How Can I Boost My Immunity: इम्यूनिटी बढ़ाने के सबसे प्रभावी, आसान नेचुरल तरीके, घरेलू उपाय और बेहतरीन टिप्स

Natural Ways To Increase Immunity: अगर आप भी इम्यूनिटी बढ़ाने के आसान प्राकृतिक तरीके तलाश कर रहे हैं जो तेजी से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत कर सके. तो यहां जानें कि शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को नेचुरल तरीके से और जल्दी कैसे बढ़ाया जाए.

How Can I Boost My Immunity: इम्यूनिटी बढ़ाने के सबसे प्रभावी, आसान नेचुरल तरीके, घरेलू उपाय और बेहतरीन टिप्स

How Can I Boost My Immunity: प्रतिरोधक क्षमता को नेचुरल तरीके से और जल्दी कैसे बढ़ाया जाए?

खास बातें

  • प्रतिरोधक क्षमता को नेचुरल तरीके से और जल्दी कैसे बढ़ाया जाए?
  • इम्यूनिटी एक रोगों से लड़ने वाली प्राकृतिक शक्ति है.
  • इसे एक हेल्दी लाइफस्टाइल का पालन करके बढ़ाया जा सकता है.

Effective Ways To Increase Immunity: इम्यूनिटी एक प्राकृतिक रोगों से लड़ने वाली शक्ति है, जो एक हेल्दी लाइफस्टाइल का पालन करके बढ़ाई जा सकती है. इम्यूनिटी बढ़ाने के प्राकृतिक तरीके कई हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं जिससे आप वायरस, बैक्टीरिया और अन्य इम्यून संबंधी बीमारियों के संक्रमण से बच जाते हैं. साल के किसी भी समय इंफेक्शन और अन्य वायरस बीमारियां परेशान कर सकती हैं. ऐसे में मजबूत इम्यून सिस्टम शरीर की रक्षा करने के लिए बहुत जरूरी है. इसलिए पूरा ध्यान आयुर्वेद, घरेलू उपचार और वैकल्पिक दवाओं के अन्य स्रोतों के माध्यम से इम्यूनिटी बढ़ाने पर है. अगर आप भी इम्यूनिटी बढ़ाने के आसान प्राकृतिक तरीके तलाश कर रहे हैं जो तेजी से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत कर सके. तो यहां जानें कि शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को नेचुरल तरीके से और जल्दी कैसे बढ़ाया जाए.

सिर्फ मोटापे का काल ही नहीं है इंटरमिटेंट फास्टिंग ठीक से करने पर मिलते हैं ये 16 आश्चर्यजनक लाभ

इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं? | How To Increase Immunity?

  • दिन में दो बार गर्म पानी और नमक से गरारे करें. इसे नीम के तेल से भी किया जा सकता है.
  • अगर आप नाक की जकड़न, ड्राईनेस को कम करना चाहते हैं, तो गर्म नमकीन पानी के साथ नसल इरिगेशन का उपयोग करने की सिफारिश की जाती है, इसके बाद नथुने में घी का प्रयोग किया जाता है.
  • पेपरमिंट ऑयल, यूकेलिप्टस ऑयल और तुलसी का उपयोग करके अरोमाथेरेपी म्यूकोसल इम्यूनिटी को बेहतर बनाने में मदद करती है.
  • योग और ब्रीथिंग योगा प्रैक्टिश और लार बीटा 2 के स्राव को बेहतर बनाने में मदद करते हैं जो म्यूकोसल प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं.

इम्यूनिटी में सुधार करने के 3 तरीके | 3 Ways To Improve Immunity

  • भरपूर मात्रा में फलों और सब्जियों से भरपूर बैलेंस डाइट को वरीयता दी जानी चाहिए.
  • ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने के लिए हफ्ते में एक बार इंटरमिटेंट फास्टिंग या लेमन जूस फास्टिंग करनी चाहिए.
  • नियमित व्यायाम ब्लड सर्कुलेशन और इम्यूनिटी होमियोस्टेसिस में सुधार करता है. यह एलर्जी का मुकाबला करने के मामले में काफी प्रभावी है जो अलग-अलग वायरल संक्रमणों का स्रोत हैं.

