कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसान भी हमारे अपने, उनके साथ हमें... : वरुण गांधी

वरुण गांधी ने ट्विटर पर लिखा कि किसान हमारे अपने ही हैं. हमें उनके साथ सम्मानजनक तरीके से फिर से बातचीत करनी चाहिए और उनकी पीड़ा समझनी चाहिए.

कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसान भी हमारे अपने, उनके साथ हमें... : वरुण गांधी

कृषि कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों के लिए वरुण गांधी ने किया ट्वीट. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद वरुण गांधी (Varun gandhi) ने रविवार को कहा कि किसी समझौते पर पहुंचने के लिए सरकार को तीन नए कृषि कानूनों (Farm Laws) का विरोध कर रहे किसानों के साथ फिर से बातचीत करनी चाहिए. केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में रविवार सुबह विभिन्न राज्यों के किसान मुजफ्फरनगर के राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में होने वाली किसान महापंचायत के लिए बड़ी संख्या में एकत्र हुए हैं.

गांधी ने लोगों के हुजूम का एक वीडियो ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा, ‘‘आज मुजफ्फरनगर में विरोध प्रदर्शन के लिये लाखों किसान इकट्ठा हुए हैं. वे हमारे अपने ही हैं. हमें उनके साथ सम्मानजनक तरीके से फिर से बातचीत करनी चाहिए और उनकी पीड़ा समझनी चाहिए, उनके विचार जानने चाहिए और किसी समझौते तक पहुंचने के लिए उनके साथ मिल कर काम करना चाहिए.''


अगले वर्ष की शुरुआत में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं, इस लिहाज से इस आयोजन को महत्वपूर्ण माना जा रहा है. केन्द्र सरकार आंदोलन कर रहे किसानों के साथ कई दौर की बातचीत कर चुकी है, लेकिन सभी बेनतीजा रही हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ेंः



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)