रोज ये काम करने से कंट्रोल कर सकते हैं ब्लड शुगर लेवल, डायबिटीज रोगियों को मिलते हैं ये 9 फायदे

Walking Benefits: हालांकि पैदल चलना सभी के लिए बेहद फायदेमंद है, लेकिन यहां हम डायबिटीज वाले लोगों के लिए पैदल चलने के कुछ फायदों के बारे में बता रहे हैं.

रोज ये काम करने से कंट्रोल कर सकते हैं ब्लड शुगर लेवल, डायबिटीज रोगियों को मिलते हैं ये 9 फायदे

Diabetes: डेली टहलने से ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद मिल सकती है.

Diabetes: चलना एक फिजिकल एक्टिविटी है. चलना आम तौर पर सभी उम्र और फिटनेस लेवल के लोगों के लिए एक हेल्दी एक्टिविटी माना जाता है. यह कई फायदे भी देता है, जिसमें हार्ट रिलेटेड फिटनेस बढ़ाना, जोड़ों और मसल्स स्ट्रेंथ, वेट मैनेजमेंट, हार्ट डिजीज और टाइप 2 डायबिटीज जैसी पुरानी बीमारियों के रिस्क को कम किया जा सकता है. इसके साथ ही मूड में सुधार और मेंटल हेल्थ को इंप्रूव कर सकते हैं. डायबिटीज वाले लोगों के लिए पैदल चलना खासतौर से फायदेमंद है. रेगुलर फिजिकल एक्टिविटी, जैसे चलना, इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करने में मदद करती है, ब्लड शुगर लेवल को कम करती है, वेट कंट्रोल करने में सहायता करती है, डायबिटीज से रिलेटेड कॉम्प्लीकेशन्स के रिस्क को कम करती है. यहां हम डायबिटीज वाले लोगों के लिए पैदल चलने के कुछ फायदों के बारे में बता रहे हैं.

पैदल चलने से डायबिटीज रोगियों को होने वाले फायदे | Benefits of walking for diabetic patients

1. ब्लड शुगर लेवल में सुधार होता है

पैदल चलना मसल्स में इंसुलिन सेंसिटिविटी और ग्लूकोज की मात्रा को बढ़ाकर ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है, जिससे ग्लाइसेमिक कंट्रोल में सुधार होता है.

2. वेट मैनेजमेंट

रेगुलर चलने से वजन घटाने या वजन को कंट्रोल रखने में मदद मिल सकती है. यह कैलोरी बर्न करता है और हेल्दी बॉडी वेट को बनाए रखता है, जिससे डायबिटीज वाले लोगों में मोटापे से रिलेटेड रिस्क का खतरा कम हो जाता है.

3. हार्ट हेल्थ

चलना एक हार्ट रिलेटेड एक्सरसाइज है जो हार्ट को मजबूत बनाता है और सर्कुलेशन में सुधार करता है. यह हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसी हार्ट रिलेटेड बीमारियों के खतरे को कम करने में मदद करता है, जो डायबिटीज वाले लोगों में ज्यादा प्रचलित हैं.

ये भी पढ़ें: इस बीमारी में मसल्स और टिश्यू से बाहर निकल जाते हैं ऑर्गन के पार्ट्स, क्या ये कमजोरी का संकेत है? जानिए

4. इंसुलिन रेजिस्टेंस में कमी

पैदल चलने से इंसुलिन की क्रिया में सुधार होता है, जिससे इंसुलिन रेजिस्टेंस कम होता है. इससे इंसुलिन की जरूरत कम हो सकती है और ऑलओवर हेल्थ को मैनेज किया जा सकता है.

5. लो ब्लड प्रेशर

रेगुलर टहलने से ब्लड प्रेशर लेवल को कम करने में मदद मिल सकती है. यह डायबिटीज वाले लोगों के लिए खासतौर से फायदेमंद है, जिन्हें अक्सर हाई ब्लड प्रेशर होता है.

6. कोलेस्ट्रॉल लेवल में सुधार

पैदल चलने से हाई डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन (एचडीएल या "अच्छा") कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है जबकि लो डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल या "खराब") कोलेस्ट्रॉल कम होता है. डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए हार्ट रिलेटेड प्रोब्लम्स को रोकने के लिए हेल्दी कोलेस्ट्रॉल लेवल को बनाए रखना जरूरी है.

7. बेहतर मूड और मेंटल हेल्थ

चलने से एंडोर्फिन का स्राव उत्तेजित होता है, जो मूड में सुधार कर सकता है और स्ट्रेस और चिंता को कम कर सकता है. यह डिप्रेशन के लक्षणों को भी कम कर सकता है, जो डायबिटीज वाले लोगों में आम हो सकता है.

ये भी पढ़ें: 15 दिन पानी में एक चम्मच इस चीज का पाउडर मिलाकर पिएं, घट जाएगी पेट और कमर की चर्बी, जल्दी दिखने लगेंगे स्लिम फिट

8. एनर्जी लेवल को बढ़ाता है

रेगुलर चलने से फिटनेस लेवल में सुधार हो सकता है और एनर्जी बढ़ सकती है. यह डायबिटीज से पीड़ित लोगों द्वारा अक्सर अनुभव की जाने वाली थकान से मुकाबला कर सकता है और एक्टिव लाइफस्टाइल को बढ़ावा दे सकता है.

9. जॉइंट हेल्थ को बढ़ाता है

चलना एक कम प्रभाव वाला व्यायाम है जो जोड़ों की फ्लेसिबिलिटी और मजबूती को बेहतर बनाने में मदद करता है. यह डायबिटीज वाले लोगों के लिए खासतौर से फायदेमंद हो सकता है जो गठिया जैसी कंडिशन से भी पीड़ित हैं.



Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)