बोना या छोटू नाम से हो गए हैं परेशान, तो तेजी से हाइट बढ़ाने के लिए रोजाना करें ये 5 कारगर योग आसन

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए तनाव कम करने के उपाय | Ways To Reduce Stress To Increase Immunity

  • नियमित रूप से योग करें.
  • प्राणायाम में नादिशोधन, भ्रामरी और शीतली स्ट्रेस बस्टर की तरह काम करते हैं.
  • ध्यान के माध्यम से मन को शांत करता है, कोर्टिसोल और एसिटाइलकोलाइन लेवल को कम करता है जो आमतौर पर तनाव के प्रति शरीर की प्रतिक्रिया के दौरान बढ़ जाता है.
  • योग निद्रा भी तनाव को कम करने के लिए एक प्रभावी उपकरण है जिससे इम्यूनिटी लेवल में वृद्धि होती है.

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए 11 कमाल के टिप्स | 11 Amazing Tips To Increase Immunity

  1. नींद की कमी से श्वसन संक्रमण की संभावना बढ़ जाती है. नियमित रूप से 8 घंटे की नींद प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए जरूरी है.
  2. रोजाना 30 मिनट पैदल चलने से श्वसन संबंधी संक्रमण से बचाव होता है. यह सहनशक्ति और कार्डियोरेस्पिरेटरी फिटनेस में भी सुधार करता है.
  3. तुलसी, पुदीना और नीलगिरी के तेल के साथ भाप लेने से सर्दी, जुकाम, बहती नाक और नाक बंद होने से रोकने में मदद मिलती है. ऐसे में गर्म खारे पानी से नसल इरिगेशन करने से भी फायदा होता है.
  4. अगर किसी के गले में खराश है और आवाज कर्कश है, तो व्यक्ति को गर्म खारे पानी से गरारे करना चाहिए. नीम के पानी के काढ़े में शहद मिलाकर गरारे करने से भी मदद मिलती है. धनिया, हल्दी और काली मिर्च का मिश्रण भी गले की खराश में बहुत राहत देता है.
  5. अदरक एक एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटीस्पास्मोडिक, एंटीट्यूसिव और एक्सपेक्टोरेंट है. कफ निकालने वाली खांसी के इलाज के लिए अदरक को चबाना फायदेमंद माना जाता है.
  6. सूखी खांसी में अदरक को शहद, लौंग, दालचीनी और हल्दी के साथ खाने से लाभ होता है.
  7. घरघराहट और छाती में जमाव होने पर कोल्ड चेस्ट पैक, छाती और पीठ के ऊपरी हिस्से में गर्म सेंक का उपयोग करना चाहिए. 
  8. छाती में जमाव से राहत पाने के लिए तुलसी या नीलगिरी के तेल के साथ भाप लेना भी प्रभावी है.
  9. अगर कोई अस्वस्थता और थकान का अनुभव कर रहा है, तो वेजिटेबल प्रोटीन, प्राकृतिक विटामिन सी, ग्लूकोज और विटामिन डी से भरपूर भोजन लेना चाहिए.
  10. नियमित रूप से शहद के साथ नींबू पानी का सेवन रोग रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक होता है.
  11. सुबह के समय सूर्य के संपर्क में आने से तनाव कम होता है और विटामिन डी मेटाबॉलिज्म में सुधार करके इम्यूनिटी प्रदान करता है.

भृंगराज के 6 हैरान करने वाले स्वास्थ्य लाभ, सिरदर्द, पाचन, स्किन, बालों और लीवर के लिए है कमाल

Ashwagandha: जानें अश्वगंधा खाने के फायदे और नुकसान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.