विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 11, 2024

ग्लोइंग स्किन और जवां दिखने के लिए हर रोज खाएं ये हरी पत्ती, शीशे की तरह चमकेगा चेहरा

धनिया के सूजन-रोधी गुण त्वचा की जलन को शांत करने में मदद करते हैं. ये आपकी स्किन को फायदा पहुंचाने के साथ सेहत को भी कई तरीकों से लाभ पहुंचाने में मदद कर सकते हैं.

ग्लोइंग स्किन और जवां दिखने के लिए हर रोज खाएं ये हरी पत्ती, शीशे की तरह चमकेगा चेहरा
धनिया सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है.

धनिया की पत्तियों को अमूमन खाने की चीजों के ऊपर डालकर गार्निश किया जाता है. इससे आने वाली महक ताजगी भर देती है. क्या आप जानते हैं कि ये हरी धनिया की पत्तियां सिर्फ स्वाद और सुंगध नहीं बल्कि आपकी सेहत के लिए भी काफी लाभदायी होती है. धनिया कई नेचुरल पोषक तत्वों से भरपूर होती है जो एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होता है. ये पत्तियां पाचन में सहायता करके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में लाभदायी हो सकती हैं. धनिया में पाए जाने वाले एंटीबैक्टीरियल गुण मुँहासों का इलाज करने में भी मदद कर सकते हैं. इसमें विटामिन सी पाया जाता है जो कोलेजन को बढ़ाने में मदद करता है जिससे स्किन जवां बनी रहती है. धनिया के सूजन-रोधी गुण त्वचा की जलन को शांत करने में मदद करते हैं. आइए जानते हैं धनिया पत्ती को अपनी डाइट में शामिल करने से होने वाले फायदे. 

डाइट में धनिया पत्ती को शामिल करने से सेहत को होते हैं ये फायदे

यह भी पढ़ें: क्या आप भी प्रेशर कुकर में बनाते हैं दाल? जानिए क्या है सही तरीका, पहुंचा सकती है नुकसान?

वेट लॉस

आयुर्वेद के अनुसार, धनिया के बीज का काढ़ा और पत्तियों में शामिल स्टेरोल्स के कारण कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को रोककर ब्लड लिपिड लेवल को कम कर सकता है, जो कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को प्रतिबंधित करने में मदद कर सकता है.

ट्यूमर को बढ़ने और बनने से रोकता है

धनिया में पाए जाने वाले एक्टिव तत्व, जिनमें फ़ेथलाइड्स और टेरपेनोइड्स शामिल हैं, जो एंजाइमों के बनने को उत्तेजित करते हैं, जो ट्यूमर पैदा करने वाले आयनों और पदार्थों को कम खतरनाक रूपों में बदल देते हैं, जिससे ट्यूमर के बढ़ने  और फैलने को रोका जा सकता है.

स्किन के लिए अच्छा 

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर धनिया में पाए जाने वाले टेरपेनोइड्स, स्टेरोल्स, पॉलीफेनोल्स, एरोमैटिक एसिड और कैरोटीनॉयड फ्री रेडिकल्स को नष्ट करते हैं और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कंट्रोल करते हैं. धनिया में मौजूद आवश्यक तेल या अर्क ब्लड को प्यूरीफाई करके पिंपल्स और मुँहासे जैसी समस्याओं के इलाज में मदद कर सकते हैं.

नेचुरल पेन किलर

धनिया, जिसे धनिया के बीज के रूप में भी जाना जाता है, में पाया जाने वाले मुख्य यौगिक लिनालूल है, और इसमें एनाल्जेसिक गुण हैं जो दर्द को कम करने में लाभदायी हो सकते हैं.

Chemical Hair Straightener & Cancer Risk (in Hindi) | क्या बाल स्ट्रेट कराने से कैंसर होता है?

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
विक्की कौशल और बैड न्यूज़ की टीम ने चंडीगढ़ में उठाया लस्सी का लुत्फ़, जानिए इसके पहले उन्होंने क्या खाया
ग्लोइंग स्किन और जवां दिखने के लिए हर रोज खाएं ये हरी पत्ती, शीशे की तरह चमकेगा चेहरा
Tea Time Snack: शाम की चाय के साथ पेयर करने के लिए बेस्ट है रवा कटलेट, नोट करें आसान रेसिपी
Next Article
Tea Time Snack: शाम की चाय के साथ पेयर करने के लिए बेस्ट है रवा कटलेट, नोट करें आसान रेसिपी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;