Vulvar cancer शरीर के किस हिस्से में होता है? जानिए क्या है वुल्वर कैंसर और इसके लक्षण

Vulvar Cancer Symptoms: कुछ ऐसे लक्षण हैं जो केवल वुल्वर कैंसर तक ही सीमित हैं, जिन्हें अक्सर गलत डायग्नोस किया जाता है या यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन या यीस्ट इंफेक्शन समझा जाता है. जबकि ऐसी गलतफहमी आपके कैंसर को और भी बढ़ा सकती है. ऐसे में वुल्वर कैंसर के लक्षण पहचानना जरूरी हो जाता है.

Vulvar cancer शरीर के किस हिस्से में होता है? जानिए क्या है वुल्वर कैंसर और इसके लक्षण

Symptoms Of Vulvar Cancer: वेजाइना में लगातार खुजली और पेशाब करते समय जलन होना.

खास बातें

  • वल्वर कैंसर के लक्षण कैंसर अन्य स्थितियों जैसे हो सकते हैं.
  • वेजाइना में किसी भी बदलाव दिखने पर डॉक्टर से मिलें.
  • योनि में खुजली और जलन एक आम स्वास्थ्य समस्या है.

Sign Of Vulvar cancer: कुछ ऐसे कैंसर हैं जो केवल महिला प्रजनन अंगों में होते हैं. स्त्री रोग संबंधी कैंसर के पांच मुख्य प्रकार हैं सर्वाइकल, ओवेरियन, यूटेराइन, वेजाइनल और वुल्वर. यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के अनुसार, छठा दुर्लभ फैलोपियन ट्यूब कैंसर है. डिम्बग्रंथि और वेजाइना के कैंसर (Vaginal Cancer) में अधिक बार या तत्काल पेशाब और कब्ज होना आम है. हालांकि, कुछ ऐसे लक्षण हैं जो केवल वुल्वर कैंसर तक ही सीमित हैं, जिन्हें अक्सर गलत डायग्नोस किया जा सकता है या यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) या यीस्ट इंफेक्शन समझा जाता है. जबकि ऐसी गलतफहमी आपके कैंसर को और भी बढ़ा सकती है. ऐसे में वुल्वर कैंसर के लक्षण (Symptoms of Vulvar Cancer) पहचानना जरूरी हो जाता है.

वुल्वर कैंसर क्या है? | What Is Vulvar Cancer?

वेजाइना महिला जननांग का बाहरी हिस्सा है, जिसे वेस्टिबुल के रूप में भी जाना जाता है, जो बाहरी होंठ, लेबिया मिनोरा, आंतरिक होंठ और भगशेफ है.

हाई कोलेस्ट्रॉल को रिवर्स करने 6 नेचुरल तरीके, इन आसान उपायों से पिघल जाएगा नसों में जमा फैट

वल्वर कैंसर योनी में कोशिकाओं की असामान्य वृद्धि है, जो अमेरिकन कैंसर सोसाइटी (एसीएस) के अनुसार, लेबिया मेजा या लेबिया मिनोरा के आंतरिक किनारों को सबसे अधिक प्रभावित करता है.

आयु रोग के प्रमुख जोखिम कारकों में से एक है. 50 साल से कम उम्र की महिलाओं में 70  साल से अधिक उम्र की महिलाओं की तुलना में वुल्वर कैंसर होने का खतरा कम होता है.

वुल्वर कैंसर के लक्षणों में हो सकते हैं कन्फ्यूज:

वेजाइना का कैंसर ऐसे लक्षण पैदा कर सकता है जो कभी-कभी कुछ लोगों के लिए बात करने और चर्चा करने के लिए बेहद असहज हो सकते हैं, यही कारण है कि अक्सर निदान करने में देरी होती है. इसके अलावा, यह देखते हुए कि वुल्वर कैंसर के लक्षण कभी-कभी अन्य सौम्य स्वास्थ्य स्थितियों की नकल कर सकते हैं, लोग इसकी उपेक्षा करते हैं, जिससे चीजें बदतर हो जाती हैं.

