दूध, दही नहीं खाना चाहते तो इन 4 दालों का सेवन कर मिलेगा भरपूर प्रोटीन और कैल्शियम

Protein Rich Pulses: प्रोटीन से भरपूर फूड्स मसल्स बिल्डिंग और मसल्स रिकवरी में भी मदद कर सकते हैं. अगर आप प्रोटीन के आसानी से उपलब्ध और सस्ते स्रोतों की तलाश में हैं तो यहां 5 प्रकार की दालें हैं जिनमें सबसे ज्यादा मात्रा में प्रोटीन होता है.

दूध, दही नहीं खाना चाहते तो इन 4 दालों का सेवन कर मिलेगा भरपूर प्रोटीन और कैल्शियम

दाल प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होती है.

Best Protein Sources: इंडियन्स के मेन कोर्स में दाल होती ही है. दालें प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत हैं. इतना ही नहीं दाल की कई किस्में मौजूद हैं इसलिए आप हर दिन एक नई दाल आजमा सकते हैं. दाल प्रोटीन, विटामिन और खनिजों से भरपूर होती है. वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए दाल खाना खासतौर से फायदेमंद है. अपनी डाइट में दाल को शामिल करके आप लंबे समय तक तृप्त रह सकते हैं और आपो पेट भरा होने का अहसास होगा. प्रोटीन से भरपूर फूड्स मसल्स बिल्डिंग और मसल्स रिकवरी में भी मदद कर सकते हैं. यहां 5 प्रकार की दालें हैं जिनमें सबसे ज्यादा मात्रा में प्रोटीन होता है.

प्रोटीन से भरपूर दालों की लिस्ट | Protein rich pulses list

​1. उड़द दाल (काली दाल)

आमतौर पर दाल मखनी बनाने के लिए उपयोग की जाने वाली उड़द दाल प्रोटीन और विटामिन बी के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है. लो फैट और लो कैलोरी वाली उड़द दाल आयरन, फोलिक एसिड, कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर होती है. रेगुलर उड़द दाल खाने से पाचन में सुधार, हेल्दी हार्ट हेल्थ, एनर्जी लेवल को बढ़ावा, हड्डियों के स्वास्थ्य में सुधार और तंत्रिका तंत्र को मजबूत करने में मदद मिल सकती है.

रोज सुबह पी लें इस बीज का पानी, बालों का गिरना हो जाएगा बंद, 1 महीने में काले और लंबे हो जाएंगे बाल

2. चना दाल

प्रोटीन और फाइबर से भरपूर चना आपके स्वास्थ्य को कई तरह से बेहतर बनाने में मदद कर सकता है. एक कप चना दाल आपको भरपूर मात्रा में प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम और पोटैशियम प्रदान कर सकती है. चना दाल हार्ट और डायबिटीज फ्रेंडली भी माना जाता है. ये आपके ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में भी फायदेमंद है और रेड ब्लड सेल्स को बनाए रखने में मदद करता है.

4trqrfeg

3. ​मसूर दाल (लाल मसूर)

इसे आमतौर पर चावल के साथ खाया जाता है. आप मसूर दाल छिलके वाली या बिना छिलके वाली दोनों तरह की दाल खा सकते हैं. दोनों ही तरह की दाल स्वादिष्ट लगती है. मसूर दाल आयरन, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन सी, बी6, बी2, फोलिक एसिड, कैल्शियम, जिंक और मैग्नीशियम से भरपूर होती है.

बरसात के मौसम में रहना है हेल्दी तो आज से ही डाइट में कर लें ये बदलाव, यहां देखें क्या खाना है फायदेमंद

4. ​तूर दाल (अरहर दाल)

तूर दाल जिसका उपयोग खिचड़ी बनाने के लिए किया जाता है या आमतौर पर इसे चावल के साथ मिलाया जाता है. दाल की यह किस्म प्रोटीन और हेल्दी कार्ब्स का एक बड़ा स्रोत है. ये दाल फाइबर, फोलिक एसिड, आयरन और कैल्शियम से भरपूर होती है. इसे रोजाना खाने से आपकी प्रोटीन की मात्रा बढ़ सकता है. तुअर दाल डायबिटीज और हार्ट रोगियों के लिए अच्छी है.

टेस्ट और हेल्‍थ के लिए चटनी, बनाने में आसान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.