Weight Loss और बेहतर Digestion के लिए कमाल हैं ये 6 फाइबर रिच फूड्स, रोजाना डाइट में करें शामिल!

Best Food For Digestion: महिलाओं के लिए रोजाना 25 ग्राम फाइबर और पुरुषों के लिए 38 ग्राम फाइबर की जरूरत होती है. वजन मैनेज (Manage Weight) करने और बेहतर पाचन (Good Digestion) के लिए फाइबर की मात्रा का काफी ध्यान रखना होता है. यहां जानें किन फूड्स से पाचन और वजन को मैनेज कर सकते हैं.

Weight Loss और बेहतर Digestion के लिए कमाल हैं ये 6 फाइबर रिच फूड्स, रोजाना डाइट में करें शामिल!

Fibre-rich Diet: चिया सीड्स और फ्लैक्ससीड्स फाइबर से भरपूर होते हैं

खास बातें

  • पॉपकॉर्न खाने से आपको आहार फाइबर मिल सकता है.
  • भुना हुआ काला चना भी फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है.
  • एवोकैडो भी एक फाइबर युक्त फल है.

Fiber Rich Foods For Digestion: अपने आहार में फाइबर रिच खाद्य पदार्थों को शामिल करने के एक नहीं बल्कि कई कारण हैं. फाइबर रिच फूड्स (Fiber Rich Foods) में कैलोरी की मात्रा कम होती है जिससे आपको वजन कम (Weight Loss) करने में मदद मिल सकती है. इन फाइबर से भरपूर चीजों को वजन घटाने के लिए डाइट (Weight Loss Diet) में शामिल करना सबसे बेहतर विकल्पों में से एक है. साथ ही ये चीजें पाचन को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं. फाइबर से भरपूर चीजों का सेवन करने से कब्ज (Constipation) से भी छुटकारा पाया जा सकता है. साबुत अनाज, ताजे फल, सब्जियां (जूस या स्मूदी नहीं), नट्स, बीज, बीन्स और फलियां फाइबर से भरपूर फूड्स का बेहतरीन स्रोत होते हैं. यहां हम ऐसे 6 फूड्स के बारे में बता रहे हैं जो आपका आसानी से वजन घटाने (Easy Weight Loss) के साथ पाचन की समस्या (Digestive Problem) को दूर कर सकते हैं.

इन फाइबर रिच फूड्स को डाइट में शामिल कर आसानी से घटाएं वजन | Fiber Rich Foods For Weight Loss

1. चिया और अलसी (Chia And Flaxseeds)

चिया सीड्स और फ्लैक्ससीड्स की बीजों के परिवार में कई सारी वैरायटी हैं. ये दोनों ओमेगा-3 फैटी एसिड का बहुत अच्छा स्रोत होते हैं. इन दोनों को सलाद, अनाज, स्मूदी और पेनकेक्स में शामिल किया जा सकता है. आप इनका नट्स की तरह रोजाना सेवन कर सकते हैं.

2. पॉपकॉर्न (Popcorn)

न्यूट्रिशनडाटा.कॉम के अनुसार, हवा भरे पॉपकॉर्न फाइबर में उच्च और कैलोरी में कम होते हैं. 100 ग्राम पॉपकॉर्न आपको 14.5 ग्राम फाइबर दे सकता है. यह, निश्चित रूप से, पॉपकॉर्न की तैयारी पर निर्भर करता है कि आप इसे कितना मक्खन, पनीर और नमक जोड़ते हैं.

16aki588

Fiber Rich Snacks: पॉपकॉर्न आपको डाइटरी फाइबर दे सकता है.

3. भुना हुआ काला चना (Roasted Black Chana)

भुना हुआ काला चना वजन घटाने के लिए एक पॉपुलर स्नैक है. काला चना आपको 13 ग्राम डाइटरी फाइबर दे सकता है. अगर आपको मेन खाने के बीच-बीच में कुछ खाने की आदत है तो आप भुने हुए काले चने का सेवन कर सकते हैं.

4. एवोकैडो (Avocado)

आप शायद पहले से ही जानते हैं कि एवोकैडो टोस्ट जल्दी और आसानी तैयार किए जा सकते हैं. शोधों से पता चलता है कि नियमित रूप से एवोकैडो खाने से खराब या एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो सकता है. एवोकैडो भी पोटेशियम और हेल्दी फैट का एक उत्कृष्ट स्रोत है. एक 100 ग्राम एवोकैडो आपको 7 ग्राम फाइबर दे सकता है.

5. हम्मस (Hummus)

यह स्वादिष्ट लेबलीस डिप आपके रोजाना फाइबर की जरूरत तो पूरा करने के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है. हम्मस मूल रूप से छोले और जैतून के तेल के साथ बनाया जाता है. हम्मस में काले चने की सामग्री इस डिप को फाइबर का अच्छा स्रोत बनाती है. हम्मस अपने पसंदीदा बर्गर और सैंडविच में मेयो के लिए उपयोग किया जा सकता है.

6. दलिया (Oatmeal)

ओट्स एक विशिष्ट प्रकार के फाइबर से भरपूर होता है जिसे बीटा-ग्लूकन के रूप में जाना जाता है. इस तरह के फाइबर खराब कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते हैं. एक कप ड्राई ओट्स (लगभग 80 ग्राम) में 7.5 ग्राम फाइबर होता है. आप नाश्ते या मध्य-भोजन नाश्ते के लिए कुछ मौसमी फलों के साथ दलिया का सेवन कर सकते हैं.

758s3o48

Fiber Rich Food: ओटमील को फाइबर युक्त भोजन के लिए बना सकते हैं

महिलाओं के लिए रोजाना 25 ग्राम फाइबर और पुरुषों के लिए 38 ग्राम फाइबर की जरूरत होती है. वजन मैनेज करने और बेहतर पाचन के लिए फाइबर की मात्रा का काफी ध्यान रखना होता है. यहां जानें किन फूड्स से पाचन और वजन को मैनेज कर सकते हैं.


एक ही समय में फाइबर का ज्यादा मात्रा में सेवन आपको फूला हुआ, डिहाइड्रेट कर सकता है. अपने शरीर के प्रकार और शारीरिक गतिविधि के अनुसार आपको कितना फाइबर की जरूरत है, यह जानने के लिए अपने आहार विशेषज्ञ से परामर्श करें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.