विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 17, 2023

काम में टालमटोल करने वालों को होता है इन सीरियस हेल्थ प्रोब्लम्स का सबसे ज्यादा खतरा : स्टडी

साइंस अलर्ट की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि टालमटोल न केवल आपके काम या पढ़ाई को नुकसान पहुंचाता है, बल्कि यह आपके स्वास्थ्य को भी गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकता है.

Read Time: 3 mins
काम में टालमटोल करने वालों को होता है इन सीरियस हेल्थ प्रोब्लम्स का सबसे ज्यादा खतरा : स्टडी
हाल के एक अध्ययन में टालमटोल और खराब स्वास्थ्य के बीच संबंध पाया गया है.

अपने कामों को बाद के लिए टालना या समय सीमा के बाद करना और इसके बजाय सोशल मीडिया फीड को स्क्रॉल करना, एक ऐसी चीज है जिसके लिए हम सभी दोषी हैं. प्रोक्रैस्टिनेटिंग यानि टालमटोल बेहद आम है और हम सभी ने इसे समय-समय पर किया है. जरूरी कार्यों में देरी प्रोडक्टिविटी और रिलेशन को खराब करती है, लेकिन कई लोगों के लिए यह समस्या उनकी लाइफ क्वालिटी में हस्तक्षेप नहीं करता है. हालांकि, साइंस अलर्ट की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि टालमटोल न केवल आपके काम या पढ़ाई को नुकसान पहुंचाता है, बल्कि यह आपके स्वास्थ्य को भी गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा सकता है.

काम में टालमटोल करना और खराब स्वास्थ्य के बीच संबंध:

हाल के एक अध्ययन में विलंब और खराब स्वास्थ्य के बीच संबंध पाया गया है और इसे हाई लेवल स्ट्रेस, अनहेल्दी लाइफस्टाइल और उपचार में देरी करने की प्रवृत्ति से जोड़ा गया है.

नमक पानी के टोटके हैं कमाल, पाचन तंत्र और आंतों की सफाई कर चेहरे को मिलेगी चमक!

दोनों के बीच संबंध स्थापित करने के लिए शोधकर्ताओं ने एक अध्ययन किया जिसमें लोगों को कुछ समय के लिए देखा गया और अध्ययन में कई बिंदुओं को नोट किया गया. अध्ययन में स्टॉकहोम और उसके आसपास के आठ विश्वविद्यालयों के 3,525 छात्र शामिल थे, जिन्हें एक साल के लिए हर तीन महीने में कुछ प्रश्नों को पूरा करने के लिए कहा गया था.

टालमटोल से चिंता और तनाव की आशंका ज्यादा:

अध्ययन के नतीजे, जो 3 जनवरी को एएमए नेटवर्क ओपन में प्रकाशित हुए थे, ने दिखाया कि विलंब के नौ महीने बाद कुछ छात्र डिप्रेशन, चिंता और तनाव के कुछ लक्षणों से जूझ रहे थे, जिन छात्रों ने अधिक टालमटोल किया उनमें कंधों या आर्म्स में दर्द, खराब स्लीप क्वालिटी और अकेलेपन की रिपोर्ट करने की संभावना अधिक थी.

बूढ़ा दिखने लगा है चेहरा तो करें ये काम, जानें समय से पहले बढ़ती त्वचा की उम्र को रोकने के तरीके

रिजस्ट बताते हैं कि मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं, दर्द को अक्षम करने और अनहेल्दी लाइफस्टाइल सहित हेल्थ रिजल्ट की एक लंबी सीरीज के लिए टालमटोली एक कारण हो सकती है.

अध्ययन में आगे कहा गया है कि कॉग्नेटिव बिहेवियर थेरेपी आदतन टालमटोल करने वालों की मदद कर सकती है. उपचार व्यक्ति को ध्यान केंद्रित करने में मदद कर सकता है. यहां तक कि छोटे बदलाव जैसे मोबाइल फोन बंद करने का भी बड़ा प्रभाव हो सकता है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
रात को ठीक से नींद नहीं आती तो, सोने से पहले कर लीजिए ये एक काम, लेटने के बाद सीधा सुबह खुलेगी नींद
काम में टालमटोल करने वालों को होता है इन सीरियस हेल्थ प्रोब्लम्स का सबसे ज्यादा खतरा : स्टडी
Health Tips: जरूरत से ज्यादा पानी पीना भी हो सकता है खतरनाक, जानें किसे कितना पानी पीना चाहिए
Next Article
Health Tips: जरूरत से ज्यादा पानी पीना भी हो सकता है खतरनाक, जानें किसे कितना पानी पीना चाहिए
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;