Diabetes रोगी इंसुलिन इंजेक्शन की बजाय खाना शुरू करें ये एक चीज, नेचुरल तरीके से बढ़ेगा Insulin और कंट्रोल रहेगा ब्लड शुगर

मैकमिलन कैंसर सपोर्ट के अनुसार, "वल्वर कैंसर के लक्षण कैंसर के अलावा अन्य स्थितियों में भी हो सकते हैं, लेकिन अगर आपको लगता है कि आपको कोई लक्षण हैं तो अपको जांच करवाना जरूरी है." यूके की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) आपके वेजाइना में किसी भी बदलाव को देखते हुए डॉक्टर से मिलने की सलाह देती है. यह कैंसर होने की अत्यधिक संभावना को दर्शाते हैं, इन परिवर्तनों की जांच की जानी चाहिए.

वुल्वर कैंसर के लक्षण | Symptoms Of Vulvar Cancer

1) वेजाइना में लगातार खुजली और पेशाब करते समय जलन होना

योनि में खुजली और जलन एक आम स्वास्थ्य समस्या है जिसका सामना ज्यादातर महिलाएं अपनी जीवन में करती हैं. यह ब्लैडर इन्फेक्शन, यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI) या यीस्ट इन्फेक्शन का संकेत है, जो काफी आम हैं. हालांकि, जो बहुत से लोग नहीं जानते या अनदेखा करते हैं वह यह है कि पेशाब करते समय लगातार खुजली और जलन भी वुल्वर कैंसर का संकेत दे सकती है. इसे कभी-कभी वेजाइना थ्रश भी कहा जाता है.

oedm6p

कैंसर रिसर्च यूके का कहना है कि थ्रश एक सामान्य यीस्ट संक्रमण है जो शरीर के विभिन्न हिस्सों में मुंह और त्वचा को प्रभावित कर सकता है. हालांकि, योनि थ्रश के लक्षण वल्वल कैंसर के समान हो सकते हैं और इसमें व्हाइट डिस्चार्ज, पेशाब करते समय दर्द शामिल हैं.

पेट को अंदर करने और फुल बॉडी फैट को घटाने के लिए रामबाण हैं ये 7 चीजें, क्विक रिजल्ट देते हैं ये आयुर्वेदिक नुस्खे!

2) वेजाइना पर मस्से जैसी वृद्धि

आपके विचार से लोगों में जननांग मस्सा अधिक आम हैं. यह त्वचा के रंग का या सफेद रंग का उभार जैसा दिखता है जो योनी, गर्भाशय ग्रीवा, लिंग, अंडकोश या गुदा के आसपास दिखाई देता है.

एसीएस के अनुसार, आक्रामक स्क्वैमस सेल वुल्वर कैंसर का एक उपप्रकार, वर्चुअस कार्सिनोमा, जननांग मस्सा के समान फूलगोभी जैसी वृद्धि की तरह दिख सकता है. जबकि इसके कैंसर होने की संभावना दुर्लभ है. हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें.

3) तिल में होने वाले बदलाव पर नजर रखें

वुल्वर मेलेनोमा एक प्रकार का वुल्वर कैंसर है, जो सालों से मौजूद तिल में बदलाव के साथ शुरू हो सकता है. तिल के ऊपर का रंग समान नहीं हो सकता है, जिसमें भूरा या काला और कभी-कभी लाल, नीले या सफेद रंग के अलग-अलग रंग होते हैं.

अगर पैरों पर दिखाई दें ये 6 वार्निंग साइन तो समझ जाएं शरीर में ब्लड शुगर लेवल की हो गई है अति

4) त्वचा में बदलाव पर ध्यान दें

योनी त्वचा का वह क्षेत्र है जो मूत्रमार्ग और योनि को जोड़ता है, जिसमें भगशेफ और लेबिया शामिल हैं. महिला प्रजनन प्रणाली के इस हिस्से में किसी भी बदलाव को नोटिश किया जाना चाहिए.

वुल्वर कैंसर के मामले में वेजाइना अलग दिख सकती है, उसके आसपास की सामान्य त्वचा की तुलना में हल्का या गहरा हो सकता है, या एसीएस के अनुसार लाल या गुलाबी दिख सकता है.

एक गांठ हो सकती है, जो लाल, गुलाबी या सफेद हो सकती है और इसमें मस्से जैसी या कच्ची सतह हो सकती है या खुरदरी या मोटी महसूस हो सकती है.

 अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com