विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 16, 2023

Gut Health: सर्दियों में बिगड़ सकती है पेट की सेहत! गट हेल्थ और डायजेशन को इंप्रूव करने के लिए इन योगासनों को आजमाएं

Yoga For Digestion: यहां हम कुछ योग को स्टेप-बाई-स्टेप शेयर कर रहे हैं जो सर्दियों में आपके पेट के स्वास्थ्य को मैनेज करने में आपकी सहायता कर सकते हैं.

Read Time: 6 mins
Gut Health: सर्दियों में बिगड़ सकती है पेट की सेहत! गट हेल्थ और डायजेशन को इंप्रूव करने के लिए इन योगासनों को आजमाएं
Yoga: बालासन आपके आंत के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है.

Digestive Health: मौसम में बदलाव कई बाहरी तत्वों में से एक है जो मानव स्वास्थ्य पर प्रभाव डाल सकता है. सर्दी में जुकाम और फ्लू सबसे आम होते हैं. मौसमी परिवर्तनों का अक्सर पाचन तंत्र पर सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है, जिससे साल के इस समय के दौरान हार्ट बर्न, एसिड रिफ्लक्स, पेट की परेशानी आदि जैसी स्थितियां अधिक प्रचलित होती हैं. यह समझना जरूरी है कि मौसमी ट्रेंड और विविधता आंत के स्वास्थ्य और पाचन तंत्र को कैसे प्रभावित कर सकते हैं. पानी का सेवन कम करना, अनहेल्दी फूड्स खाना, अधिक खाना और व्यायाम की कमी उन कई कारकों में से हो सकते हैं जो सर्दियों में पेट की समस्या का कारण बनते हैं.

थायरॉइड फंक्शनिंग को इंप्रूव करने के लिए 5 पोषक तत्वों से भरे फूड्स को खाएं, हार्मोनल सिस्टम होगा बूस्ट

पानी का सेवन बढ़ाने और सही खाने के अलावा कई तरह के लाइफस्टाइल कारक हैं जो सर्दियों में सीधे आपके पेट के स्वास्थ्य में सुधार कर सकते हैं. ऐसा ही एक कारक है फिजिकली एक्टिव रहना. खासकर से योग सर्दियों में आंत के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में बेहद मददगार साबित हो सकता है. इस लेख में हम योग के स्टेप-बाई-स्टेप शेयर करते हैं जो सर्दियों में आपके पेट के स्वास्थ्य को मैनेज करने में आपकी सहायता कर सकते हैं.

सर्दियों में हेल्दी गट हेल्थ के लिए इन योगासनों को करें | Yoga Poses For Healthy Gut Health In Winter

1) उत्तानासन

सीधे खड़े हो जाएं. धीरे-धीरे आगे झुकें और अपनी हथेलियों को फर्श पर रखें. (अपने शरीर को आधे में मोड़ना) अगर आप पर्याप्त रूप से झुकने में असमर्थ हैं तो अपने पैर की उंगलियों को छूना भी पर्याप्त हो सकता है. इस स्थिति को रिवाइज किया जा सकता है. इसलिए अपने हाथों को जितना हो सके फर्श की ओर ले जाएं. इस बिंदु पर आपका चेहरा आपके पैरों की ओर होना चाहिए, आपके सिर का शीर्ष फर्श की ओर होना चाहिए. इसे छोटे-छोटे अंतराल में कुछ बार दोहराएं.

बहुत जल्दी और आसानी से वजन कम करने में मददगार हैं ये 7 फूड कॉम्बिनेशन

2) त्रिकोणासन

सीधे आगे की ओर देखते हुए और एक समतल सतह पर आराम से फैला हुआ आपका दाहिना पैर अब बाहर की ओर होना चाहिए और एड़ी अंदर की ओर. अगर आरामदायक हो तो अपने सिर को अपने धड़ के अनुरूप रखें शरीर को अनुमति दें प्रत्येक सांस के साथ थोड़ा और आराम करें और प्रत्येक तरफ 10 बार दोहराएं.

3) बालासन

अपने पैरों को मोड़कर सीधे बैठ जाएं. इस बिंदु पर आपके पैर ऊपर की ओर होने चाहिए. अब धीरे-धीरे अपने धड़ को फर्श पर आगे की ओर झुकाएं. इस बिंदु पर आपकी भुजाएं भी आगे की ओर फैली हुई होनी चाहिए, जहां तक संभव हो आपका चेहरा भी फर्श की ओर होना चाहिए. साथ ही आपकी हथेलियां, आपकी पिंडली, माथा और हथेलियां सभी इस स्थिति में जमीन को छू रही होनी चाहिए क्योंकि यह केवल आपके शरीर को फैलाती है और आराम की मुद्रा है, यह आराम और विश्राम प्रदान करती है. इस स्थिति को 10-15 सेकंड के लिए रखें और रोजाना 4-5 सेट करें.

इन 7 वजहों से होते हैं मुंह में छाले और Oral Thrush की समस्या, जानें कितना भारी पड़ सकता है इग्रोर करना

balasana

4) जथारा परिवर्तनासन

अपनी पीठ के बल लेटें, घुटने मुड़े हुए हों, पैर फर्श पर सपाट हों और भुजाएं फैली हों. अपने कूल्हों को दाहिनी ओर ले जाएं, लगभग एक इंच अपने घुटनों और पैरों को एक साथ रखते हुए अपने पैरों को जमीन से ऊपर उठाएं. अपने पैरों को घुमाते हुए बाईं ओर झुकें. कूल्हे फर्श पर एक फ्लैट ऊपरी पीठ बनाए रखें. 4-5 सांसों के लिए बनाए रखें अपने कूल्हों को धीरे-धीरे एक पहले वाली मुद्रा में वापस लाते हुए अपने घुटनों को अपनी छाती तक लाएं. धीरे-धीरे अपने पैरों को फैलाएं.

ये है पैरों के तलवों में दर्द और जलन होने का मुख्य कारण, इन टेस्ट को कराकर लगाएं पता

5) भुजंगासन

फर्श पर लेट जाएं. अब अपनी हथेलियों को अपनी साइड पर रखें और धीरे-धीरे अपने धड़ को ऊपर उठाएं. इस बिंदु पर जमीन को छूने वाले शरीर के हिस्से केवल आपकी हथेलियां और निचले शरीर होना चाहिए. इस स्थिति को 30 सेकंड के लिए रखें और रोजाना 3-4 बार दोहराएं.

इन योगा पोज को अपने डेली वर्कआउट रूटीन में शामिल करने से आपको ट्रैक पर बने रहने और अपने पेट को हेल्दी रखने में मदद मिलेगी.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
हर वक्त होती है एंग्जाइटी और स्ट्रेस, तो आपको रोज 10 मिनट करने हैं ये 5 योगासन, दिमाग होगा हल्का और खुश रहेगा मन
Gut Health: सर्दियों में बिगड़ सकती है पेट की सेहत! गट हेल्थ और डायजेशन को इंप्रूव करने के लिए इन योगासनों को आजमाएं
International Day of Action for Women's Health: इस उम्र की महिलाओं को हर साल करवाने चाहिए ये 7 मेडिकल टेस्ट
Next Article
International Day of Action for Women's Health: इस उम्र की महिलाओं को हर साल करवाने चाहिए ये 7 मेडिकल टेस्ट
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;