cases : चुनावी राज्यों में बढ़ा कोरोना का कहर (प्रतीकात्मक)

नई दिल्ली:

Corona Cases Five States Assembly Elections :चुनावी राज्यों में कोरोना के मामलों में उछाल की आशंका सच साबित होती दिख रही है. तमिलनाडु, केरल, पुडुचेरी, असम और पश्चिम बंगाल (West Bengal Corona Cases Today) में एक माह पहले और अब के आंकड़े यही संकेत दे रहे हैं. 15 अप्रैल से 15 मई की तुलना करें तो इन पांच राज्यों में कोरोना के कुल मामले 3 गुना बढ़ गए हैं, जबकि मौतों का आंकड़ा तो 6 गुना तक बढ़ गया है. विधानसभा चुनाव की बात करें तो असम, बंगाल, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल ( Kerala Corona Cases Today) में 15 अप्रैल को कुल कोरोना केस 26594 थे जो अब बढ़कर 92794 तक पहुंच गए हैं. जबकि 15 अप्रैल 2021 को इन पांच राज्यों में कोरोना से हुईं कुल मौतों की बात करें तो कुल 112 मरीजों ने दम तोड़ा था, यह संख्या अब बढ़कर 626 तक पहुंच गई है. 

कोरोना को लेकर बदइंतजामी और चुनावों में उसके असर से RSS, बीजेपी में मची खलबली: सूत्र

 देश के करीब 29% मामले इन 5 राज्यों में
देश में 15 मई को 3.26 लाख के करीब कोरोना केस सामने आए थे और इस हिसाब से करीब 29 फीसदी मामले इन राज्यों में मिल रहे हैं. देश के 10 सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में वो तीन प्रदेश शामिल हैं, जहां हाल ही में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए हैं. ये राज्य केरल, तमिलनाडु (Tamil nadu Corona Cases Today) और बंगाल हैं. तमिलनाडु में 15 मई को 33,658 केस मिले थे और वो कोरोना प्रभावित राज्यों में तीसरे स्थान पर है. जबकि 32,680 कोरोना केस के साथ केरल चौथी पायदान पर है. 

कोरोना के बीच चुनाव के 'विनाशकारी परिणाम' का अनुमान लगाने में फेल रहे EC और सरकार : इलाहाबाद HC

24 फीसदी एक्टिव केस इन राज्यों में....
कोरोना के 15 मई के आंकड़ों के हिसाब से देश में कोरोना के कुल एक्टिव केस 36.18 लाख के करीब हैं. इनमें से पांच चुनावी राज्यों में 8 लाख 48 हजार 12 एक्टिव केस हैं. यह कुल इलाज करा रहे मरीजों का करीब 24 फीसदी है. 15 मई 2021 के आधार पर केरल में 445692, तमिलनाडु में 207789, बंगाल में 131948, असम में 45,355 और पुडुचेरी में 17,228 एक्टिव केस हैं. 

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की प्रक्रिया आठ चरणों में चली थी और 29 मई को खत्म हुई थी. जबकि असम में तीन चऱणों में चुनाव हुए थे. तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में 6 अप्रैल को एक चरण में विधानसभा चुनाव हुआ था. विधानसभा चुनाव के दौरान रैलियों, सभा, रोडशो में मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं. खासकर बंगाल में आठ चऱणों के चुनाव के दौरान यह मामला अदालत तक पहुंचा. चुनाव आयोग (Election Commission) को फजीहत के बाद आखिरी चरणों के चुनाव में प्रचार को सीमित करना पड़ा.


15 मई की सूरत-----
राज्य-मामले-मौतें
पश्चिम बंगाल-19511-144
केरल-32680-96
असम-5347-63
तमिलनाडु-33658-303
पुडुचेरी-1598-20
कुल-92794-626

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


16 अप्रैल का हाल-----
राज्य-मामले-मौतें
केरल-10131-21
तमिलनाडु-8449-33
असम-573-04
बंगाल-6910-51
पुडुचेरी-531-03
कुल-26594-112